comScore

वोटरों ने लगाए पोस्टर, डोर-बेल खराब है... कृपया मोदी-मोदी चिल्लाएं

वोटरों ने लगाए पोस्टर, डोर-बेल खराब है... कृपया मोदी-मोदी चिल्लाएं

हाईलाइट

  • सिर्फ मोदी-मोदी बोलने वालों के लिए खुलेगा दरवाजा
  • हरियाणा में अंबाला की मुस्लिम बस्ती में घरों के बाहर लगे पोस्टर
  • तीन तलाक खत्म किए जाने से खुश क्षेत्र की मुस्लिम महिलाएं

डिजिटल डेस्क, अंबाला। चुनावी माहौल में नेताओं और पॉलीटिकल पार्टियों की ओर से मतदाताओं को लुभाने के लिए हर संभव कोशिश की जाती है। हर दिन प्रचार के नए-नए तरीके अपनाए जाते हैं। वहीं वोटर भी अपना समर्थन देने के लिए नए-नए तरीके अपनाते रहते हैं। ऐसा ही एक अनोखा तरीका सुर्खियों में बना हुआ है, जिसमें लोगों ने भाजपा को समर्थन देने के लिए अपने घरों के बाहर पोस्टर लगा रखे हैं। इन पोस्टरों पर लिखा है कि डोर-बेल खराब है कृपया मोदी-मोदी चिलाएं। 

दरअसल हरियाणा हरियाणा में विधानसभा चुनाव की तैयारियां जोर-शोर से चल रही हैं। ऐसे में अंबाला में ऐसी तस्वीरें सामने आई हैं, जिसमें छावनी इलाके की एक मुस्लिम बस्ती में घरों के बाहर कुछ पोस्टर लगाए गए हैं। इन पोस्टरों पर लिखा है कि यहां की डोर-बेल खराब है, दरवाजा खुलवाने के लिए कृपया मोदी-मोदी चिल्लाएं।

इस तरह के पोस्टर लोगों ने क्यों लगाए, इसके पीछे बेहद दिलचस्प कहानी है। इस मुस्लिम बस्ती के लोगों ने बताया कि चुनावी माहौल में बहुत प्रत्याशी उनके पास वोट की अपील के लिए आते हैं और वह बार-बार डोर बेल बजाते हैं। लिहाजा यह पोस्टर उन्हीं प्रत्याशियों के लिए लगाए हैं। लोगों का कहना है कि तमाम पार्टियों के नेता उनके पास वोट मांगने आते हैं, लेकिन उन्हें अपना समर्थन प्रधानमंत्री मोदी को देना है। इसीलिए उन्होंने पोस्टर लगा दिए हैं कि जो नेता मोदी का नाम लेंगे, उन्हीं के लिए दरवाजे खोले जाएंगे।

समर्थन सिर्फ मोदी के लिए, इसलिए लगाए पोस्टर 
जानकारी अनुसार ये पोस्टर मुस्लिम महिलाओं की पहल पर लगाए गए हैं। बस्ती में रहने वाली मुस्लिम महिलाओं ने बताया कि जिस तरह पीएम मोदी ने 3 तलाक बिल पास कराया, वह बहुत बड़ी बात है और कुछ महिलाओं की जिंदगी इससे तबाह हो रही थी, लेकिन अब ऐसा नहीं होगा। 3 तलाक बिल पर मोदी सरकार की तारीफ करते हुए इस बस्ती की महिलाओं ने बताया कि उनका समर्थन सिर्फ मोदी के लिए है, इसीलिए उन्होंने अपने दरवाजों पर ऐसे पोस्टर लगाए हैं।
 

कमेंट करें
C6meK