comScore

© Copyright 2019-20 : Bhaskarhindi.com. All Rights Reserved.

Farmers' Protest LIVE Updates: दिल्ली हिंसा के बाद किसान आंदोलन से अलग हुए दो संगठन, योगेन्द्र यादव, टिकैत के खिलाफ FIR


हाईलाइट

  • किसान आंदोलन से अलग हुए दो संगठन
  • योगेन्द्र यादव, राकेश टिकैत समेत कई नेताओं के खिलाफ FIR
  • किसान आंदोलन पर कांग्रेस-बीजेपी आमने-सामने

डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली। 26 जनवरी को किसानों की ट्रैक्टर परेड के दौरान हुई उग्र हिंसा के बाद दिल्ली में पहले ज्यादा संख्या में पुलिस के जवानों की तैनाती कर दी गई है। लाल किले को छावनी में तब्दील कर दिया है। संवेदनशील इलाकों में CRPF की 15 कंपनियों तैनात हैं। हिंसा के बाद अबतक 22 FIR दर्ज की जा चुकी हैं। किसान नेता योगेन्द्र यादव, राकेश टिकैत समेत 27 किसानों नेताओं पर FIR दर्ज की जा चुकी हैं। अबतक 200 से ज्यादा लोगों को हिरासत में लिया गया है। 300 से ज्यादा पुलिसकर्मी जख्मी हुए हैं। 

आंदोलन को लेकर आज गृहमंत्री अमित शाह के आवास पर उच्च स्तरीय बैठक हुई। वहीं, कांग्रेस ने प्रेस कांफ्रेंस करते हुए गृहमंत्री अमित शाह को जिम्मेदार ठहराया है। कांग्रेस प्रवक्ता सुरजेवाला ने कहा, किसान आंदोलन की आड़ में हुई हिंसा के लिए सीधे-सीधे गृह मंत्री अमित शाह ज़िम्मेदारी हैं। उन्हें एक पल भी अपने पद पर बने रहने का अधिकार नहीं, उन्हें बर्खास्त किया जाना चाहिए। भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस की ये मांग है। बता दें कि अबतक किसान आंदोलन से दो संगठन अलग हो चुके हैं। पल-पल की अपडेट के लिए बने रहिए दैनिक भास्कर हिन्दी के साथ...

LIVE UPDATES

  • हिंसा के लिए अमित शाह जिम्मेदार- कांग्रेस
  • यह आंदोलन को गलत रास्ते पर दिखाने का षड्यंत्र था- दिग्विजय सिंह कांग्रेस नेता
  • किसान आंदोलन का नेतृत्व करने वालों के खिलाफ मुकदमा दर्ज होना चाहिए- अभय चौटाला
  • हिन्दुस्तान के झंडे की मर्यादा को भंग किया गया- वी.एम सिंह
  • मैं दिल्ली हिंसा से दुखी हूं- ठाकुर भानु प्रताप सिंह
  • भारतीय किसान यूनियन आंदोलन से अलग हुआ
  • प्रदर्शन करने वाले शराब पीकर आए थे- किसानों के हमले में घायल हुए मोहन गॉर्डन के SHO बलजीत सिंह
  • हिरासत में लिए गए 200 लोग
  • गृहमंत्री अमित शाह ने दिल्ली पुलिस कमिश्नर को बुलाया
    दिल्ली में हुई हिंसा को लेकर गृहमंत्री अमित शाह के घर पर अहम बैठक चल रही है। शाह ने इस बैठक में दिल्ली पुलिस कमिश्नर को बुलाया है। अबतक 200 से ज्यादा उपद्रवी को हिरासत में ले लिया गया है। वहीं, 300 से ज्यादा जवान घायल हुए हैं। गृहमंत्रालय ने उपद्रव मचाने वालों के खिलाफ सख्त कार्रवाई के निर्देश दिए हैं। 
     
  • नरोत्तम मिश्रा को कांग्रेस पर निशाना
    मध्य प्रदेश के गृहमंत्री नरोत्तम मिश्रा ने दिल्ली हिंसा को लेकर कांग्रेस पर निशाना साधा है। मिश्रा ने कहा, "विपक्ष मुद्दा विहीन है, कांग्रेस खुद कोई आंदोलन नहीं कर सकती" मिश्रा ने कहा 'जो भी उत्पात मचाया वह निंदनीय है। मुझे इसमें साजिशों की बू आती है. विपक्ष मुद्दा विहीन है। कांग्रेस तो कोई आंदोलन कर नहीं सकती। दूसरे के आंदोलन में हिस्सा लेने की कोशिश करती है. इससे विपक्ष का भला नहीं होने वाला है। 
     
  • दिल्ली पुलिस की प्रेस कांफ्रेंस 
    आज दोपहर ढाई बजे दिल्ली पुलिस की ओर से प्रेस कॉन्फ्रेंस की जाएगी और पूरी जानकारी सौंपी जाएगी। बीते दिन हुई हिंसा में करीब 300 से अधिक पुलिसकर्मी घायल हुए हैं। दिल्ली पुलिस हिंसा की साजिश को लेकर भी मामला दर्ज करेगी।
     
  • दिल्ली पुलिस अब जगह-जगह लगे सीसीटीवी कैमरों की फुटेज निकालकर प्रदर्शनकारियों की पहचान करने में जुटी है। लालकिले, नांगलोई, मुकरबा चौक, सेंट्रल दिल्ली में सीसीटीवी कैमरों से फुटेज निकालने के लिए स्पेशल सेल, क्राइम ब्रांच की मदद भी ली जा रही है।
     
  • 300 से ज्यादा पुलिसकर्मी घायल
     
  • किसान आंदोलन के बीच हुए दिल्ली में तांडव के बाद सुप्रीम कोर्ट द्वारा गठित कमेटी की बैठक रद्द हो गई है। अब कमेटी की बैठक 29 जनवरी को होगी, इसमें कमेटी किसान संगठनों ने कृषि कानून को लेकर चर्चा करेगी। 
  • आईटीओ में कल एडिशनल डीसीपी सेंट्रल के ऑपरेटर पर तलवार से हमला किया गया था: दिल्ली पुलिस
  • टिकरी बॉर्डर पर पहले से ज्यादा पुलिस बल तैनात
  • किसानों के प्रदर्शन के बीच दिल्ली पुलिस में ट्रैफिक जाम
कमेंट करें
3Tu1t
NEXT STORY

Real Estate: खरीदना चाहते हैं अपने सपनों का घर तो रखे इन बातों का ध्यान, भास्कर प्रॉपर्टी करेगा मदद

Real Estate: खरीदना चाहते हैं अपने सपनों का घर तो रखे इन बातों का ध्यान, भास्कर प्रॉपर्टी करेगा मदद

डिजिटल डेस्क, जबलपुर। किसी के लिए भी प्रॉपर्टी खरीदना जीवन के महत्वपूर्ण कामों में से एक होता है। आप सारी जमा पूंजी और कर्ज लेकर अपने सपनों के घर को खरीदते हैं। इसलिए यह जरूरी है कि इसमें इतनी ही सावधानी बरती जाय जिससे कि आपकी मेहनत की कमाई को कोई चट ना कर सके। प्रॉपर्टी की कोई भी डील करने से पहले पूरा रिसर्च वर्क होना चाहिए। हर कागजात को सावधानी से चेक करने के बाद ही डील पर आगे बढ़ना चाहिए। हालांकि कई बार हमें मालूम नहीं होता कि सही और सटीक जानकारी कहा से मिलेगी। इसमें bhaskarproperty.com आपकी मदद कर सकता  है। 

जानिए भास्कर प्रॉपर्टी के बारे में:
भास्कर प्रॉपर्टी ऑनलाइन रियल एस्टेट स्पेस में तेजी से आगे बढ़ने वाली कंपनी हैं, जो आपके सपनों के घर की तलाश को आसान बनाती है। एक बेहतर अनुभव देने और आपको फर्जी लिस्टिंग और अंतहीन साइट विजिट से मुक्त कराने के मकसद से ही इस प्लेटफॉर्म को डेवलप किया गया है। हमारी बेहतरीन टीम की रिसर्च और मेहनत से हमने कई सारे प्रॉपर्टी से जुड़े रिकॉर्ड को इकट्ठा किया है। आपकी सुविधाओं को ध्यान में रखकर बनाए गए इस प्लेटफॉर्म से आपके समय की भी बचत होगी। यहां आपको सभी रेंज की प्रॉपर्टी लिस्टिंग मिलेगी, खास तौर पर जबलपुर की प्रॉपर्टीज से जुड़ी लिस्टिंग्स। ऐसे में अगर आप जबलपुर में प्रॉपर्टी खरीदने का प्लान बना रहे हैं और सही और सटीक जानकारी चाहते हैं तो भास्कर प्रॉपर्टी की वेबसाइट पर विजिट कर सकते हैं।

ध्यान रखें की प्रॉपर्टी RERA अप्रूव्ड हो 
कोई भी प्रॉपर्टी खरीदने से पहले इस बात का ध्यान रखे कि वो भारतीय रियल एस्टेट इंडस्ट्री के रेगुलेटर RERA से अप्रूव्ड हो। रियल एस्टेट रेगुलेशन एंड डेवेलपमेंट एक्ट, 2016 (RERA) को भारतीय संसद ने पास किया था। RERA का मकसद प्रॉपर्टी खरीदारों के हितों की रक्षा करना और रियल एस्टेट सेक्टर में निवेश को बढ़ावा देना है। राज्य सभा ने RERA को 10 मार्च और लोकसभा ने 15 मार्च, 2016 को किया था। 1 मई, 2016 को यह लागू हो गया। 92 में से 59 सेक्शंस 1 मई, 2016 और बाकी 1 मई, 2017 को अस्तित्व में आए। 6 महीने के भीतर केंद्र व राज्य सरकारों को अपने नियमों को केंद्रीय कानून के तहत नोटिफाई करना था।