दैनिक भास्कर हिंदी: राफेल जेट सौदे को लेकर लीक हुए इस ऑडियो पर मचा है संग्राम... सुनिए यहां

January 3rd, 2019

हाईलाइट

  • राफेल जेट सौदे को लेकर एक ऑडियो रिकॉर्डिंग ने कांग्रेस को केंद्र सरकार पर हमलावर होने का मौका दे दिया है।
  • इस ऑडियो रिकॉर्डिंग में गोवा के स्वास्थ्य मंत्री विश्वजीत पी. राणे और एक अज्ञात व्यक्ति के बीच फोन पर की गई बातचीत है।
  • रिकॉर्डिंग में दावा किया गया है कि राफेल विमान सौदे से जुड़ी सभी फाइलें मनोहर पर्रिकर के घर पर रखी हैं।

डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली। राफेल जेट सौदे को लेकर लीक हुई एक ऑडियो रिकॉर्डिंग ने कांग्रेस को एक बार फिर केंद्र सरकार पर हमलावर होने का मौका दे दिया है। इस ऑडियो टेप में गोवा के स्वास्थ्य मंत्री विश्वजीत पी. राणे और एक अज्ञात व्यक्ति के बीच फोन पर की गई बातचीत है। ऑडियो में दोनों राफेल जेट सौदे को लेकर बात करते सुनाई दे रहे हैं। टेप में दावा किया गया है कि राफेल विमान सौदे से जुड़ी सभी फाइलें मनोहर पर्रिकर के घर पर रखी हैं। कांग्रेस ने इस ऑडियो को अपने ट्विटर हैंडल पर भी शेयर किया है। पढ़िए इस टेप क्या कहा गया है...

मिस्टर एक्स : गुड ईवनिंग सर

विश्वजीत राणे : बॉस गुड ईवनिंग। मैंने आज फ़ोन किया था.. 3 घंटे की कैबिनेट मीटिंग थी।

मिस्टर एक्स : ठीक है

विश्वजीत राणे : इसे गोपनीय रखें...

मिस्टर एक्स : हां... हां...

विश्वजीत राणे : काफ़ी झगड़ा था... आप जातने हैं.. काफ़ी झगड़ा था.. नीलेश कैबरल ने अपने निर्वाचन क्षेत्र से अधिकांश इंजीनियरों की भर्ती कर डाली, इसलिए हर कोई, जयेश सलगांवकर को लिस्ट मिल गई और उन्होंने उसको दिखाई। हर कोई उससे लड़ रहा था और हर कोई परेशान था, क्योंकि भर्ती के मोर्चे पर कोई काम नहीं हो रहा है।

मिस्टर एक्स : ठीक है

विश्वजीत राणे : बापू अजगांवकर सुदीन धवलीकर से लड़ रहे थे, क्योंकि उनका काम नहीं हो रहा था। इसके अलावा मुख्यमंत्री ने एक दिलचस्प बयान दिया कि राफेल की सारी जानकारी मेरे बेडरूम में मेरे पास है।

मिस्टर एक्स : आप क्या कह रहे हैं?

विश्वजीत राणे : मैं आपको बता रहा हूं...

मिस्टर एक्स : हे भगवान!

विश्वजीत राणे : वास्तव में आपको इस पर स्टोरी करनी चाहिए और आप मंत्रिमंडल के किसी ऐसे व्यक्ति से, जो आपका नज़दीकी हो, इस बात को चेक करा सकते हैं।

अज्ञात शख्स : ठीक है

विश्वजीत राणे : क्योंकि ये बात है, आप जानते हैं.. उन्होंने जो कहा.. कुछ न कुछ है... इसका मतलब है कि वो उनको बंधक बना रहे हैं।

मिस्टर एक्स : क़सम से ...

विश्वजीत राणे : उन्होंने कहा कि मेरे बेडरूम में है... यहां ​फ्लैट में... राफेल का एक-एक दस्तावेज़ मेरे पास है। अब या तो वो चाहते हैं कि कोई दिल्ली जाये और उनको बताये या कुछ और.. ये पता नहीं... मुझे समझ नहीं आया...

मिस्टर एक्स : हे भगवान

विश्वजीत राणे : मैंने ये बात सिर्फ़ आपको बताई है...

मिस्टर एक्स : और आप जानते हैं कि 3 घंटे की कैबिनेट मीटिंग का कोई मतलब नहीं था या फिर वहां कोई और बात थी...

विश्वजीत राणे : कुछ भी नहीं... ये दिशाहीन थी... समय की बर्बादी थी...

मिस्टर एक्स : सर मुझे बताइए.. ये आदमी अचानक विधानसभा सत्र में इतनी दिलचस्पी क्यों दिखाने लगा... कि.. हमारे विधानसभा अध्यक्ष..?

विश्वजीत राणे : क्योंकि, उनको लगता है कि आरएसएस उन्हें मुख्यमंत्री बनाने के लिए मदद करेगा

मिस्टर एक्स :आह अच्छा, अच्छा... वो अपने ही चक्कर में है..

विश्वजीत राणे : वो अपने ही चक्कर में है। किसी ने कहा है कि सुदीन का मामला बिल्कुल साफ़ है कि वो समर्थन नहीं कर रहा है। उन्होंने कहा है कि विजय का मामला बिल्कुल साफ़ है कि वो समर्थन नहीं कर रहा है।

विश्वजीत राणे : हे भगवान

विश्वजीत राणे : लेकिन हमें एक बार मिलने की ज़रूरत है... क्योंकि, आपको दिल्ली में कुछ बातों को पहुंचाने की ज़रूरत है... इस पूरे मामले का नतीजा क्या होगा...

मिस्टर एक्स : सर आप मुझे बताएं.. ना सर... जब भी आप मुझे कहेंगे.. मैं पहुंच जाऊंगा...

विश्वजीत राणे : मैं आपको बस संक्षेप में बताऊंगा.. क्योंकि ये केवल उसी दिशा में जाएगा.. मेरा रुख़ बिल्कुल स्पष्ट है।

मिस्टर एक्स : तो सर आप मुझे बताइए... जब भी आप मुझे बुलाना चाहेंगे... मैं वहां पहुंच जाऊंगा।

विश्वजीत राणे : ठीक है... बाय...  

 

 

खबरें और भी हैं...