comScore

© Copyright 2019-20 : Bhaskarhindi.com. All Rights Reserved.

मजबूत होंगी सेनाएं: देश को अक्टूबर में मिल सकता है नया एयर डिफेंस कमांड, तीनों सेनाओं की शक्ति आएगी साथ

मजबूत होंगी सेनाएं: देश को अक्टूबर में मिल सकता है नया एयर डिफेंस कमांड, तीनों सेनाओं की शक्ति आएगी साथ

हाईलाइट

  • अक्टूबर के दूसरे हफ्ते में तैयार हो सकता है नया एयर डिफेंस कमांड
  • पूरे देश के एयर डिफेंस को हैंडल करेगा एयर डिफेंस कमांड
  • चीफ ऑफ डिफेंस स्टाफ ने जनवरी में की थी ADC की घोषणा

डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली। भारत अपना नया एयर डिफेंस कमांड (ADC) की सथापना करने की दिशा में आगे बढ़ रहा है। सरकार से जुड़े सूत्रों ने न्यूज एजेंसी एएनआई को बताया कि एयर फोर्स के एक अधिकारी के अंडर में नई कमांड के स्ट्रक्चर पर तेजी से काम किया जा रहा है। 8 अक्टूबर को वायुसेना को पहला ट्राई सर्विस कमांड मिल सकता है, जो कि पूरे देश के एयर डिफेंस को हैंडल करेगा। ADC की स्थापना के बाद इंटीग्रेटेड तरीके से होस्टाइल एयरक्राफ्ट, मिसाइल, हेलीकॉप्टर और ड्रोन से देश के एयरस्पेस की रक्षा की जा सकेगी। 

एयर डिफेंस को मजबूत किया जाएगा
सेना की हर सर्विस का अपना एक एयर डिफेंस सैटअप होता है। इस कमांड के बनने के बाद तीनों सेनाओं की शक्ति को साथ मिलाकर देश के एयर डिफेंस को मजबूत किया जाएगा। वायुसेना दिवस के आसपास प्रयागराज में नए एयर डिफेंस कमांड की स्थापना हो सकती है। इस कमांड को एयर फोर्स के अंडर ही रखा जाएगा। इसका नेतृत्व भारतीय वायुसेना के तीन सितारा जनरल (एयर मार्शल) करेंगे। इंडियन एयरफोर्स (IAF) के वाइस चीफ एयर मार्शल एचएस अरोड़ा ने एक स्टडी के आधार पर तीनों सेनाओं को मिलाकर नया डिफेंस कमांड बनाने का सुझाव दिया था।

जनवरी में ADC की घोषणा
चीफ ऑफ डिफेंस स्टाफ जनरल बिपिन रावत ने जनवरी में ADC की घोषणा की थी। इसके साथ ही सीडीएस एक कम्बाइंड समुद्री कमांड बनाने पर भी काम कर रहे हैं। इसे या तो केरल के कोच्चि या फिर कर्नाटक के करवार में बनाया जाएगा। भारत में अभी केवल दो यूनिफाइड कमांड हैं, जबकि 17 सिंगल-सर्विस कमांड (आर्मी 7, IAF 7 और नौसेना 3) हैं। पहला और एकमात्र थिएटर या 'भौगोलिक' कमांड अक्टूबर 2001 में अंडमान और निकोबार में स्थापित किया गया था, जबकि देश के परमाणु शस्त्रागार को संभालने के लिए 'कार्यात्मक' सामरिक बल कमान जनवरी 2003 में आया था।

कमेंट करें
VE4ai