comScore

26 जनवरी को 4 किसान नेताओं को गोली मारने की साजिश नाकाम, सिंघु बॉर्डर से किसानों ने संदिग्ध को पकड़कर पुलिस के हवाले किया

26 जनवरी को 4 किसान नेताओं को गोली मारने की साजिश नाकाम, सिंघु बॉर्डर से किसानों ने संदिग्ध को पकड़कर पुलिस के हवाले किया

हाईलाइट

  • पकड़े गए संदिग्ध ने लिया एक पुलिस अधिकारी का नाम
  • कहा- कुछ गलत होने पर नेताओं को गोली मारने का था आदेश

डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली। सरकार से 11वें राउंड की बातचीत नाकामयाब होने के बाद किसान संगठनों ने आंदोलन में हिंसा की साजिश रचने का दावा किया है। सिंघु बॉर्डर पर जमे किसानों ने आज एक शख्स को मीडिया के सामने पेश किया। किसान नेताओं ने आरोप लगाया कि ये शख्स चार किसान नेताओं को मारने की साजिश के तहत यहां आया था।

पकड़े गए शख्स की जुबानी
संदिग्ध ने खुलासा किया है कि प्रदर्शनकारी किसान हथियार लेकर जा रहे हैं या नहीं, यह पता लगाने के लिए दो टीमें लगाई गई हैं। वह खुद 19 जनवरी से सिंघु बॉर्डर पर है। मीडिया के सामने पेश ये शख्स ने कहा कि हमें इस काम के लिए हथियार मिले थे। जैसे ही किसान 26 तारीख को आगे बढ़ने की कोशिश करेंगे, और अगर ये नहीं रुकते तो इन पर गोली चलाने का ऑर्डर था। हमारी 10 लोगों की दूसरी टीम पीछे से गोली चलाती, जिससे दिल्ली पुलिस को ये लगता कि किसानों ने ये किया है। 

जिन्हें मारना था, उनके फोटो मिले थे: संदिग्ध व्यक्ति
26 तारीख को जो रैली होगी उसमें आधे लोग घर के होंगे जो पुलिस की वर्दी में होंगे इन्हें तितर बितर करने के लिए। 24 तारीख को स्टेज पर जो चार लोग होंगे उन्हें मारना है, फोटो दे दी गई है। जो हमें सिखाता है उसका नाम प्रदीप सिंह है। राई थाने का एसएचओ है वो। वो जब भी हमसे मिलने आता था मुंह पर कवर लगाकर आता था। हमने उसका बैच देखा था। जिन्हें मारना था उनका नाम नहीं पता है, उनके फोटो हैं। 

वहीं दिल्ली पुलिस की ओर से पहले कहा गया कि इस संबंध में उसे कोई जानकारी नहीं है। पुलिस को कोई शिकायत नहीं मिली है। पुलिस की ओर से यह भी कहा गया था कि यदि किसानों ने किसी संदिग्ध को पकड़ा तो उसे हमें सौंप दे। हम पूछताछ करेंगे। वहीं, अब जानकारी मिली है कि दिल्ली पुलिस संदिग्ध को लेकर सिंघु बॉर्डर से निकल रही थी, तभी किसानों ने उनकी गाड़ी रोक ली। संदिग्ध को पुलिस के वाहन से उतार लिया गया और किसान नेताओं और दिल्ली पुलिस की टीम ने एक कमरे में बातचीत की। पकड़ा गया संदिग्ध भी वहीं था। बाद में पुलिस उसे कुंडली थाने ले गई।

कमेंट करें
ae0jL