दैनिक भास्कर हिंदी: LIVE: फोनी से ओडिशा में 10 तो बांग्लादेश में 14 लोगों की मौत, बंगाल पहुंचा तूफान

May 4th, 2019

हाईलाइट

  • ओडिशा के बाद अब पश्चिम बंगाल से टकराया फोनी
  • तूफान फोनी को लेकर पूरे राज्य में हाई अलर्ट
  • 233 ट्रेनें रद्द, भुवनेश्वर-कोलकाता एयरपोर्ट भी बंद
  • मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने पश्चिम बंगाल में सभी चुनावी कार्यक्रम रद्द किए

डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली। ओडिशा में तबाही मचाने के बाद फोनी तूफान आज (शनिवार) पश्चिम बंगाल पहुंच गया है। राज्य के कई इलाकों में फिलहाल भारी बारिश हो रही है। मौसम विभाग ने सात जिलों में भारी बारिश का अलर्ट भी जारी किया है। कई इलाकों में 100 से 110 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से हवाएं चलने की संभावना जताई गई है। फोनी तूफान पश्चिम बंगाल के खड़गपुर पहुंच गया है। ये तूफान आरामबाग, पूर्वी बर्दमान, नाडिया और मुर्शिदाबाद होते हुए बांग्लादेश में घुसेगा। तूफान से बांग्लादेश में अब तक 14 लोगों की मौत हो चुकी है।

कोलकाता में तेज बारिश के चलते हवाई यात्राओं को रद्द कर दिया गया है। यात्रियों की सुरक्षा को ध्यान में रखते हुए हावडा-चेन्नई मार्ग पर करीब 220 ट्रेनें रद्द कर दी गई हैं। तूफान के चलते मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने पूर्वनियोजित अपनी सभी चुनावी रैलियों को रद्द कर दिया है और स्थिति पर नजर रख रही हैं। स्थानीय प्रशासन के साथ ही एनडीआरएफ की टीमें मुस्तैद है।पश्चिम बंगाल में सभी स्कूल-कॉलेजों की छुट्टी कर दी गई है।

गौरतलब है कि प्रचंड चक्रवाती तूफान 'फोनी' ने शुक्रवार को ओडिशा के तट पर दस्तक दी और तटीय इलाकों में जमकर तबाही मचाई। ओडिशा के पुरी और भुवनेश्वर समेत कई इलाकों में बिजली के खंभे और पेड़ उखड़ गए। कई इमारतें ढह गईं और चारों तरफ पानी भर गया है। इसके अलावा 10 लोगों की जान भी चली गई है, जबकि 160 से ज्यादा लोगों के घायल होने की खबर है। ओडिशा में तबाही मचाने के बाद अब इस जानलेवा तूफान ने पश्चिम बंगाल में दस्तक दी है। 

फोनी से ओडिशा में 8 लोगों की मौत हो गई है। इसके अलावा राज्य में कई जगह पेड़ और बिजली के खंभे गिर गए। संचार सेवाएं भी ठप है। राहत और बचाव कार्य जारी है। मौसम विभाग के मुताबिक फोनी की रफ्तार धीरे-धीरे कम होती जा रही है। पहले जहां पुरी में 245 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से हवाएं चल रही थीं तो अब हवा की रफ्तार 160 किमी प्रति घंटे हो गई है।

1999 में तूफान से प्रभावित हुए थे 2 करोड़ से ज्यादा लोग
हालांकि फोनी को ध्यान में रखते हुए प्रशासन पहले से ही मुस्तैद रहा। समुद्री किनारों से लोगों को हटा कर सुरक्षित जगहों पर पहुंचा दिया गया। ओडिशा के मुख्यमंत्री नवीन पटनायक खुद इसपर नजर बनाए हुए हैं। आंध्र प्रदेश से अब खतरा टल गया है। फोनी तूफान आंध्र प्रदेश से दूर चल गया है। फोनी के असर को देखने के लिए नेवी हवाई सर्वेक्षण करेगा। अब तक फोनी तूफान से ओडिशा के श्रीकाकुलम में 20 मकान ढह गए हैं।  बता दें कि ऐसा तूफान साल 1999 में आया था, जिसमें 10,000 जानें गई थी और 2 करोड़ से ज्यादा लोग प्रभावित हुए थे। 
 

LIVE UPDATE

  • आपदा प्रबंधन और राहत के राज्य मंत्री एनामुर रहमान ने कहा, फोनी के बांग्लादेश पहुंचने से पहले तटवर्ती क्षेत्रों से लगभग 404,225 लोगों को साइक्लोन शेल्टर में ले जाया गया है। 
  • कोलकाता से भारी वर्षा के दृश्य

 

  • आधिकारिक बयान में कहा गया हवाई सर्वेक्षण में पुरी के आसपास कई स्थानों पर व्यापक तबाही देखी गई। पुरी शहर की सीमाओं में बड़ी संख्या में पेड़ और बिजली के खंभे उखड़ गए। पुरी रेलवे स्टेशन की छत के ऊपर का हिस्सा उड़ा हुआ पाया गया। विशेष रूप से पुरी और चिल्का झील के बीच निचले इलाकों में बड़े पैमाने बाढ़ देखी गई। 
  • एएआई का लक्ष्य 4 मई को दोपहर 1 बजे से भुवनेश्वर हवाई अड्डे को फिर से खोलने का है। 
  • वरिष्ठ अधिकारियों ने कहा कि कम से कम आठ लोगों के मारे जाने की सूचना है। जबकि पुरी जिले में, भुवनेश्वर और आसपास के क्षेत्रों में तीन लोगों की मौत हो गई, जिसमें एक किशोर लड़का भी शामिल है।
  • रेलवे ने दिशानिर्देशों का एक सेट जारी किया और सभी मंडल रेल प्रबंधकों (डीआरएम) को एक पत्र में कहा कि सभी सरकारी संगठन प्रभावित राज्यों तक राहत सामग्री पहुंचाने की बुकिंग मुफ्त में बुक कर सकते हैं।
  • नौसेना डोर्नियर एयरक्राफ्ट ने पुरी का हवाई सर्वेक्षण किया।

 

 

  • ओडिशा और पश्चिम बंगाल में त्वरित तैनाती के लिए बागडोगरा और पूर्णिया में हेलीकॉप्टर तैयार रखे गए हैं: डिफेंस रिलीज
  • 6,400 मीटर (21,000 फीट) पर एवरेस्ट के कैंप 2 में लगभग 20 टेंट प्रभावित हुए है। एक्सपेडिशन ऑपरेटर्स एसोसिएशन के महासचिव ईश्वरी पौडेल ने कहा, 'बहुत तेज हवाओं ने पहाड़ से टेंट उड़ा दिया लेकिन किसी को चोट नहीं पहुंची।'
  • आंध्र प्रदेश के श्रीकाकुलम जिले के कुछ हिस्सों में चक्रवात 'फोनी' के कारण तेज बारिश हुई है।
  • मौसम विज्ञानियों ने चेतावनी देते हुए कहा है कि चक्रवात फोनी नेपाल में मौसम की स्थिति को बदल देगा और हिमालय में भारी वर्षा और बर्फबारी लाएगा।
  • आईओसी ने कि पश्चिम बंगाल और ओडिशा में बिना किसी रुकावट के ईंधन की आपूर्ति के लिए व्यवस्था की जा रही है।
  • नागरिक उड्डयन सचिव स्थिति की  निगरानी कर रहे हैं। DGCA एयरलाइनों को संशोधित परामर्श जारी करेगा जब आवश्यक होगा : सुरेश प्रभु
  • चुनाव आयोग ने फोनी के मद्देनजर बचाव और पुनर्वास कार्यों को सुविधाजनक बनाने के लिए आंध्र प्रदेश के चार जिलों में आदर्श आचार संहिता में ढील दी।
  • AIIMS दिल्ली ने घोषणा की कि वह भुवनेश्वर में परीक्षा केंद्र को कैंसिल कर रहा है, जहां रविवार को परीक्षा आयोजित की जानी थी।
  • नेशनल डिजास्टर रिस्पॉन्स फोर्स (NDRF),नौसेना, तटरक्षक बल, सेना और वायु सेना मास ऑपरेशन में तैनात किए गए हैं, केंद्र सरकार द्वारा बारीकी से इसकी निगरानी की जा रही है।
  • नेशनल इमरजेंसी रिस्पॉन्स सेंटर के अनुसार ओडिशा के पुरी जिले में बिजली और दूरसंचार लाइनें पूरी तरह से डाउन हैं और बहाली का काम जारी है।
  • 'फोनी' हुआ कमजोर, ओडिशा, एपी, बंगाल और पूर्वोत्तर में भारी बारिश की आशंका - गृह मंत्रालय 
  • फोनी के आधी रात के आसपास बंगाल में प्रवेश करने की उम्मीद है
  • चक्रवात फानी से प्रभावित राज्यों के लिए एडवांस में 1,000 करोड़ रुपये जारी: पीएम मोदी
  • केंद्र सरकार ओडिशा, पश्चिम बंगाल, आंध्र प्रदेश, तमिलनाडु और पुडुचेरी की सरकारों के साथ लगातार संपर्क में है : पीएम
  • न्यूज एजेंसी पीटीआई के मुताबिक फोनी से ओडिशा में तीन लोगों की मौत हो गई है। इसके अलावा राज्य में कई जगह पेड़ और बिजली के खंभे गिर गए। वहीं संचार सेवाएं भी ठप है। इस बीच राहत और बचाव कार्य जारी है।  
  • ओडिशा में तांडव मचाने के बाद फानी अब बंगाल की ओर बढ़ रहा है। कोलकाता मौसम विभाग के मुताबिक फोनी कोलकाता से 370 किमी की दूरी पर स्थित है। आज शाम तक उसके बंगाल के तट से टकराने की आशंका है।
  • ओडिशा में कई मवेशियों के मारे जानें की खबर
  • ओडिशा में जोरदार बारिश जारी, पश्चिम बंगाल में भी बदला मौसम
  • बंगाल के सभी सरकारी स्कूलों ने आज से गर्मियों की छुट्टियों की घोषणा कर दी है। फानी को ध्यान में रखते हुए गर्मियों की छुट्टियां पहले कर दी गई हैं।
  • कोलकाता एयरपोर्ट आज शाम 4 बजे से शनिवार सुबह 6 बजे तक बंद रहेगा।
  • फोनी तूफान के कारण ओडिशा के कई इलाकों में संचार सेवा भी ठप हो गई है। 
  • हैदराबाद के मौसम विभाग के मुताबिक पुरी में 245 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से हवा चल रही है। ओडिशा के तटीय इलाकों में तेज बारिश हो रही है।
  • ओडिशा तट से टकराने के बाद फोनी कमजोर होते हुए उत्तर पूर्व की बढ़ते हुए पश्चिम बंगाल पहुंचेगा। तब उसकी रफ्तार अधिकतम 115 किलोमीटर प्रति घंटा रह जाएगी।
  • राहत और बचाव के लिए ओडिशा, आंध्र प्रदेश, तमिलनाडु, अंडमान, झारखंड और केरल में NDRF की कई टीमें लगाई गई हैं। कई राज्यों की NDRF टीमों को अलर्ट पर रखा गया है।
  • कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने भी ट्वीट कर ओडिशा, आंध्र प्रदेश और पश्चिम बंगाल में पार्टी कार्यकर्ताओं से चक्रवात प्रभावितों की मदद करने को कहा है।
  • फोनी से ओडिशा के करीब 10 हजार गांव और 52 शहर प्रभावित होंगे।
  • स्कूल, कॉलेजों और सरकारी कार्यालयों को बंद कर दिया गया है।
  • कोलकाता एयरपोर्ट आज रात 9:30 बजे से शनिवार सुबह 8 बजे तक बंद रहेगा
  • ओडिशा के मुख्य सचिव आदित्य प्रसाद भुवनेश्वर में बैठक कर रहे हैं। वहीं पुरी में पेड़ गिरने से एक शख्स की मौत हो गई है।
  • मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने पश्चिम बंगाल में सभी चुनावी कार्यक्रम रद्द किए
  • पश्चिम बंगाल की ओर बढ़ रहा है तूफान फोनी
  • तूफान की रफ्तार पहुंची 245 किलोमीटर के पार 
  • पश्चिम बंगाल में भी अलर्ट जारी, रात 8 बजे पहुंचेगा तूफान फोनी
  • फोनी चक्रवात के लिए केन्द्रीय गृहमंत्रालय ने जारी किया है हेल्पलाइन नंबर 1938
  • मौसम विभाग के डायरेक्टर एचआर विश्वास का कहना है कि लैंडफॉल की प्रक्रिया 8 बजे शुरू हुई थी। इसे पूरा होने में 2 घंटे का समय लग सकता है।
  • ओडिशा के पुरी में 'फोनी' के टकराने के बाद आंध्रप्रदेश के विशाखापत्नम में तेज हवाएं चल रही हैं।
  • चक्रवात 'फोनी' के बाद के तूफान से निपटने के लिए भारतीय कोस्ट गार्ड ने विशाखापत्नम, चेन्नै, परादीप, गोपालपुर, हल्दिया, और कोलकाता में 34 टीमों को तैनात किया गया है। इसके इलावा विशाखापत्नम और चेन्नै में 4 कोस्टगार्ड शिप भी तैनात किए गए हैं।

 

  • इन वीडियो में देखें फोनी का तांडव 

 

 

 

 

  • कई जगहों पर गिरे पेड़

 

 

  • ओडिशा के तट से टकराया तूफान फोनी 

 

 

  • पुरी में तेज हवाओं के साथ जोरदार बारिश शुरू

 

 

  • तूफान की तीव्रता को देखते हुए पूरे ओडिशा राज्य में बिजली काट दी गई है।
  • ओडिशा के समुद्री तट से टकराएगा तूफान फानी, 200 km/h होगी रफ्तार। 
  • ओडिशा भारी बारिश शुरु  

 

तूफान से होने वाले खतरे के मद्देनजर सुरक्षाबलों को हाईअलर्ट पर रखा गया है। तेज हवाओं के साथ जोरदार बारिश ने तूफान के कल तक पुरी पहुंचने के संकेत दे दिए हैं। एनडीआरएफ समेत सभी राहत और बचाव एजेंसियां हाई अलर्ट पर हैं। नौसेना और सेना को भी तैयार रखा गया है। तूफान की गंभीरता को देखते हुए 10 लाख से ज्यादा लोगों को सुरक्षित ठिकानों पर पहुंचा दिया गया है। अनुमान है कि ओडिशा में इस तूफान की जद में करीब 10 हजार गांव और करीब 52 टाउन आएंगे। फोनी तूफान को लेकर गुरुवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की टॉप-लेवल मीटिंग के बाद केंद्रीय गृह मंत्रालय ने यह जानकारी दी। 

मौसम विभाग ने इन राज्‍यों के तटीय इलाके को खाली करने का सुझाव दिया है। मौसम विभाग की ओर से मछुआरों को गहरे समुद्र में न जाने को कहा गया है। खासकर 2 से 4 मई के बीच, क्‍योंकि इस समय समुद्र में बहुत अधिक खतरनाक होने की आशंका है। तूफान की गति को देखते हुए 8 लाख लोगों को सुरक्षित स्थानों पर पहुंचाया गया है। 880 राहत शिविर बनाने के साथ ही सभी शिक्षण संस्थान बंद रखने के आदेश दिए गए हैं। गंजाम, पुरी, खुर्दा, जगतसिंहपुर और कटक में भारी बारिश की संभावना के चलते ईस्ट कोस्टर्न रेलवे ने अब तक 223 ट्रेनें रद्द कर दी हैं। साथ ही ओडिशा 11 जिलों में आचार संहिता हटा दी गई है।  

 

ओडिशा राज्य सरकार ने किसी भी परिस्थिति से निपटने के लिए नेवी, एयरफोर्स और कोस्टगार्ड को हाईअलर्ट पर रखा है। राष्ट्रीय आपदा प्रबंधन और ओडिशा डिजास्टर रैपिड एक्शन फोर्स को खतरे वाले इलाकों में तैनात किया गया है। अकेले भुवनेश्वर में दमकल की 50 टीमें तैनात की गई हैं। एक टीम में 6 सदस्य हैं। मुख्यमंत्री नवीन पटनायक ने स्थानीय अधिकारियों से कहा है वे लोगों को मुफ्त खाना देने की व्यवस्था रखें।स्पेशल रिलीफ कमिश्नर बीपी सेठी ने चेतावनी दी है कि तूफान के टकराने के दौरान उच्च ज्वार (1.5 मीटर तक) आ सकता है। लिहाजा लोग सावधानी बरतें। 15 मई तक डॉक्टरों और स्वास्थ्य अफसरों की छुट्टियां रद्द कर दी गई हैं। पुलिस प्रमुख आरपी शर्मा ने बताया कि सभी पुलिस अफसरों की भी छुट्टियां निरस्त कर दी गई हैं। 

 

ओडिशा के भुवनेश्वर एयरपोर्ट को आधी रात और पश्चिम बंगाल के कोलकाता एयरपोर्ट को रात साढ़े नौ बजे से बंद कर दिया गया है। भुवनेश्वर एयरपोर्ट 24 घंटे तक बंद रहेगा, जबकि कोलकाता एयरपोर्ट शुक्रवार शाम 6 बजे तक बंद रहेगा। एयर ट्रैफिक कंट्रोल के क्लियरेंस के बाद भुवनेश्वर और कोलकाता एयरपोर्ट से विभानों की आवाजाही शुरू होगी। एयरलाइन कंपनी इंडिगो ने बयान जारी कर कहा कि दक्षिण भारत में फोनी तूफान के खतरे के चलते भुवनेश्वर से इंडिगो के विमानों की उड़ानें तीन मई तक बंद रहेंगी। इसके बाद यात्रियों को अगली फ्लाइट में एडजस्ट किया जाएगा। इसके लिए यात्रियों से कोई अतिरिक्त चार्ज नहीं लिया जाएगा। साथ ही फ्लाइट का टिकट कैंसिल करने की फीस भी नहीं ली जाएगी और पूरा पैसा वापस किया जाएगा। इसकी जानकारी यात्रियों को पहले ही दी जा चुकी है। इस संबंध में किसी जानकारी के लिए यात्री किसी भी समय इंडिगो के नंबर 9910383838 और 01246173838 पर भी संपर्क कर सकते हैं।

 

ओडिशा में 1999 में आए सुपर साइक्लोन चक्रवात से करीब 10 हजार लोग मारे गए थे। साथ ही 2 करोड़ से ज्यादा लोग प्रभावित हुए थे।क्षेत्रीय मौसम विभाग के ओडिशा में 1893, 1914, 1917, 1982 और 1989 की गर्मियों में भी तूफान आए थे, लेकिन इस बार का चक्रवात बंगाल की खाड़ी के गर्म होने से बना है। लिहाजा यह ज्यादा खतरनाक हो सकता है।