दैनिक भास्कर हिंदी: गुजरात: राज्यसभा चुनाव से पहले पांच कांग्रेस विधायकों का इस्तीफा, 26 मार्च को होगी वोटिंग

March 15th, 2020

हाईलाइट

  • कांग्रेस के पांच विधायकों ने विधानसभा अध्यक्ष राजेंद्र त्रिवेदी को अपना इस्तीफा सौंपा
  • गुजरात विधानसभा में, भाजपा के पास 103 सीटें, कांग्रेस के पास 73
  • दो सीटें भारतीय ट्राइबल पार्टी और राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी के पास एक है

डिजिटल डेस्क, गांधी नगर। गुजरात की चार राज्यसभा सीटों पर आगामी चुनावों से पहले, कांग्रेस के पांच विधायकों ने विधानसभा अध्यक्ष राजेंद्र त्रिवेदी को अपना इस्तीफा सौंप दिया। पहले चार कांग्रेस विधायकों ने इस्तीफा दिया था। बाद में, विधायक प्रवीण मारू ने पुष्टि की कि उन्होंने भी इस्तीफा दे दिया है। इससे इस्तीफे की कुल संख्या पांच हो गई। विधायक जेवी काकड़िया और सोमभाई पटेल भी उन विधायकों में शामिल हैं जिन्होंने इस्तीफा दिया है।

विधानसभा अध्यक्ष ने किया चार विधायकों का इस्तीफा स्वीकार
विधानसभा अध्यक्ष त्रिवेदी ने कहा कि उन्होंने चार विधायकों का इस्तीफा स्वीकार कर लिया है और सोमवार को विधानसभा में उनके नामों की घोषणा करेंगे। 182 सीटों वाली गुजरात विधानसभा में, भाजपा के पास 103 सीटें, कांग्रेस के 73, जबकि दो सीटें भारतीय ट्राइबल पार्टी और राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी के पास एक है। एक निर्दलीय विधायक भी है। शनिवार को, कांग्रेस ने अपने 14 विधायकों को जयपुर शिफ्ट कर दिया था। उन्हें डर था कि 26 मार्च को राज्यसभा चुनाव से पहले सत्तारूढ़ भाजपा हॉर्स ट्रेडिंग कर सकती है।

ये 14 विधायक जयपुर में
अहमदाबाद एयरपोर्ट से जयपुर जाने वाले 14 विधायकों में लखाभाई भरवाड़ (वीरमगाम), पूनम परमार (सोजित्रा), जिनीबेन ठाकुर (वाव), चंदनजी ठाकुर (सिद्धपुर), रित्विक मकवाना (चोटिला), चिराग कालरिया (जामजोधपुर), बलदेवजी ठाकुर, नाथाभाई पटेल, हिम्मतसिंह पटेल, इंद्रजीत ठाकुर, राजेश गोहिल, अजितसिंह चौहान, हर्षद रिबादिया और प्रद्युम्न सिंह जडेजा शामिल हैं। मीडिया से बात करते हुए राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने कहा कि कांग्रेस विधायकों पर काफी दबाव है और भाजपा धन और बाहुबल से राज्यसभा चुनाव को प्रभावित करना चाहती है।

ये राज्यसभा उम्मीदवार मैदान में
भाजपा ने चुनाव के लिए अभय भारद्वाज, रामलीला बारा और नरहरि अमीन को मैदान में उतारा है। वहीं कांग्रेस ने वरिष्ठ नेता शक्तिसिंह गोहिल और भरतसिंह सोलंकी को टिकट दिया है। राज्यसभा के उम्मीदवार को जीतने के लिए 37 वोटों की जरूरत होगी। बीजेपी और कांग्रेस दोनों आसानी से सदन में अपनी संख्या के साथ चार में से दो सीटें जीत सकती है, लेकिन किसी भी अतिरिक्त सीटों को जीतने के लिए उसे विपक्षी खेमे के सदस्यों की जरुरत पड़ेगी। बीजेपी को तीसरी सीट जीतने के लिए विपक्षी दल के 5 विधायकों की जरुरत होगी।