दैनिक भास्कर हिंदी: अटल बिहारी वाजपेयी को श्रद्धांजलि देने पहुंचे स्वामी अग्निवेश पर हुआ हमला    

September 8th, 2018

हाईलाइट

  • अटल जी को श्रद्धांजलि देने पहुंचे स्वामी अग्निवेश पर हमला
  • स्वामी अग्निवेश पर पहले भी हो चुका है हमला
  • अटल जी को अंतिम विदाई देने लाखों लोग पहुंचे

डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली। पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी पंच तत्व में विलीन हो गए हैं। अटल जी के अंतिम दर्शन के लिए भारी जनसैलाब उमड़ा। सामाजिक कार्यकर्ता स्वामी अग्निवेश भी अटल जी के अंतिम दर्शन के लिए पहुंचे थे, लेकिन भीड़ ने उन्हें वहां से वापस लौटा दिया। वहां मौजूद लोगों ने उनके साथ धक्का-मुक्की भी की। एक महीने में स्वामी अग्निवेश पर ये दूसरा हमला है। इससे पहले झारखंड में भाजपा युवा मोर्चा के कार्यकर्ताओं ने उन पर हमला कर दिया था।


 

स्वामी अग्निवेश ने कहा, "मैं वाजपेयी जी को श्रद्धांजलि देने के लिए बीजेपी कार्यालय जा रहा था, लेकिन मेरी कार को आईटीओ पर रोक दिया गया। लोगों ने मुझसे मारपीट शुरू कर दी, मेरी पगड़ी उतार कर फेंक दी गई। उन्होंने लात घूसों से मारा और अपशब्द कहे। वह चिल्ला रहे थे, ये गद्दार है इसे पीटो। अग्निवेश ने कहा, बीजेपी नेताओं को इस मामले को गंभीरता से लेना चाहिए। पुलिस इस घटना की चश्मदीद है। उन्हें खुद संज्ञान लेकर कार्रवाई करनी चाहिए।

इस घटना का सोशल मीडिया पर एक वीडियो भी वायरल हो रहा है, जिसमें भगवा वस्त्र पहने एक व्यक्ति पर कुछ लोग हमला कर रहे हैं। इसमें भगवा वस्त्र पहना व्यक्ति अपने आपको बचाने की कोशिश कर रहा है। महिलाएं उस व्यक्ति के पीछे चप्पल लेकर दौड़ती हुई भी दिखाई दे रही है। बता दें कि अटल जी के अंतिम दर्शन के लिए उनका पार्थीव शरीर बीजेपी कार्यालय में रखा गया था। यहीं पर अंतिम श्रद्धांजलि देने के लिए वह पहुंचे थे।   

इससे पहले झारखंड में भाजपा युवा मोर्चा के कार्यकर्ताओं ने अग्निवेश पर हमला कर दिया था।स्वामी अग्निवेश अखिल भारतीय आदिम जनजाति विकास समिति दामिन दिवस के 195वें वर्षगांठ पर आयोजित पहाड़िया समुदाय की  एक सभा को संबोधित करने वाले थे। होटल से निकलकर अग्निवेश कार की ओर बढ़ रहे थे, तभी बीजेपी कार्यकर्ता उन पर टूट पड़े। हमलावर इस दौरान नारे लगा रहे थे, "अग्निवेश वापस जाओ, अग्निवेश वापस जाओ। अगर तुम्हें भारत में रहना है तो वंदे मातरम् कहना होगा." भारतीय जनता युवा मोर्चा के कार्यकर्ताओं ने आरोप लगाया था कि अग्निवेश ईसाई मिशनरियों के कहने पर जनजातीय लोगों को उकसाने आए थे।

खबरें और भी हैं...