दैनिक भास्कर हिंदी: J&K: शोपियां-श्रीनगर की मुठभेड़ों में चार आतंकी मारे गए, मोबाइल इंटरनेट सेवा सस्पेंड

June 21st, 2020

हाईलाइट

  • J&K में सुरक्षाबलों ने दो अलग-अलग मुठभेड़ो में चार आतंकियों का मार गिराया
  • श्रीनगर के ज़दीबल इलाके में 3 आतंकी जबकि शोपियां में एक आतंकी मारा गया
  • शोपियां में मारे गए आतंकी के पास से एके-47 राइफल समेत अन्य सामान बरामद किए गए

डिजिटल डेस्क, श्रीनगर। जम्मू-कश्मीर में सुरक्षाबलों ने रविवार को दो अलग-अलग मुठभेड़ो में चार आतंकियों का मार गिराया। श्रीनगर के ज़दीबल इलाके में 3 आतंकी जबकि शोपियां में एक आतंकी मारा गया। शोपियां में मारे गए आतंकी के पास से एके-47 राइफल समेत अन्य सामान बरामद किए गए हैं। सुरक्षाबलों ने दोनों जगहों पर आतंकियों की मौजूदगी के इनपुट मिलने के बाद सर्च ऑपरेशन लॉन्च किया था। अधिकारियों ने ये जानकारी दी। इस मुठभेड़ के बाद इलाके में मोबाइल इंटरनेट सेवाएं सस्पेंड कर दी गई हैं। 

शोपियां मुठभेड़
एक पुलिस अधिकारी ने बताया कि जम्मू-कश्मीर पुलिस, 34 राष्ट्रीय राइफल्स और केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल (सीआरपीएफ) की एक संयुक्त टीम ने इलाके में कॉर्डन एंड सर्च ऑपरेशन शुरू किया। आतंकवादी कुलगाम के लर्कीपोरा इलाके के बागों में छिपे हुए थे, जो शोपियां-कुलगाम की सीमा पर है। आतंकवादियों को पहले सरेंडर करने के लिए कहा गया था, लेकिन उन्होंने इनकार कर दिया और सुरक्षा बलों पर गोलीबारी की। संयुक्त दल ने जवाबी हमला किया जिसमें आतंकी मारा गया। दक्षिण कश्मीर में यह 11 वीं मुठभेड़ है और कुछ शीर्ष कमांडरों सहित अब तक लगभग 36 आतंकवादी मारे गए हैं।

श्रीनगर मुठभेड़
पुलिस अधिकारी ने बताया कि आतंकियों की मौजूदगी का इनपुट मिलने के बाद श्रीनगर के ज़दीबल और ज़ूनीमार पोज़्वालपोरा इलाकों में कॉर्डन एंड सर्च ऑपरेशन लॉन्च किया था। आतंकियों को घेरने के बाद उनके माता-पिता को एनकाउंटर साइट पर बुलाया गया। उन्होंने अपने बेटों से सरेंडर करने को कहा लेकिन उन्होंने सरेंडर करने से मना कर दिया। इसके  बाद पुलिस ने एनकाउंटर में तीनों आतंकियों को ढेर कर दिया। कश्मीर के इंस्पेक्टर जनरल ऑफ पुलिस विजय कुमार ने बताया कि दो आतंकी 2019 से एक्टिव थे। इनमें से एक आतंकी पिछले महीने सीमा सुरक्षा बल (BSF) के जवानों पर हमला करने में शामिल था।  

श्रीनगर में एक महीने में दूसरी मुठभेड़
एक महीने में श्रीनगर में यह दूसरी मुठभेड़ है। मई में, सुरक्षा बलों ने श्रीनगर के नवा कदल इलाके में करीब 12 घंटे तक चली मुठभेड़ के बाद एक कश्मीरी अलगाववादी नेता के बेटे सहित हिजबुल मुजाहिदीन के दो आतंकवादियों को मार गिराया था। मुठभेड़ के दौरान दोनों ओर से हुई गोलीबारी के चलते एक दर्जन से ज्यादा घर भी क्षतिग्रस्त हो गए थे। केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल (सीआरपीएफ) के तीन कर्मी और एक पुलिसकर्मी भी घायल हो गए थे।