comScore

VIDEO : छात्राओं ने अमित शाह को दिखाए काले झंडे, पुलिस ने बाल पकड़कर पीटा

August 02nd, 2018 09:59 IST
VIDEO : छात्राओं ने अमित शाह को दिखाए काले झंडे, पुलिस ने बाल पकड़कर पीटा

हाईलाइट

  • इलाहाबाद में कुछ छात्राओं को बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह काले झंडे दिखाकर विरोध करना भारी पड़ गया।
  • विरोध करने पर यूपी पुलिस ने छात्राओं के बाल पकड़कर उन्हें लाठियों से जमकर पीटा।
  • छात्राओं के साथ की गई पुलिस की इस बर्बरता का वीडियो सोशल मीडिया पर काफी वायरल हो रहा है।

डिजिटल डेस्क, इलाहाबाद। उत्तर प्रदेश के इलाहाबाद शहर में कुछ छात्राओं को BJP के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह काले झंडे दिखाकर विरोध करना भारी पड़ गया। विरोध करने पर यूपी पुलिस ने छात्राओं के बाल पकड़कर उन्हें लाठियों से जमकर पीटा। इतना ही नहीं बाद में छात्राओं के खिलाफ पांच अलग-अलग धाराओं के तहत मामला भी दर्ज किया गया है। छात्राओं के साथ की गई पुलिस की इस बर्बरता का वीडियो सोशल मीडिया पर काफी वायरल हो रहा है।

जानकारी के अनुसार BJP अध्यक्ष अमित शाह शुक्रवार को इलाहाबाद शहर में विशेष दौरे पर आए थे। उनका काफिला धूमनगंज से गुजर रहा था। इसी दौरान इलाहाबाद यूनिवर्सिटी की कुछ नाराज छात्राओं ने विरोध प्रदर्शन करते हुए अमित शाह के काफिले को काले झंडे दिखाए। छात्राएं अमित शाह को रोकने के लिए उनकी गाड़ी के सामने तक आ गईं थीं। इसके बाद यूपी पुलिस ने बर्बरता दिखाते हुए लाठीचार्ज कर दिया और छात्राओं के बाल पकड़कर उन्हें जमकर पीटा। इधर अखिलेश यादव ने भी यूपी पुलिस की इस कारगुजारी की आलोचना की है।

बताया जा रहा है कि विरोध कर रहीं छात्राएं समाजवादी पार्टी से जुड़ी हुई हैं। वे छात्रसंघ इकाई समाजवादी छात्र सभा की सदस्य बताई जा रही हैं। छात्राएं अमित शाह के दौरे का विरोध कर रही थीं। वीडियो में आप देख सकते हैं कि पुलिस किस तरह से दो छात्राओं को घसीटते हुए जीप तक ले गई। एक पुलिकर्मी ने छात्रा को दोनों हाथों से उसकी कमर से उठाया और उसे जीप तक ले गया। उनकी लाठियों से जमकर पिटाई की गई।

बिना महिला पुलिस के दोनों छात्राओं पर पुलिस ने डंडे से हमला किया, पुलिस वैन में बैठाया। यूपी पुलिस के इस व्यवहार का वीडियो किसी ने शूट कर लिया और फिर उसे सोशल मीडिया में वायरल कर दिया गया। वीडियो में दिख रही छात्राओं के नाम नेहा यादव और रमा यादव बताए जा रहे हैं।

अखिलेश ने मामले को शर्मनाक बताया
पूर्व सीएम अखिलेश यादव ने इस घटना पर ट्वीट किया कि BJP अध्यक्ष की उपस्थिति में इलाहाबाद में छात्राओं को पुलिस द्वारा लाठी से मारना और उनको बालों से खींचकर बिना महिला पुलिस के हिरासत में लेना शर्मनाक है। ये है BJP के नारी सम्मान व सुरक्षा के दावे का घिनौना सच। अहंकारी याद रखें कि जितना अन्याय बढ़ता है, उतनी विरोध की हिम्मत भी।

कमेंट करें
CKIOb