comScore

सिंधिया का कांग्रेस महासचिव पद से इस्तीफा, कहा - हार के लिए मैं भी जिम्मेदार


हाईलाइट

  • कांग्रेस नेता ज्योतिरादित्य सिंधिया ने अपने पद से इस्तीफा दे दिया है
  • सिंधिया ने कहा, 8-10 दिन पहले' उन्होंने इस्तीफा राहुल गांधी को सौंप दिया था
  • सिंधिया ने कहा, कि लोकसभा चुनावों में पार्टी के प्रदर्शन के लिए समान रूप से वह भी जिम्मेदार

डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली। कांग्रेस नेता ज्योतिरादित्य सिंधिया ने अपने पद से इस्तीफा दे दिया है। इस्तीफे के बाद रविवार को सिंधिया ने कहा कि उन्होंने कांग्रेस महासचिव के पद से '8-10 दिन पहले' अपना इस्तीफा राहुल गांधी को सौंप दिया था। सिंधिया ने कहा कि वह लोकसभा चुनावों में पार्टी के प्रदर्शन के लिए समान रूप से जिम्मेदार हैं।

उन्होंने कहा, 'मैं ऐसा नेता नहीं हूं जो दूसरों को आदेश देता हो। मुझे लगता है कि जब कोई जिम्मेदारी होती है, तो साथ ही जवाबदेही भी आती है। अगर प्रदर्शन अच्छा नहीं है तो भी मैं जिम्मेदार हूं। इसलिए, मैंने इस्तीफा देने का फैसला लिया।' यह पूछे जाने पर कि पार्टी अध्यक्ष राहुल गांधी के इस्तीफे के बाद पार्टी को कैसे फिर से खड़ा किया जाएगा, उन्होंने कहा: 'पार्टी इस संबंध में सामूहिक रूप से फैसला करेगी। यह दुर्भाग्यपूर्ण है कि राहुल गांधी ने पद छोड़ने का फैसला किया।'

इससे पहले आज, सिंधिया ने पार्टी महासचिव के पद से अपने इस्तीफे की घोषणा की थी। सिंधिया ने अपने आधिकारिक ट्विटर से ट्वीट कर लिखा, 'लोगों के फैसले को स्वीकार करने और जवाबदेही लेने के बाद, मैंने अपना इस्तीफा AICC के महासचिव के रूप में कांग्रेस प्रेसिडेंट राहुल गांधी को सौंप दिया था। मैं उन्हें इस जिम्मेदारी को सौंपने और मुझे अपनी पार्टी की सेवा करने का अवसर देने के लिए धन्यवाद देता हूं।'

सिंधिया को लोकसभा चुनाव से पहले पश्चिम उत्तर प्रदेश के लिए कांग्रेस का महासचिव नियुक्त किया गया था। जबकि प्रियंका गांधी वाड्रा को ईस्ट यूपी की कमान सौंपी गई थी। सिंधिया का इस्तीफा ऐसे समय में आया है जब कई राज्यों के पार्टी नेता राहुल गांधी के साथ एकजुटता की अभिव्यक्ति के रूप में अपने इस्तीफे की पेशकश कर रहे हैं।इससे पहले दिन में, पूर्व सांसद मिलिंद देवड़ा ने भी मुंबई इकाई के कांग्रेस अध्यक्ष के पद से इस्तीफे की घोषणा की थी।
 

कमेंट करें
jRcXh