दैनिक भास्कर हिंदी: India China Dispute: भारतीय सेना को मिली बड़ी कामयाबी, बीते 20 दिन में LAC से लगी 6 नई चोटियों पर  किया कब्जा, बौखलाई है PLA

September 21st, 2020

हाईलाइट

  • LAC के पास भारतीय सेना ने अपनी पकड़ मजबूत की
  • ये ठिकाने अब तक खाली पड़े हुए थे
  • LAC पर ब्लैक टॉप हिल और हेलमेट टॉप हिल चीन के हिस्से में

डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली। पूर्वी लद्दाख में लाइन ऑफ एक्चुअल कंट्रोल (LAC) पर चीन के साथ विवाद जारी है। वहीं भारतीय सेना ने LAC पर पिछले 20 दिन में पीपुल्स लिबरेशन आर्मी के मंसूबों पर पानी फेरते हुए 6 नई पहाड़ियों पर कब्जा कर लिया है। चीनी सेना भारतीय सेना पर हावी होने के वास्ते इन पहाड़ियों पर कब्जा करना चाहती थी।

शीर्ष सरकारी सूत्रों ने न्‍यूज एजेंसी एएनआई ने कहा, "भारतीय सेना ने 29 अगस्‍त और सितंबर के दूसरे सप्‍ताह के बीच छह नई ऊंचाइयों तक पहुंच बना ली है। लेकिन, हिल, गुरुंग हिल, रेचिन ला, रेजांग ला, मोखपरी और फिगर 4 के पास की ऊंचाइयों पर हमारे जवान मौजूद हैं।" ये जगहें खाली पड़ी थीं और चीनी सैनिकों के वहां पहुंचने से पहले ही भारतीय जवानों ने रणनीतिक बढ़त हासिल कर ली। सूत्रों के मुताबिक, ऊंचाइयों पर पहुंचने में नाकाम चीनियों की हताशा के चलते ही सीमा पर लंबे अरसे बाद गोलियां चलीं। पैंगोंग झील के दक्षिणी तट पर हवा में फायरिंग की कम से कम तीन घटनाएं हुईं।

ये ठिकाने अब तक खाली पड़े हुए थे
सूत्रों के मुताबिक, ये ठिकाने अब तक खाली पड़े हुए थे। यहां कोई नहीं था। भारतीय सेना की इस पर नजर थी। चीनी सेना के कब्जे में जाने से पहले भारतीय जवानों ने इस पर कब्जा कर लिया। इस तरह LAC के पास भारतीय सेना को बढ़त मिल गई है।

चीनी सैनिकों ने किए थे हवाई फायर
हालांकि, चीनी सेना भी यहां कब्जे की फिराक में थी। मगर उसे मुंह की खानी पड़ी। वहीं, चीनी सैनिकों ने हमारे जवानों को धमकाने के लिए पैंगॉन्ग त्सो झील के दक्षिणी किनारे से तीन बार हवाई फायर भी किए थे।

LAC पर ब्लैक टॉप हिल और हेलमेट टॉप हिल चीन के हिस्से में
सूत्रों ने यह भी साफ कर दिया है कि ब्लैक टॉप हिल और हेलमेट टॉप हिल LAC पर चीनी हिस्से में आती हैं, जबकि भारतीय सेना ने जिन चोटियों पर कब्जा किया, वे हमारी तरफ हैं। चोटियों पर सेना के कब्जे के बाद चीनी सेना ने रेजांग और रेचेन ला के पास 3 हजार अतिरिक्त सैनिकों की तैनाती की है।

बीते कुछ हफ्तों से PLA की गतिविधियां बढ़ी 
बीते कुछ हफ्तों से चीन के हिस्से में आने वाला मॉल्डो गैरिसन में चीन की पीपुल्स लिबरेशन आर्मी (PLA) की गतिविधियां काफी बढ़ गई हैं। जब से सीमा पर चीन का अग्रेशन बढ़ा है, तब से राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार (एनएसए) अजीत डोभाल, चीफ ऑफ डिफेंस स्टाफ (CDS) बिपिन रावत और सेना प्रमुख मनोज मुकुंद नरवणे हालात पर नजर रखे हुए हैं।

एक्‍शन के बाद चीन ने बढ़ाए सैनिक
सूत्रों ने साफ किया कि ब्‍लैक टॉप और हेलमेट टॉप एलएएसी के उस पार हैं। भारतीय जवान जहां पर हैं, वह इलाके LAC के इस ओर आते हैं। भारत की इस कार्रवाई के बाद चीनी सेना ने 3,000 अतिरिक्‍त सैनिकों की तैनाती रेजांग ला और रेचिन ला के पास की हैं। इसमें PLA की इन्‍फैंट्री और आर्मर्ड यूनिट्स के जवान शामिल हैं। चीन सेना की मोल्‍दो यूनिट को पूरी तरह ऐक्टिवेट कर दिया गया है। पिछले कुछ हफ्तों में चीनी सेना ने सैनिकों की संख्‍या खासी बढ़ाई है।
 

खबरें और भी हैं...