दैनिक भास्कर हिंदी: सीएम पर्रिकर नहीं देंगे इस्तीफा, पूरा करेंगे कार्यकाल : गोवा बीजेपी अध्यक्ष 

October 16th, 2018

हाईलाइट

  • गोवा बीजेपी अध्यक्ष ने सीएम पर्रिकर के इस्तीफे की खबरों को बताया अफवाह।
  • विजय तेंदुल्कर ने कहा, सीएम निश्चित तौर पर अपना 5 साल का कार्यकाल पूरा करेंगे।
  • नई दिल्ली के अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान (AIIMS) में अग्नाश्य संबंधी बीमारी को लेकर उनका इलाज चल रहा था।

डिजिटल डेस्क, पणजी। गोवा के बीजेपी अध्यक्ष विजय तेंदुलकर ने उन खबरों को पूरी तरह से निराधार बताया है, जिनमें कहा जा रहा था कि सीएम मनोहर पर्रिकर अपने पद से इस्तीफा दे सकते हैं। बता दें कि लंबे समय से मनोहर पर्रिकर बीमार चल रहे थे और वह अपने इलाज के लिए अमेरिका भी गए थे। इसके बाद से विपक्ष लगतार मनोहर पर्रिकर के इस्तीफे की मांग कर रहा है।

विजय तेंदुलकर ने कहा कि सीएम का स्वास्थ्य पहले से बेहतर है और जो अफवाहें फैलाई जा रही है कि सीएम इस्तीफा दे सकते हैं ये पूरी तरह से झूठी है। तेंदुलकर ने कहा, 'गोवा में गठबंधन वाली सरकार 5 सालों के लिए बनी है और सीएम अपना कार्यकाल निश्चित तौर पर पूरा करेंगे।' इससे पहले, गोवा के मुख्यमंत्री मनोहर पर्रिकर रविवार दोपहर को नई दिल्ली से अपने गृहराज्य लौट आए। नई दिल्ली के अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान (AIIMS) में पेनक्रियाज़ संबंधी बीमारी को लेकर उनका इलाज चल रहा था।

कुछ दिन पहले कांग्रेस ने राज्यपाल मृदुला सिन्हा से मुलाकात कर बीजेपी सरकार को विधानसभा में बहुमत साबित करने का निर्देश देने के लिए कहा था। गोवा के कांग्रेसी विधायक चाहते थे कि मौजूदा सरकार को बर्खास्त किया जाए और उन्हें वैकल्पिक सरकार बनाने के लिए दावेदारी पेश करने का मौका दिया जाए। राज्यपाल से मुलाकात के बाद विपक्ष के नेता चंद्रकांत कावलेकर कहा था कि राज्यपाल को विधानसभा का एकदिवसीय सत्र बुलाकर बहुमत साबित करवाना चाहिए।

40 सदस्यों वाली गोवा विधानसभा में कांग्रेस के 16 विधायक हैं जबकि बीजेपी के पास अभी 14 विधायक हैं। बीजेपी को महाराष्ट्रवादी गोमंतक पार्टी (एमजीपी) के 3, गोवा फॉरवर्ड पार्टी (जीएफपी) के 3 के साथ तीन निर्दलीय विधायकों का समर्थन हासिल था, जो कुल संख्या को जोड़कर 23 तक पहुंचा रहा था, लेकिन अब गोवा फॉरवर्ड के उपाध्यक्ष ट्राजनो डिमेलो ने इस्तीफा दे दिया है, यानी अब बीजेपी के साथ कुल 22 विधायकों का समर्थन बचा है। कांग्रेस और एनसीपी के पास 17 विधायक हैं।