comScore

भारत-चीन तनाव: राहुल गांधी के बयान पर भाजपा-कांग्रेस में तकरार, मप्र में भी गर्माई सियासत

भारत-चीन तनाव: राहुल गांधी के बयान पर भाजपा-कांग्रेस में तकरार, मप्र में भी गर्माई सियासत

हाईलाइट

  • राहुल गांधी के बयान पर भाजपा-कांग्रेस में तकरार

डिजिटल डेस्क, भोपाल। भारत-चीन की सीमा पर चल रहे तनाव को लेकर कांग्रेस सांसद राहुल गांधी द्वारा दिए गए बयान पर भाजपा और कांग्रेस के बीच तकरार हो रही है। मध्य प्रदेश की सियासत में भी गर्माहट आ गई है और दोनों एक दूसरे पर तल्ख हमले कर रहे हैं। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान व प्रदेशाध्यक्ष विष्णु दत्त शर्मा ने गांधी के बयान को सेना की वीरता पर सवाल उठाने वाला बताया है तो जवाब में कांग्रेस के पूर्व प्रदेशाध्यक्ष अरुण यादव ने गांधी के बयान को जनता की आवाज बताया।

कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने कहा है, चीनी आक्रमण के खिलाफ हम एकजुट खड़े हैं। साथ ही उन्होंने सवाल उठाया है कि क्या भारतीय जमीन पर चीन ने कब्जा किया है? कांग्रेस नेता के इस बयान पर हमला बोलेते हुए यहां मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा, शर्म आती है कि भारत में हमारे बीच राहुल गांधी जैसे नेता हैं, जिनकी दिनचर्या में सेना की वीरता पर सवाल उठाना शामिल है। ऐसे समय जब हम सभी को दलगत राजनीति को किनारे रखकर एकजुटता दिखानी चाहिए, वे देश के प्रधानमंत्री पर शाब्दिक हमले करते हैं। ऐसे लोग नेता कहलाने लायक ही नहीं हैं।

भाजपा के प्रदेशाध्यक्ष शार्मा ने राहुल गांधी पर हमला बोलते हुए कहा, सरेंडर का इतिहास तो राहुल गांधी आपका, आपके परिवार और पार्टी का है। नरेंद्र मोदी ने उसे जवाब देने का काम किया है जिसने हमारे देश की तरफ आंख उठाई है। उसके देश में घुसकर जवाब दिया है। राहुल गांधी ने इस तरह का बयान देकर देश की सेना और करोड़ों लोगों की भावना का अपमान करने का काम किया है।

वहीं कांग्रेस के पूर्व प्रदेशाध्यक्ष व पूर्व केंद्रीय मंत्री अरुण यादव ने राहुल गांधी के बयान का सही ठहराते हुए कहा, सच्चाई बहुत कड़वी होती है शिवराज सिंह चौहान, राहुल गांधी की बातों का इतना ही बुरा लग रहा है तो थोड़ा कुछ प्रधानमंत्री मोदी को भी ज्ञान दे दीजिए क्योंकि आज देश मे जो परिस्थितियां निर्मित हो रही है वह किसी से छिपी नही है, राहुल गांधी देश के आमजनों की आवाज को बुलंद कर रहे हैं उसे सच्चे मन से स्वीकार कीजिए।

कमेंट करें
LCyE5