दैनिक भास्कर हिंदी: ISI जासूसी कांड: हनीट्रैप में फंसे निशांत की 2 महीने पहले हुई थी शादी

October 9th, 2018

हाईलाइट

  • निशांत को दो लड़कियों के फर्जी फेसबुक अकाउंट के जरिए हनीट्रैप किया गया है
  • दोनों ही खातों का आईपी (Internet protocol) पाकिस्तान का है
  • निशांत को पूछताछ के लिए फिलहाल लखनऊ लाया गया है

डिजिटल डेस्क, नागपुर। ब्रह्मोस मिशन से  जुड़ी गुप्त सूचनाएं ISI (Inter-Services Intelligence) को मुहैया कराने के आरोपी निशांत अग्रवाल की 2 महीने पहले ही शादी हुई थी। निशांत को दो लड़कियों के फर्जी फेसबुक अकाउंट के जरिए हनीट्रैप किया गया है। दोनों ही खातों का आईपी (Internet protocol) पाकिस्तान का है और दोनों ही फर्जी हैं। इन खातों से महत्वपूर्ण जगहों पर बैठे और भी लोगों से संपर्क किया गया है, जिसकी जांच की जा रही है। यूपी एटीएस ने निशांत को नागपुर के सेशन कोर्टम में पेश किया था, जहां से उसे तीन दिन की रिमांड पर भेज दिया गया है।


इन फर्जी आईडी के बारे में पता चलने पर जांच एजेंसियों ने खोजबीन शुरू की तो निशांत अग्रवाल के बारे में जानकारी मिली। निशांत के अकाउंट की गहन जांच करने पर कई दस्तावेज हाथ लगे। एटीएस ये जानने की कोशिश कर रही है कि निशांत अब तक कितने दस्तावेज पाकिस्तान भेज चुका है।

 

 

खबरें और भी हैं...