comScore

© Copyright 2019-20 : Bhaskarhindi.com. All Rights Reserved.

डिजिटल स्ट्राइक: मोदी सरकार ने 43 मोबाइल एप पर लगाई रोक, सुरक्षा-संप्रभुता के लिए बताया खतरा, देखें पूरी लिस्ट

डिजिटल स्ट्राइक: मोदी सरकार ने 43 मोबाइल एप पर लगाई रोक, सुरक्षा-संप्रभुता के लिए बताया खतरा, देखें पूरी लिस्ट

हाईलाइट

  • भारत सरकार ने 43 ऐप्स फिर से बैन किए हैं

डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली। भारत सरकार ने मंगलवार को राष्ट्रीय सुरक्षा का हवाला देते हुए 43 मोबाइल एप्स पर प्रतिबंध लगा दिया। सरकार ने यह कदम सूचना प्रौद्योगिकी कानून की धारा 69ए के तहत उठाया है। सरकार ने इस संबंध में कहा है कि इन एप्स के खिलाफ यह कार्रवाई भारत की संप्रभुता, अखंडता, रक्षा, सुरक्षा और सार्वजनिक व्यवस्था के लिए पूर्वाग्रही गतिविधियों में संलग्न रहने की जानकारी के आधार पर की गई है। 

बता दें कि इससे पहले भारत सरकार तीन बार एप्स पर प्रतिबंध लगा चुकी है। सरकार ने 29 जुलाई को चीन के 48 एप्स प्रतिबंधित किए थे। इनमें लोकप्रिय एप्लीकेशन टिकटॉक भी शामिल था। इसके बाद 28 जुलाई को सरकार ने फिर कार्रवाई करते हुए 59 एप्स पर रोक लगा दी थी। वहीं, दो सितंबर को एक बार फिर ऐसा ही कदम उठाते हुए केंद्र सरकार ने पबजी समेत 118 चीनी एप्स प्रतिबंधित कर दिए थे।

केंद्र ने 4 बार ऐप्स के खिलाफ एक्शन लिया

  • 29 जून को 59 चीनी ऐप्स बैन कर दिए थे।ऐप्स को राष्ट्रीय सुरक्षा के लिए खतरा बताया गया था। गलवान झड़प के बाद ये फैसला लिया गया।
  • 27 जुलाई को 47 ऐप बैन किए गए थे। सरकार ने यह कदम तब उठाया था, जब लद्दाख में तनाव बढ़ रहा था और चीनी सैनिकों ने दो बार घुसपैठ की कोशिश की थी।
  • 2 सितंबर को सरकार ने पबजी समेत 118 ऐप्स को बैन किया था। पबजी को 17.5 करोड़ से ज्यादा लोगों ने डाउनलोड किया है।
  • 24 नवंबर को 43 मोबाइल ऐप्स बैन किए गए। फैसला इंडियन साइबर क्राइम को-ऑर्डिनेशन सेंटर की गृह मंत्रालय को भेजी गई रिपोर्ट के आधार पर लिया गया है।

ये है बैन ऐप्स की लिस्ट

  • अलीसप्लार्स मोबाइल ऐप
  • अलीबाबा वर्कबेंच
  • अलीएक्सप्रेस - स्मार्ट शॉपिंग, बेटर लिविंग
  • अलीपे कैशियर
  • लालमूव इंडिया - डिलीवरी ऐप
  • ड्राइव विद लालमूव इंडिया
  • स्नैक वीडियो
  • कैमकार्ड - बिजनेस कार्ड रीडर
  • कैमकार्ड - बीसीआर (वेस्टर्न)
  • सोल- फॉलो द सोल टू फाइंड यू
  • चाइनीज सोशल - मुफ्त ऑनलाइन डेटिंग वीडियो ऐप और चैट
  • डेट इन एशिया - एशियाई सिंगल्स के लिए डेटिंग और चैट
  • वीडेट- डेटिंग ऐप
  • मुफ्त डेटिंग ऐप-सिंगोल, स्टार्ट योर डेट!
  • एडोर ऐप
  • ट्रूयली चाइनीज- चीनी डेटिंग ऐप
  • ट्रूयली एशियन - एशियाई डेटिंग ऐप
  • चाइनालव: चीनी सिंगल्स के लिए डेटिंग ऐप
  • डेट माइ एज: चैट, मीट, डेट मेच्योर सिंगल्स ऑनलाइन
  • एशियनडेट: एशियाई सिंगल्स खोजें
  • फ्लर्टविश: सिंगल्स के साथ चैट करें
  • गॉयज ओनली डेटिंग: गे चैट
  • ट्यूबिट: लाइव स्ट्रीम
  • वी वर्क चाइना
  • फर्स्ट लव लाइव- सुपर हॉट लाइव ब्यूटीज़ लाइव ऑनलाइन
  • रेला - लेस्बियन सोशल नेटवर्क
  • कैशियर वॉलेट
  • मैंगोटीवी
  • एमजीटीवी- हुनानटीवी आधिकारिक टीवी ऐप
  • वीटीवी - टीवी वर्जन
  • वीटीवी - सीड्रामा, केड्रामा और अधिक
  • वीटीवी लाइट
  • लकी लाइव- लाइव वीडियो स्ट्रीमिंग ऐप
  • टाओबाओ लाइव
  • डिंगटॉक
  • आइडेंटिटी वी
  • आइसोलैंड 2: ऐसेज़ ऑफ टाइम
  • बॉक्सस्टार (अर्ली एक्सेस)
  • हीरोज इवॉल्व्ड
  • हैप्पी फिश
  • जेलीपॉप मैच- डेकोरेट योर ड्रीम आइसलैंड
  • मुंचकिन मैच: मैजिक होम बिल्डिंग
  • कॉन्क्विस्टा ऑनलाइन II
कमेंट करें
Ovphs
NEXT STORY

Real Estate: खरीदना चाहते हैं अपने सपनों का घर तो रखे इन बातों का ध्यान, भास्कर प्रॉपर्टी करेगा मदद

Real Estate: खरीदना चाहते हैं अपने सपनों का घर तो रखे इन बातों का ध्यान, भास्कर प्रॉपर्टी करेगा मदद

डिजिटल डेस्क, जबलपुर। किसी के लिए भी प्रॉपर्टी खरीदना जीवन के महत्वपूर्ण कामों में से एक होता है। आप सारी जमा पूंजी और कर्ज लेकर अपने सपनों के घर को खरीदते हैं। इसलिए यह जरूरी है कि इसमें इतनी ही सावधानी बरती जाय जिससे कि आपकी मेहनत की कमाई को कोई चट ना कर सके। प्रॉपर्टी की कोई भी डील करने से पहले पूरा रिसर्च वर्क होना चाहिए। हर कागजात को सावधानी से चेक करने के बाद ही डील पर आगे बढ़ना चाहिए। हालांकि कई बार हमें मालूम नहीं होता कि सही और सटीक जानकारी कहा से मिलेगी। इसमें bhaskarproperty.com आपकी मदद कर सकता  है। 

जानिए भास्कर प्रॉपर्टी के बारे में:
भास्कर प्रॉपर्टी ऑनलाइन रियल एस्टेट स्पेस में तेजी से आगे बढ़ने वाली कंपनी हैं, जो आपके सपनों के घर की तलाश को आसान बनाती है। एक बेहतर अनुभव देने और आपको फर्जी लिस्टिंग और अंतहीन साइट विजिट से मुक्त कराने के मकसद से ही इस प्लेटफॉर्म को डेवलप किया गया है। हमारी बेहतरीन टीम की रिसर्च और मेहनत से हमने कई सारे प्रॉपर्टी से जुड़े रिकॉर्ड को इकट्ठा किया है। आपकी सुविधाओं को ध्यान में रखकर बनाए गए इस प्लेटफॉर्म से आपके समय की भी बचत होगी। यहां आपको सभी रेंज की प्रॉपर्टी लिस्टिंग मिलेगी, खास तौर पर जबलपुर की प्रॉपर्टीज से जुड़ी लिस्टिंग्स। ऐसे में अगर आप जबलपुर में प्रॉपर्टी खरीदने का प्लान बना रहे हैं और सही और सटीक जानकारी चाहते हैं तो भास्कर प्रॉपर्टी की वेबसाइट पर विजिट कर सकते हैं।

ध्यान रखें की प्रॉपर्टी RERA अप्रूव्ड हो 
कोई भी प्रॉपर्टी खरीदने से पहले इस बात का ध्यान रखे कि वो भारतीय रियल एस्टेट इंडस्ट्री के रेगुलेटर RERA से अप्रूव्ड हो। रियल एस्टेट रेगुलेशन एंड डेवेलपमेंट एक्ट, 2016 (RERA) को भारतीय संसद ने पास किया था। RERA का मकसद प्रॉपर्टी खरीदारों के हितों की रक्षा करना और रियल एस्टेट सेक्टर में निवेश को बढ़ावा देना है। राज्य सभा ने RERA को 10 मार्च और लोकसभा ने 15 मार्च, 2016 को किया था। 1 मई, 2016 को यह लागू हो गया। 92 में से 59 सेक्शंस 1 मई, 2016 और बाकी 1 मई, 2017 को अस्तित्व में आए। 6 महीने के भीतर केंद्र व राज्य सरकारों को अपने नियमों को केंद्रीय कानून के तहत नोटिफाई करना था।