दैनिक भास्कर हिंदी: दरिंदों की हैवानियत का शिकार हुई 12 साल की मासूम, जिंदा जलाया

March 25th, 2018

डिजिटल डेस्क, असम। देश में रेप की घटनाएं थमने का नाम ही नहीं ले रही हैं। इस बार असम में दरिंदों की हैवानियत ने एक और मासूस को अपना शिकार बनाया है। दरअसल असम में तीन दरिंदों ने 12 साल की मासूम के साथ पहले रेप किया और फिर उसे आग के हवाले कर दिया। जिससे मासूम बच्ची की घटला स्थल पर ही मौत हो गई। ये घटना नागांव इलाके के लालुंग गांव की है। मृतक बच्ची कक्षा पांचवीं की छात्रा थी। घटना के तीन आरोपियों में पुलिस ने दो को गिरफ्तार कर लिया है। एक आरोपी अभी फरार है।

पूरा मामला
असम के नगांव जिले में शुक्रवार को पांचवीं कक्षा में पढ़ने वाली एक 12 साल की बच्ची के साथ तीन लड़कों ने कथित तौर पर सामूहिक बलात्कार किया। इसके बाद उस पर केरोसिन छिड़ककर आग लगा दी। पीड़िता के भाई अली हुसैन  के मुताबिक हम चार भाई-बहन हैं और वो मेरी सबसे छोटी बहन थी। बड़ी बहन की शादी हो गई और वह पास के स्कूल में कक्षा पांच में पढ़ रही थी। शुक्रवार को घर पर कोई नहीं था। वो स्कूल से घर लौट रही थी तभी हमारे पड़ोसी जाकिर हुसैन और उसके दो साथियों ने मेरी बहन का पीछा किया। बाद में इन लोगों ने हमारे घर में घुसकर मेरी बहन के साथ बलात्कार किया और उस पर केरोसिन डालकर आग लगा दी।

पीड़िता के भाई के मुताबिक बाद में जब चीखने.चिल्लाने की आवाज़ सुनी तो आस.पास के लोग मदद के लिए आए। गंभीर हालत में मेरी बहन को पहले नगांव के सरकारी अस्पताल में भर्ती कराया गया। डाक्टरों के कहने पर हम उसे अच्छे इलाज के लिए गुवाहाटी मेडिकल कॉलेज अस्पताल ले आए, लेकिन अस्पताल पहुंचने के कुछ मिनटों में ही उसने दम तोड़ दिया। डॉक्टरों के मुताबिक बच्ची को कई अंदरूनी चोटें आई थीं, वह बुरी तरह से जल चुकी थी। जिसकी वजह से उसकी हालात बेहद नाजूक बनी हुई थी।

गिरफ्त में दो आरोपी
इस मामले में नगांव जिले के पुलिस अधीक्षक शंकर रायमेधी ने कहा कि ष्यह काफ़ी बुरी घटना है। एक नाबालिग लड़की का रेप कर उसे केरोसिन डालकर जलाया गया। घटना के तुरंत बाद लड़की को मेडिकल सहायता दी गई थी, लेकिन दुर्भाग्य से उसकी मौत हो गई। मरने से पहले पीड़ित बच्ची का बयान रिकॉर्ड किया गया है और घटना में शामिल दो नाबालिग लड़कों को गिरफ्तार कर लिया गया है। जाकिर हुसैन नामक तीसरा अभियुक्त फिलहाल फरार है, लेकिन हम जल्द ही उसे पकड़ लेंगे।