comScore

सबसे ज्यादा संक्रमित राज्यों से चर्चा: पीएम बोले- जब तक एच्छित परिणाम नहीं मिलते, तब तक मास्क को दैनिक जीवन का हिस्सा बनाएं

सबसे ज्यादा संक्रमित राज्यों से चर्चा: पीएम बोले- जब तक एच्छित परिणाम नहीं मिलते, तब तक मास्क को दैनिक जीवन का हिस्सा बनाएं

हाईलाइट

  • अब तक देश में 56 लाख से भी ज्यादा लोग संक्रमित हो चुके हैं

डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली। देश में कोरोना वायरस का प्रकोप बढ़ता ही जा रहा है। अब तक यहां 56 लाख से भी ज्यादा लोग संक्रमित हो चुके हैं। ऐसे में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी सबसे ज्यादा संक्रमित 7 राज्यों के हाल जानने के लिए उनके मुख्यमंत्रियों के साथ वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए बैठक की। बैठक में उन्होंने इन राज्यों में कोरोना महामारी से निपटने की रणनीति और प्रबंधन की जानकारी ली। बैठक में महाराष्ट्र, आंध्र प्रदेश, कर्नाटक, उत्तर प्रदेश, तमिलनाडु, दिल्ली और पंजाब के मुख्यमंत्री शामिल हुए।

बैठक के बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि कोरोना काल में देश ने जो संयम, संवेदना और संवाद का प्रदर्शन दिखाया है, वह हमें आगे भी जारी रखना है। संक्रमण के खिलाफ लड़ाई के साथ आर्थिक मोर्चे पर भी पूरी ताकत के साथ आगे बढ़ना है। उन्होंने कहा कि मास्क पहनने को आदत बनाना मुश्किल है, लेकिन हमें तब तक इच्छित परिणाम नहीं मिल पाएंगे जब तक हम इसे अपने दैनिक जीवन का हिस्सा नहीं बना लेते हैं।

जिला या ब्लॉक स्तर पर लोगों से बात करें राज्य
बैठक में प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि देश में 700 से ज्यादा जिले हैं लेकिन सात राज्यों के केवल 60 जिले चिंता का विषय हैं। मैं मुख्यमंत्रियों को सुझाव देता हूं कि सात दिन का एक कार्यक्रम बनाएं और प्रतिदिन एक घंटा दें। वर्चुअल तरीके से हर दिन एक जिले के एक से दो ब्लॉक के लोगों से सीधे बात करें। हमें सबसे बेहतर तरीके सीखने की जरूरत है।

देश में स्वास्थ सेवाओं को मजबूत किया जाएगा
प्रधानमंत्री मोदी ने बैठक में कहा कि बीते महीनों में कोरोना इलाज से जुड़ी जिन सुविधाओं का विकास किया गया है, उनसे हमें कोरोना से मुकाबला करने में बहुत मदद मिल रही है। उन्होंने कहा कि अब हमें कोरोना से जुड़े इंफ्रास्ट्रक्चर को तो मजबूत करना ही है, जो हमारा हेल्थ से, ट्रैकिंग-ट्रेसिंग से जुड़ा नेटवर्क है, उनकी बेहतर ट्रेनिंग भी करनी है।

पंजाब CM बोले- आपूर्ति सुनिश्चित करने के लिए उठाएं कदम
पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने पीएम मोदी से अनुरोध किया कि अन्य राज्यों से पर्याप्त आपूर्ति सुनिश्चित करने के लिए तत्काल कदम उठाए जाएं।उन्होंने जल्द से जल्द 200 करोड़ रुपये जारी करने की मांग की, जिसका अनुरोध राज्य ने कोविड प्रबंधन के लिए केंद्रीय सहायता की अगली किस्त के रूप में दिए जाने का अनुरोध किया था।

7 राज्यों में तेजी से बढ़े हैं कोरोना के मामले
बता दें कि केंद्र सरकार अपने आधिकारिक बयान चुकी है कि देश में कोरोना के कुल मामलों का 65.5 फीसदी और कुल मृत्यु के 77 फीसदी मामले भी इन्हीं राज्यों से है। बयान के मुताबिक अन्य 5 राज्यों के साथ-साथ पंजाब और दिल्ली में हाल ही में कुल मामलों की संख्या में काफी तेज वृद्धि दर्ज की गई है। महाराष्ट्र, पंजाब और दिल्ली में मृतकों की संख्या भी काफी बढ़ी है। इन राज्यों में मृत्यु दर 2 प्रतिशत से अधिक है, जो कि मृत्यु दर का उच्च औसत है। पंजाब और उत्तर प्रदेश के अलावा उनकी संक्रमण की पुष्टि दर राष्ट्रीय औसत 8.52 प्रतिशत से अधिक है। कोविड-19 के 63 फीसदी उपचाराधीन मरीज इन सात राज्यों में हैं।
 

कमेंट करें
DSY4O
NEXT STORY

Real Estate: खरीदना चाहते हैं अपने सपनों का घर तो रखे इन बातों का ध्यान, भास्कर प्रॉपर्टी करेगा मदद

Real Estate: खरीदना चाहते हैं अपने सपनों का घर तो रखे इन बातों का ध्यान, भास्कर प्रॉपर्टी करेगा मदद

डिजिटल डेस्क, जबलपुर। किसी के लिए भी प्रॉपर्टी खरीदना जीवन के महत्वपूर्ण कामों में से एक होता है। आप सारी जमा पूंजी और कर्ज लेकर अपने सपनों के घर को खरीदते हैं। इसलिए यह जरूरी है कि इसमें इतनी ही सावधानी बरती जाय जिससे कि आपकी मेहनत की कमाई को कोई चट ना कर सके। प्रॉपर्टी की कोई भी डील करने से पहले पूरा रिसर्च वर्क होना चाहिए। हर कागजात को सावधानी से चेक करने के बाद ही डील पर आगे बढ़ना चाहिए। हालांकि कई बार हमें मालूम नहीं होता कि सही और सटीक जानकारी कहा से मिलेगी। इसमें bhaskarproperty.com आपकी मदद कर सकता  है। 

जानिए भास्कर प्रॉपर्टी के बारे में:
भास्कर प्रॉपर्टी ऑनलाइन रियल एस्टेट स्पेस में तेजी से आगे बढ़ने वाली कंपनी हैं, जो आपके सपनों के घर की तलाश को आसान बनाती है। एक बेहतर अनुभव देने और आपको फर्जी लिस्टिंग और अंतहीन साइट विजिट से मुक्त कराने के मकसद से ही इस प्लेटफॉर्म को डेवलप किया गया है। हमारी बेहतरीन टीम की रिसर्च और मेहनत से हमने कई सारे प्रॉपर्टी से जुड़े रिकॉर्ड को इकट्ठा किया है। आपकी सुविधाओं को ध्यान में रखकर बनाए गए इस प्लेटफॉर्म से आपके समय की भी बचत होगी। यहां आपको सभी रेंज की प्रॉपर्टी लिस्टिंग मिलेगी, खास तौर पर जबलपुर की प्रॉपर्टीज से जुड़ी लिस्टिंग्स। ऐसे में अगर आप जबलपुर में प्रॉपर्टी खरीदने का प्लान बना रहे हैं और सही और सटीक जानकारी चाहते हैं तो भास्कर प्रॉपर्टी की वेबसाइट पर विजिट कर सकते हैं।

ध्यान रखें की प्रॉपर्टी RERA अप्रूव्ड हो 
कोई भी प्रॉपर्टी खरीदने से पहले इस बात का ध्यान रखे कि वो भारतीय रियल एस्टेट इंडस्ट्री के रेगुलेटर RERA से अप्रूव्ड हो। रियल एस्टेट रेगुलेशन एंड डेवेलपमेंट एक्ट, 2016 (RERA) को भारतीय संसद ने पास किया था। RERA का मकसद प्रॉपर्टी खरीदारों के हितों की रक्षा करना और रियल एस्टेट सेक्टर में निवेश को बढ़ावा देना है। राज्य सभा ने RERA को 10 मार्च और लोकसभा ने 15 मार्च, 2016 को किया था। 1 मई, 2016 को यह लागू हो गया। 92 में से 59 सेक्शंस 1 मई, 2016 और बाकी 1 मई, 2017 को अस्तित्व में आए। 6 महीने के भीतर केंद्र व राज्य सरकारों को अपने नियमों को केंद्रीय कानून के तहत नोटिफाई करना था।