comScore

Coronavirus: देश में कम हुई कोरोना की रफ्तार, 24 घंटे में मिले 2.81 लाख केस, 4,106 मरीजों ने तोड़ा दम

Coronavirus: देश में कम हुई कोरोना की रफ्तार, 24 घंटे में मिले 2.81 लाख केस, 4,106 मरीजों ने तोड़ा दम

हाईलाइट

  • देश में धीमी पड़ी कोरोनावायरस की रफ्तार
  • 24 घंटे में मिले 2.81 लाख कोरोनावायरस केस
  • कोरोना वायरस से 4,106 मरीजों ने तोड़ा दम

डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली। भारत में कोरोनावायरस संक्रमण के नए केस में बीते कुछ दिन से लगातार कमी दर्ज की जा रही है। लेकिन मरने वालों का आंकड़ा बढ़ रहा है। केन्द्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय की रिपोर्ट के मुताबिक पिछले 24 घंटे में देश में 2 लाख 81 हजार 386 नए कोरोना मरीज मिले हैं। जबकि 4 हजार 106 लोगों की मौत हुई है। इस दौरान 3 लाख 78 हजार 741 मरीज इस महामारी से ठीक भी हुए हैं। फिलहाल 35 लाख 16 हजार 997 लोगों का इलाज देश की अलग-अलग अस्पतालों में किया जा रहा है। 

देश में अब तक इस महामारी से 2 करोड़ 49 लाख 65 हजार 463 लोग संक्रमित हो चुके हैं। इनमें से 2 करोड़ 11 लाख 74 हजार 76 मरीजों की जान बचा ली गई है। कोरोना संक्रमण से देश में 2 लाख 74 हजार  390 लोगों ने अपनी जान गंवा दी। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने रविवार को बताया कि देश में कोविड-19 के एक्टिव मरीजों की संख्या घटी है। साथ ही कोरोना संक्रमण की दर भी 16.98 प्रतिशत हो गई है। देश में एक्टिव मरीजों की संख्या संक्रमण के कुल मामलों का 14.66 प्रतिशत है। मंत्रालय ने बताया कि 74.69 प्रतिशत एक्टिव केस 10 राज्यों में हैं।

देश में कोरोनावायरस की स्थिति 

  • बीते 24 घंटे में आए कुल नए केस-  2,81,386
  • बीते 24 घंटे में कुल ठीक हुए  - 3,78,741
  • पिछले 24 घंटे में हुई कुल मौतें- 4,106
  • देश में कोरोना संक्रमितों का कुल आंकड़ा- 2,49,65,463
  • देश में अब तक ठीक हुए मरीजों की संख्या- 2,11,74,076
  • देश में कोरोना से मरने वालों का कुल आंकड़ा- 2,74,390 
  • भारत में कोरोना के अब कुल एक्टिव केस- 35,16,997
  • कुल वैक्सीनेशन - 18,29,26,460

केन्द्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय द्वारा जारी किए आंकड़े

S. No.Name of State / UTActive Cases*Cured/Discharged/Migrated*Deaths**
TotalChange since yesterdayCumulativeChange since yesterdayCumulativeChange since yesterday
1Andaman and Nicobar Islands23216 628316 88
2Andhra Pradesh2104362969 121568321101 9372101 
3Arunachal Pradesh226019461168 81
4Assam44724631 2817264225 217956 
5Bihar750907397 57298714202 383289 
6Chandigarh7644203 47088857 63510 
7Chhattisgarh1035936808 79715011552 11734144 
8Dadra and Nagar Haveli and Daman and Diu80166 8745169 4 
9Delhi627833512 13095789706 21506262 
10Goa282522522 1055053793 209943 
11Gujarat1049086355 63859014483 912182 
12Haryana900665880 59767614856 6685139 
13Himachal Pradesh369092666 1210074974 232470 
14Jammu and Kashmir51623148 1898363934 314959 
15Jharkhand365404846 2744837119 447948 
16Karnataka6001685347 158145736475 21837403 
17Kerala4410114681 170052834296 642889 
18Ladakh154614741122 165 
19Lakshadweep112030 3633146 14
20Madhya Pradesh946525318 62974112345 699279 
21Maharashtra47059525903 482637159318 81486974 
22Manipur6477262 32674399 57816 
23Meghalaya4534196 18478354 32019 
24Mizoram211741 6687189 25
25Nagaland4100115 13767113 20913 
26Odisha95379364 51453212077 231319 
27Puducherry17666438 656891491 115132 
28Punjab754782311 4103329059 11895202 
29Rajasthan19438214316 65851024440 6777156 
30Sikkim309686 8109252 205
31Tamil Nadu21934211553 136120421317 17670311 
32Telangana509692103 4748995892 295527 
33Tripura489431 35816294 44110 
34Uttarakhand788021198 2036735057 4811188 
35Uttar Pradesh16300314640 143909624837 17546308 
36West Bengal131805143 98834119113 13284147 
Total#3516997101461 21174076378741 2743904106 
*(Including foreign Nationals)
**( more than 70% cases due to comorbidities )
#States wise distribution is subject to further verification and reconciliation
#Our figures are being reconciled with ICMR
कमेंट करें
cDmZN
NEXT STORY

छत्तीसगढ़ में नक्सलवाद का खात्मा ठोस रणनीति से संभव - अभय तिवारी

छत्तीसगढ़ में नक्सलवाद का खात्मा ठोस रणनीति से संभव - अभय तिवारी

डिजिटल डेस्क, भोपाल। 21वीं सदी में भारत की राजनीति में तेजी से बदल रही हैं। देश की राजनीति में युवाओं की बढ़ती रूचि और अपनी मौलिक प्रतिभा से कई आमूलचूल परिवर्तन देखने को मिल रहे हैं। बदलते और सशक्त होते भारत के लिए यह राजनीतिक बदलाव बेहद महत्वपूर्ण साबित होगा ऐसी उम्मीद हैं।

अलबत्ता हमारी खबरों की दुनिया लगातार कई चहरों से निरंतर संवाद करती हैं। जो सियासत में तरह तरह से काम करते हैं। उनको सार्वजनिक जीवन में हमेशा कसौटी पर कसने की कोशिश में मीडिया रहती हैं।

आज हम बात करने वाले हैं मध्यप्रदेश युवा कांग्रेस (सोशल मीडिया) प्रभारी व राष्ट्रीय समन्वयक, भारतीय युवा कांग्रेस अभय तिवारी से जो अपने गृह राज्य छत्तीसगढ़ से जुड़े मुद्दों पर बेबाकी से अपनी राय रखते हैं और छत्तीसगढ़ को बेहतर बनाने के प्रयास के लिए लामबंद हैं।

जैसे क्रिकेट की दुनिया में जो खिलाड़ी बॉलिंग फील्डिंग और बल्लेबाजी में बेहतर होता हैं। उसे ऑलराउंडर कहते हैं अभय तिवारी भी युवा तुर्क होने के साथ साथ अपने संगठन व राजनीती  के ऑल राउंडर हैं। अब आप यूं समझिए कि अभय तिवारी देश और प्रदेश के हर उस मुद्दे प्रत्यक्ष और अप्रत्यक्ष रूप से लगातार अपना योगदान देते हैं। जिससे प्रदेश और देश में सकारात्मक बदलाव और विकास हो सके।

छत्तीसगढ़ में नक्सल समस्या बहुत पुरानी है. लाल आतंक को खत्म करने के लिए लगातार कोशिशें की जा रही है. बावजूद इसके नक्सल समस्या बरकरार है।  यह भी देखने आया की पूर्व की सरकार की कोशिशों से नक्सलवाद नहीं ख़त्म हुआ परन्तु कांग्रेस पार्टी की भूपेश सरकार के कदम का समर्थन करते हुए भारतीय युवा कांग्रेस के राष्ट्रीय कोऑर्डिनेटर अभय तिवारी ने विश्वास जताया है कि कांग्रेस पार्टी की सरकार एक संवेदनशील सरकार है जो लड़ाई में नहीं विश्वास जीतने में भरोसा करती है।  श्री तिवारी ने आगे कहा कि जितने हमारे फोर्स हैं, उसके 10 प्रतिशत से भी कम नक्सली हैं. उनसे लड़ लेना कोई बड़ी बात नहीं है, लेकिन विश्वास जीतना बहुत कठिन है. हम लोगों ने 2 साल में बहुत विश्वास जीता है और मुख्यमंत्री के दावों पर विश्वास जताया है कि नक्सलवाद को यही सरकार खत्म कर सकती है।  

बरहाल अभय तिवारी छत्तीसगढ़ मुख्यमंत्री बघेल के नक्सलवाद के खात्मे और छत्तीसगढ़ के विकास के संबंध में चलाई जा रही योजनाओं को जन-जन तक पहुंचाने के लिए निरंतर काम कर रहे हैं. ज्ञात हो कि छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री ने यह कई बार कहा है कि अगर हथियार छोड़ते हैं नक्सली तो किसी भी मंच पर बातचीत के लिए तैयार है सरकार। वहीं अभय तिवारी  सर्कार के समर्थन में कहा कि नक्सली भारत के संविधान पर विश्वास करें और हथियार छोड़कर संवैधानिक तरीके से बात करें।  कांग्रेस सरकार संवेदनशीलता का परिचय देते हुए हर संभव नक्सलियों को सामाजिक  देने का प्रयास करेगी।  

बीते 6 महीने से ज्यादा लंबे चल रहे किसान आंदोलन में भी प्रत्यक्ष और अप्रत्यक्ष रूप से अभय तिवारी की खासी महत्वपूर्ण भूमिका हैं। युवा कांग्रेस के बैनर तले वे लगातार किसानों की मदद के लिए लगे हुए हैं। वहीं मौजूदा वक्त में कोरोना की दूसरी लहर के बाद बिगड़ी स्थितियों में मरीजों को ऑक्सीजन और जरूरी दवाऐं निशुल्क उपलब्ध करवाने से लेकर जरूरतमंद लोगों को राशन की व्यवस्था करना। राजनीति से इतर बेहद जरूरी और मानव जीवन की रक्षा के लिए प्रयासरत हैं।

बहरहाल उम्मीद है कि देश जल्दी करोना से मुक्त होगा और छत्तीसगढ़ जैसा राज्य नक्सलवाद को जड़ से उखाड़ देगा। देश के बाकी संपन्न और विकासशील राज्यों की सूची में जल्द शामिल होगा। लेकिन ऐसा तभी संभव होगा जब अभय तिवारी जैसे युवा और विजनरी नेता निरंतर रणनीति के साथ काम करेंगे तो जल्द ही छत्तीसगढ़ भी देश के संपन्न राज्यों की सूची में शामिल होगा।