• Dainik Bhaskar Hindi
  • National
  • Cyclone Nisarga LIVE Updates Trains Flights rescheduled Cyclone in Maharashtra Mumbai Gujarat IMD landfall Rainfall in India NDRF

दैनिक भास्कर हिंदी: Cyclone: महाराष्ट्र के तटीय इलाकों से टकराया निसर्ग, तेज हवा- बारिश और लैंडफॉल, ट्रेनें-उड़ानें प्रभावित

June 3rd, 2020

हाईलाइट

  • महाराष्ट्र और गुजरात में चक्रवाती तूफान निसर्ग का खतरा
  • इन राज्यों के तटीय इलाकों में तेज हवाओं के साथ बारिश

डिजिटल डेस्क, मुंबई। अरब सागर से उठा चक्रवर्ती तूफान निसर्ग अलीबाग के पास बुधवार दोपहर 12:30 बजे के करीब धरती से टकराया। जिस जगह चक्रवर्ती तूफान धरती से टकराया वह अलीबाग से करीब 40 किलोमीटर, जबकि मुंबई से करीब 95 किलोमीटर दूर है।  इस दौरान अलीबाग में 104 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से हवाएं चली और तेज बारिश हुई। चक्रवर्ती तूफान मुरुड की तरफ बढ़ा, जिसके मुंबई को थोड़ी राहत मिली, हालांकि महानगर में तेज हवाओं और जोरदार बारिश का सिलसिला जारी है। मुंबई मनपा ने लोगों को घरों में रहने की सलाह दी है। 
             
मुरुड और अलीबाग  इलाकों में कई घरों की छतें उड़ गईं, जबकि बड़ी संख्या में पेड़ धराशाई हो गए। तेज हवा और बरसात का सिलसिला जारी है। निसर्ग का जोर छह घंटों तक रह सकता है। मुंबई में पेड़ गिरने की दर्जनों घटनाएं सामने आई। सांताक्रूज इलाके में एक झुग्गी पर पत्थर गिरने से तीन लोग जख्मी हो गए हैं। मुंबई महानगर पालिका ने करीब 25000 लोगों को सुरक्षित स्थानों पर पहुंचाया, जबकि करीब 30000 लोग खुद ही अपने रिश्तेदारों के यहां या सुरक्षित ठिकानों पर चले गए।

महाराष्ट्र और गुजरात में चक्रवाती तूफान 'निसर्ग' से तबाही का खतरा बना हुआ है। तूफान ने आज (3 जून) दोपहर महाराष्ट्र में दस्तक दे दी है। चक्रवात के महाराष्ट्र के तटीय इलाकों से टकराते ही यहां तेज हवाओं के साथ बारिश का दौर शुरू हो चुका है। लैंडफॉल की प्रक्रिया भी जारी है। 100 से 110 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से तेज हवाएं चल रही हैं। अगले कुछ घंटों में तूफान गुजरात के तट से टकराएगा।

NDRF की 43 टीमें तैनात 
तूफान से तबाही से निपटने के लिए NDRF की टीमें तैनात की गई हैं। NDRF की कुल 43 में से 21 टीम महाराष्ट्र में जबकि 16 टीमें गुजरात में तैनात की गई हैं। दोनों राज्यों में करीब एक लाख लोगों को साइक्लोन वाले इलाके से हटाया गया है। महाराष्ट्र में करीब 40 हजार लोगों की सुरक्षित स्थानों पर पहुंचाया गया है।

उड़ानों पर असर

चक्रवात निसर्ग के चलते मुंबई हवाईअड्डे से दोपहर ढाई बजे से शाम सात बजे तक सभी उड़ानों को रद्द कर दिया गया। इसके अलावा बुधवार को रोजाना होने वाली 50 उड़ानों की जगह सिर्फ 19 उड़ानों की इजाजत दी गई है। इनमें 11 उड़ाने मुंबई से बाहर जानीं है, जबकि 8 मुंबई आएंगी। छत्रपति शिवाजी महाराज अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे के रनवे पर बुधवार को एक कार्गो विमान फिसल गया। बंगलुरू से मुंबई पहुचीं फेडेक्स की उड़ान संख्या 5033 रनवे पर निर्धारित जगह से आगे निकल गया लेकिन उसे जल्द ही हटा दिया गया जिससे इसका असर उड़ानों पर नहीं पड़ा।

ट्रेनों का बदला समय

चक्रवर्ती तूफान के मद्देनजर मध्य रेलवे ने भी कई गाड़ियों की समय सारणी में बदलाव किया है। गोरखपुर दरभंगा वाराणसी समेत कई इलाकों में जाने वाली ट्रेनों को सुबह या दोपहर के बजाय शाम को चलाने का फैसला किया गया है इसके अलावा मुंबई आने वाली कुछ ट्रेनों के भी समय सारणी में बदलाव किया गया है। जबकि कुछ ट्रेनों के मार्ग बदल दिए गए हैं। इस बीच बांद्रा-वरली सी लिंक पर यातायात रोक दिया गया। 

तेज हवाओं के कारण महाराष्ट्र के रायगढ़ जिले में कई पेड़ उखड़ गए। चक्रवात से राज्य में एक घंटे में भूस्खलन होने की आशंका है।

एनडीआरएफ और पुलिस की टीमें अलर्ट पर हैं। निसर्ग को देखते हुए मुंबई में धारा 144 लागू की गई है। महाराष्ट्र, गुजरात और गोवा के लिए रेड अलर्ट जारी किया गया है। 

 

महाराष्ट्र में चक्रवाती तूफान का असर। रत्नागिरी में तेज हवाओं के साथ बारिश। समुद्र में तेज लहरें उठीं।

महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे के कार्यालय ने तूफान के दौरान सुरक्षित रहने के लिए क्या करें और क्या न करें की सूची जारी की है।

गोवा में पणजी शहर के कुछ हिस्सों में तेज हवाओं के साथ बारिश हो रही है। 

NDRF की टीमें बीएमसी के साथ मिलकर लोगों को सुरक्षित स्थानों पर पहुंचा रही हैं। महाराष्ट्र के अलग-अलग स्थानों से अब तक करीब 40 हजार लोगों को सुरक्षित स्थानों पर शिफ्ट किया जा चुका है। 

महाराष्ट्र के रायगढ़ की कलेक्टर निधि चौधरी ने बताया, चक्रवात को देखते हुए अलीबाग के शास्त्री नगर इलाके से लगभग 390 लोगों को सुरक्षित बाहर निकाल कर अलीबाग के अरुणकुमार ​वैद्य स्कूल में ठहराया गया है। जिले में अब तक कुल 13 हजार 541 लोगों को सु​रक्षित स्थानों पर ले जाया गया है।

बृहन्मुंबई नगर निगम (BMC) के अनुसार, मुंबई फायर ब्रिगेड को किसी भी आपातस्थिति के मद्देनजर अलर्ट पर रहने का निर्देश दिया गया है। 93 लाइफगार्ड्स को 6 समुद्र तटों पर तैनात किया गया है। तटीय इलाकों पर मौजूद झुग्गियों को हटवा दिया गया है। साथ ही बार-बार लोगों से अपील की जा रही है कि समुद्र के किनारे बिल्कुल भी मौजदू न रहें। NDRF की 8 यूनिट्स और नेवी की 5 यूनिट्स को शहर के विभिन्न स्थानों पर तैनात किया गया है। 35 स्कूलों को लोगों के लिए अस्थायी शेल्टर के तौर पर व्यवस्थित किया है।

केंद्रीय मंत्री हर्षवर्धन ने लोगों से घरों में रहने की अपील की है। महाराष्ट्र, गोवा, कर्नाटक और साउथ गुजरात के तटीय इलाकों में मछुआरों को भी समुद्र में न जाने को कहा है।

तूफान की वजह से प्रभावित हुआ ट्रेन और हवाई सफर
चक्रवाती तूफान का असर ट्रेन और हवाई सफर पर भी पड़ा है। मुंबई से चलने वाली कई ट्रेनों के टाइम टेबल में बदलाव किया गया है। कुछ को डायवर्ट भी किया गया है। रेलवे के मुताबिक, मुंबई के छत्रपति शिवाजी महाराज टर्मिनल से रवाना होने वाली 5 ट्रेनों को फिर से शेड्यूल किया गया है। दो ट्रेनें जो मुंबई टर्मिनल की ओर आने वाली थीं, उन्हें विनियमित किया जाएगा। एक ट्रेन को डायवर्ट किया गया है।

आज मुंबई एयरपोर्ट से सिर्फ 11 फ्लाइट्स ही उड़ान भरेंगी और 8 फ्लाइट्स यहां लैंड करेंगी। ये फ्लाइट्स एयर एशिया इंडिया, एयर इंडिया, इंडिगो, गो-एयर और स्पाइसजेट की होंगी। आज मुंबई एयरपोर्ट पर सिर्फ 19 उड़ानों का संचालन किया जाएगा। इंडिगो एयरलाइंस ने 17 उड़ानों को रद्द किया है। इंडिगो एयरलाइंस की सिर्फ तीन फ्लाइट्स ही बुधवार को मुंबई से संचालित होंगी।

 

 

खबरें और भी हैं...