अलर्ट पर आर्थिक राजधानी: ओमिक्रॉन के खतरे के बीच मुंबई में खालिस्तानी आतंकी हमले की आशंका, सभी पुलिसकर्मियों की छुट्टी रद्द

December 30th, 2021

हाईलाइट

  • मुंबई में 31 दिसंबर को और सुरक्षा बढ़ा दी गई है
  • एंटी सैबटॉज टीम, BDDS, क्राइम ब्रांच समेत लोकल पुलिस स्टेशन की ATC को भी अलर्ट पर रखा गया है

डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली। कोरोना के बढ़ते कहर के बीच मुंबई प्रशासन के सामने एक और खतरे ने दस्तक दे दी है। देश की आर्थिक राजधानी मुंबई एक बार फिर से आतंकियों के निशाने पर है। कोरोना मामलों में वृद्धि के कारण पहले ही नए साल के जश्न में खलल पड़ चुका है और अब मुंबई पुलिस के सामने ये नया खतरा ....... 

इस कारण किसी बड़े हादसे से निपटने के लिए मुंबई पुलिस ने सुरक्षा सुनिश्चित करने के लिए 31 दिसंबर को पुलिस की सारी छुट्टियां और साप्ताहिक छुट्टियां रद्द कर दी हैं और मुंबई में तैनात सभी पुलिसवाले कल ड्यूटी पर रहेंगे। 

सूत्रों के मुताबिक कुछ दिनों पहले केंद्रीय जांच एजेंसियों को जानकारी मिली थी कि मुंबई में खालिस्तान आतंकवादी वारदात को अंजाम दे सकते हैं। इसके बाद मुंबई को अलर्ट पर रख दिया गया है। हमले की आशंका के बीच एजेंसियों को एक संदिग्ध के बारे में भी पता चला था। जिसके बाद पुलिस ने उस संदिग्ध को पकड़ने के लिए जगह-जगह सर्च ऑपरेशन चलाए थे, लेकिन बाद में पता चला कि वो संदिग्ध विदेश में पकड़ा गया है। 

दो दिनों के लिए मुंबई अलर्ट पर 

सूत्रों की माने तो आतंकी भीड़-भाड़ वाले इलाके को ही निशाना बनाएंगे, लेकिन राज्य में अगले दो दिनों धारा 144 के चलते भीड़ इकठ्ठा होना मुश्किल ही है।  हालांकि, मुंबई पुलिस अब भी अलर्ट पर है और सभी तरह की सावधानियां बरती जा रही है, ताकि कोई भी अप्रिय घटना ना घटे।

यही वजह है कि मुंबई में 31 दिसंबर को और सुरक्षा बढ़ा दी गई है। एंटी सैबटॉज टीम, BDDS, क्राइम ब्रांच समेत लोकल पुलिस स्टेशन की ATC को भी अलर्ट पर रखा गया है। 

मुंबई सहित पूरे महाराष्ट्र में सुरक्षा के कड़े बंदोबस्त- गृह मंत्री

महाराष्ट्र के गृह मंत्री दिलीप वलसे पाटिल ने 'एबीपी न्यूज' को बताया कि मुंबई समेत महाराष्ट्र में पुलिस का तगड़ा बंदोबस्त रहने वाला है और कोरोना के बढ़ते मामलों को देखते हुए किसी भी तरह की पार्टी के आयोजन पर रोक लगाई गई है।

गृह मंत्री ने बताया कि अगर कोई भी व्यक्ति कोरोना के नियमों का पालन नहीं करता है और किसी भी ऐसी पार्टी का आयोजन करता है, जिससे कम्युनिटी स्प्रेड की संभावना रहेगी, ऐसे लोगों पर सख्त कार्रवाई की जाएगी।