comScore

उत्‍तराखंड में कैम्पटी फॉल में जल सैलाब, तेज बारिश से दिल्ली की थमी रफ्तार

July 27th, 2018 13:33 IST

हाईलाइट

  • देश भर में कई राज्यों में तेज बारिश से जनजीवन बेहाल है।
  • उत्‍तराखंड के मसूरी स्थित कैंप्‍टी फॉल में भारी बारिश के कारण पानी का बहाव बेहद तेज हो गया है।
  • दिल्ली-एनसीआर के कई इलाके भारी बारिश की चपेट में, सड़कों पर जाम लगने से लोग परेशान।
  • यमुना का जल स्तर आज खतरे के निशान को छू सकता है।

डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली। देश भर में तेज बारिश से जनजीवन बेहाल हो रहा है। कई राज्यों में तो भारी बारिश के कारण पानी का बहाव बेहद तेज होने से इमारतें और दुकानें जलमग्न हो गई है। उत्‍तराखंड के कई इलाकों में लगातार बारिश हो रही है। बुधवार रातभर हुई भारी बारिश के बाद गुरुवार सुबह मसूरी के चारों ओर से सड़कें बंद होने की सूचनाएं आने लगीं। देर रात करीब 12.30 बजे किंग क्रेग के नीचे भूस्खलन होने से मसूरी-देहरादून मार्ग बंद हो गया। इससे दोनों ओर वाहन सुबह तक फंसे रहे। उत्‍तराखंड में भारी बारिश से नदियों का जलस्‍तर भी बढ़ा हुआ है। यहां मसूरी स्थित कैंप्‍टी फॉल में भारी बारिश के कारण पानी का बहाव बेहद तेज हो गया है। जिसके कारण आसपास की इमारतें और दुकानें पानी में डूब गई हैं। पानी का बहाव बेहद होने से कैंप्‍टी फॉल के आसपास किसी के भी जाने पर रोक लगा दी गई है। 

उत्‍तराखंड में यमुनोत्री राष्‍ट्रीय राजमार्ग पिछले छह दिनों से बंद है। ओजरी डाबर क्षेत्र में लगातार पहाड़ों में भूस्खलन हो रहा है। गुरुवार सुबह से हो रही तेज बारिश से दिल्ली-एनसीआर में लोगों के लिए परेशानियों को सबब बनती जा रही है। यमुना का जल स्तर खतरे के निशान को छू सकता है। यमुना का जलस्‍तर 1058.550 मीटर पर है। बाढ़ एवं सिंचाई विभाग का कहना है कि पानी को दिल्ली तक पहुंचने में 48 घंटे लगते हैं, ऐसे में विभाग पूरी तरह अलर्ट है। 
 

दिल्ली-एनसीआर में शुक्रवार सुबह से लगातार बारिश हो रही है।  जिसका असर कई इलाकों में देखने को मिल रहा है। 

दिल्ली के जाकिर हुसैन कॉलेज और रामलीला मैदान इलाके भी भारी बारिश के चपेट में है। 

शुक्रवार को हरियाणा ने हथिनी कुंड बैराज से 1.41 लाख क्यूसेक पानी छोड़ा गया है।  जिससे मुना का जल स्तर खतरे के निशान को छू सकता है। इससे दिल्ली के निचले इलाकों में पानी भरने की आशंका बढ़ गई है। दिल्ली सरकार ने डिजास्टर मैनेजमेंट के अधिकारियों को अलर्ट पर रखा है। 

सड़कों पर जगह-जगह पानी भरने से लोगों को सड़क पर जाम का सामना करना पड़ा रहा है। दिल्ली ट्रैफिक पुलिस ने जाम के मद्देनजर वैकल्पिक रास्ता चुनने की सलाह दी है।


बारिश सबसे ज्यादा असर गाजियाबाद में देखने को मिला है। यहां जीटी रोड स्थित शहीदनगर में गुरुवार शाम 3 मंजिला इमारत गिरने से 4 भाई-बहन घायल हो गए। वहीं एक व्यक्ति की बेटी की करंट लगने उसकी मौत हो गई। यहां हुए हादसों में तीन लोगों की मौत हो गई। इसके अलावा ग्रेटर नोएडा के शाहबेरी में के लोग बारिश के वजह से दहशत में हैं। हाल में यहां एक 6 मंजिला इमारत गिरने से 9 लोगों को मौत हो गई थी। 

Image result for दिल्ली : शहीद नगर में गुरुवार शाम 3 मंजिला इमारत गिरने

कमेंट करें
4QZp2