comScore

वायु सेना : रक्षा रचिव ने कहा- 200 फाइटर जेट के अधिग्रहण का कॉन्ट्रैक्ट अंतिम चरण में

वायु सेना : रक्षा रचिव ने कहा- 200 फाइटर जेट के अधिग्रहण का कॉन्ट्रैक्ट अंतिम चरण में

हाईलाइट

  • केंद्र सरकार वायुसेना के लिए लगभग 200 फाइटर जेट का अधिग्रहण करने जा रही है
  • वायुसेना को HAL निर्मित 83 LCA तेजस मार्क 1 A एडवांस्ड फाइटर जेट मिलेंगे
  • 83 LCA तेजस मार्क 1 A एडवांस्ड फाइटर जेट का कॉन्ट्रैक्ट अंतिम चरण में है

डिजिटल डेस्क, कोलकाता। केंद्र सरकार वायुसेना के लिए लगभग 200 फाइटर जेट का अधिग्रहण करने जा रही है। वायुसेना को हिंदुस्तान एयरोनॉटिक्स लिमिटेड (HAL) निर्मित 83 लाइट कॉम्बेट एयरक्राफ्ट (LCA) तेजस मार्क 1 A एडवांस्ड फाइटर जेट मिलेंगे, जिसका कॉन्ट्रैक्ट अंतिम चरण में है।

इसके अलावा 110 अन्य एयरक्राफ्ट के लिए EOI (एक्सप्रेशन ऑफ इंटरेस्ट) मंगाया गया है, जिसके आधार पर RFP (रिक्वेस्ट फॉर प्रपोजल) मंगाया जाएगा। डिफेंस सेक्रेटरी अजय कुमार ने रविवार को इस बात की जानकारी दी।

इस साल साइन किया जाएगा कॉन्ट्रैक्ट
डिफेंस सेक्रेटरी ने कहा 'हम 83 लाइट कॉम्बैट एयरक्राफ्ट मार्क 1 A के अनुबंध को अंतिम रूप देने की प्रक्रिया में हैं, जो भारत की तत्काल जरूरतों को पूरा करेगा।' कुमार ने कहा कि 'LCA के लिए कॉन्ट्रैक्ट निश्चित रूप से इस साल साइन कर लिया जाएगा। यह पूछे जाने पर कि क्या एयरक्राफ्ट का अधिग्रहण किए जाने के लिए कोई समयसीमा तय की गई है? इस पर अजय कुमार ने कहा कि 'हम यह जल्द से जल्द करना चाहते हैं।'

प्रति वर्ष 8 से 16 जेट्स का होगा प्रोडक्शन
कुमार ने कहा कि 'डिजाइन को अंतिम रूप दिए जाने के बाद, स्टेट रन एयरोस्पेस हिंदुस्तान एयरोनॉटिक्स लिमिटेड प्रति वर्ष 8 से 16 LCA मार्क 1 A जेट्स प्रोडक्शन करेगा।' उन्होंने कहा 'यदि आवश्यक हो तो आउटसोर्सिंग के माध्यम से हम इसे और बढ़ा सकते हैं।'

वायुसेना के बेड़े में हैं ये विमान
वायु सेना के पास वर्तमान में सुखोई 30 एमकेआई, मिराज 2000 एस, मिग 29, जगुआर और मिग 21 बायसन एयरक्राफ्ट हैं। 1999 के कारगिल युद्ध के दौरान महत्वपूर्ण भूमिका निभाने वाले सात स्विंग-विंग मिग-27 फाइटर्स के अंतिम बेड़े को 27 दिसंबर को डिकमीशन कर दिया गया था।

भारतीय वायुसेना में बेहतरीन फाइटर विमान माने जाने वाले "मिग-27" हवा से जमीन तक मार करने वाला बेहतरीन विमान माना जाता है। साल,1981 में पहली बार "मिग-27" को वायुसेना में शामिल किया गया था। 1700 किलोमीटर प्रति घंटे की अधिकतम रफ्तार से उड़ान भरने में सक्षय यह विमान एक साथ चार हजार किलोग्राम के हथियार ले जा सकता है।

कमेंट करें
vS7Ph