दैनिक भास्कर हिंदी: कोविड-19: दिल्ली में बनेंगे 1000 से अधिक कोरोना वैक्सीन सेंटर

January 1st, 2021

हाईलाइट

  • दिल्ली में पॉजिटिविटी दर भी गिर कर मात्र 0.8 प्रतिशत रह गई
  • फिलहाल अस्पतालों में 85 प्रतिशत से भी ज्यादा कोविड के लिए सुरक्षित बेड खाली हैं

डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली। दिल्ली में कोरोना वैक्सीन रखने और टीकाकरण संबंधी सभी इंतजाम कर लिए गए हैं। राजधानी दिल्ली में 1000 से भी अधिक वैक्सीन सेंटर बनाने की तैयारी चल रही है। इतना ही नहीं, दिल्ली सरकार की मानें तो यह वैक्सीन सभी दिल्ली वालों को निशुल्क उपलब्ध कराई जाएगी। मुफ्त वैक्सीन देने संबंधी सवाल पर दिल्ली के स्वास्थ्य मंत्री ने सतेंद्र जैन ने कहा कि केंद्र सरकार ने पहले ही इस बात की घोषणा कर दी है कि वैक्सीन सबको मुफ्त दी जाएगी। हमारे पास इसके अतिरिक्त कोई सूचना अब तक नहीं आई है।

वहीं कोरोना के केस लगातार कम होने के बाद अब दिल्ली के एलएनजेपी और जीटीबी अस्पतालों को अन्य मरीजों के लिए भी उपलब्ध कराया जाएगा। इन अस्पतालों में ओपीडी सेवाएं भी फिर से शुरू की जाएंगी। पहले इन अस्पतालों को केवल कोरोना मरीजों के लिए आरक्षित कर दिया गया था। इन अस्पतालों में अब कोविड देखभाल केंद्रों को बंद करने की प्रक्रिया शुरू की जाएगी।

दिल्ली में पॉजिटिविटी दर भी गिर कर मात्र 0.8 प्रतिशत रह गई
दिल्ली के स्वास्थ्य मंत्री सतेंद्र जैन ने कहा है कि दिल्ली में कोरोना संक्रमण के नए मामलों में लगातार कमी आ रही है। दिल्ली में कल 85,000 से ज्यादा टेस्ट हुए, जिनमें मात्र 677 नए मामले सामने आए। अब दिल्ली में पॉजिटिविटी दर भी गिर कर मात्र 0.8 प्रतिशत रह गई है। इसका मतलब यह है कि अब दिल्ली में 1000 व्यक्ति में केवल 8 लोग कोरोना पॉजिटिव मिल रहे हैं। उन्होंने कहा कि दिल्ली के अस्पतालों में कोविड बेड की संख्या भी पर्याप्त है। फिलहाल अस्पतालों में 85 प्रतिशत से भी ज्यादा कोविड के लिए सुरक्षित बेड खाली हैं।

दिल्ली में 1000 से भी ज्यादा वैक्सीन सेंटर बनाने की तैयारी चल रही
स्वास्थ्य मंत्री सतेंद्र जैन ने कहा कि वैक्सीन को लेकर दिल्ली सरकार ने पूरी तैयारी कर ली है। कोरोना वैक्सीन रखने और टीकाकरण संबंधी सभी इंतजाम कर लिए गए हैं। अब सिर्फ वैक्सीन के आने का इंतजार है। दिल्ली में 1000 से भी ज्यादा वैक्सीन सेंटर बनाने की तैयारी चल रही है। कोरोना के नए स्वरूप पर स्वास्थ्य मंत्री ने कहा कि दिल्ली सरकार इसकी रोकथाम के लिए हर मुमकिन कोशिश कर रही है और हमें इससे घबराने की जरूरत नहीं है। उन्होंने बताया कि हाल ही में विदेश से लौटे यात्रियों में से एलएनजेपी अस्पताल में 38 यात्रियों की कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव आई है। उनमें से 4 मरीज नए स्ट्रेन से संक्रमित पाए गए हैं।

अब सभी अंतरराष्ट्रीय उड़ानों पर प्रतिबंध लगा दिया गया है और तब से कोई नया मामला सामने नहीं आया है। जैन ने कहा कि हमने उन चार व्यक्तियों के संपर्क में आए सभी लोगों की जांच कराई है और किसी में नए कोरोना स्ट्रेन के लक्षण नहीं मिले। दिल्ली में दिसंबर से पहले ही इस नए स्ट्रेन के आने के सवाल पर जैन ने कहा कि इस संबंध में विशेषज्ञों द्वारा आंकलन किया जा रहा है। दिल्ली में कोविड बायोवेस्ट के सवाल का जवाब देते हुए मंत्री ने कहा कि इसकी जिम्मेदारी एमसीडी की है।    

खबरें और भी हैं...