दैनिक भास्कर हिंदी: पहली बार केंद्रीय मंत्री बनीं महामंडलेश्वर, साध्वी निरंजन ज्योति का हुआ पट्टाभिषेक

January 14th, 2019

हाईलाइट

  • कुंभ में श्री महंत, महंत और महामंडलेश्वर की दी जाती है उपाधि
  • कई अखाड़े साधुओं को कुंभ में नागा साधु भी बनाते हैं
  • निरंजनी अखाड़े के महामंडलेश्वर परमानंद गिरी की शिष्या हैं साध्वी ज्योति

डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली। केंद्रीय मंत्री साध्वी निरंजन ज्योति को सोमवार के दिन महामंडलेश्वर की उपाधि दी गई। उन्हें निरंजनी अखाड़े की तरफ से ये पदवी दी गई है। ऐसा पहली बार है, जब अखाड़े ने किसी केंद्रीय मंत्री को महामंडलेश्वर बनाया है। बता दें कि साधु-संतों को कुंभ मेले में श्री महंत, महंत और महामंडलेश्वर बनाने की परंपरा रही है। कई अखाड़े कुंभ में नागा साधु भी बनाते हैं।

अखिल भारतीय अखाड़े के अध्यक्ष और निरंजनी अखाड़े के श्री महंत नरेंद्र गिरी ने बताया कि साध्वी निरंजन ज्योति का पट्टाभिषेक किया गया, जिसमें 13 अखाड़ों के आचार्य महामंडलेश्वर मौजूद रहे। निरंजनी अखाड़े की छावनी में कार्यक्रम हुआ, जिसें निरंजनी अखाड़े ने साध्वी को महामंडलेश्वर की पदवी दी।

महंत नरेंद्र गिरी के मुताबिक केंद्रीय मंत्री के पहले निरंजन ज्योति साध्वी हैं। वो निरंजनी अखाड़े के महामंडलेश्वर परमानंद गिरी की शिष्या हैं। साध्वी निरंजन ज्योति को अखाड़े के आचार्य महामंडलेश्वर बालकानंद गिरी की उपस्थिति में महामंडलेश्वर की पदवी दी गई।

 

 

 

 

खबरें और भी हैं...