जम्मू-कश्मीर: उपराज्यपाल मनोज सिन्हा ने की कोविड टास्क फोर्स के सदस्यों के साथ बैठक, स्थिति का लिया जायजा

November 7th, 2021

हाईलाइट

  • हमने टीकाकरण का समर्थन करने के लिए पर्याप्त आपूर्ति हासिल कर ली है- उपराज्यपाल

डिजिटल डेस्क, जम्मू। जम्मू-कश्मीर के उपराज्यपाल मनोज सिन्हा ने शनिवार को कोविड टास्क फोर्स के सदस्यों, उपायुक्तों और पुलिस अधीक्षकों के साथ कई बैठकों के दौरान जम्मू-कश्मीर में कोविड की स्थिति की समीक्षा की। उन्होंने कहा, सुक्षा की मेन-लाइन (मुख्य पंक्ति) अब टीकाकरण है। हमने टीकाकरण का समर्थन करने के लिए पर्याप्त आपूर्ति हासिल कर ली है और इसे अधिकतम करने के प्रयास किए जाने चाहिए।

सिन्हा ने अतिदेय दूसरी खुराक के 100 प्रतिशत कवरेज के लिए एक सप्ताह की समय-सीमा निर्धारित की। कोविड-19 प्रभावों को कम करने के लिए उन्हें प्रभावी और त्वरित कार्रवाई करने की आवश्यकता पर जोर देते हुए, उन्होंने वायरस के प्रसार को कम करने में मदद करने के लिए तेजी से स्पशरेन्मुख यानी बिना लक्षण वाले लोगों के परीक्षण और संपर्क ट्रेसिंग को महत्वपूर्ण उपकरण बताया। उपराज्यपाल ने कहा कि महामारी से निपटने के लिए जिले की योजना के लिए टेस्ट, ट्रेस और आइसोलेट तंत्र महत्वपूर्ण है। उन्होंने डीसी, एसपी और स्वास्थ्य विभाग को अस्पतालों, शॉपिंग कॉम्प्लेक्स और अन्य सार्वजनिक स्थानों पर कोविड के उचित व्यवहार को सख्ती से लागू करने का निर्देश दिया।

उन्होंने स्वास्थ्य विभाग को विशेष रूप से त्वरित कार्रवाई के लिए सभी प्रासंगिक डेटा की नियमित आधार पर निगरानी करने का निर्देश दिया। संबंधित अधिकारियों को यह सुनिश्चित करने के निर्देश भी जारी किए गए हैं कि सार्वजनिक समारोहों पर प्रतिबंध जारी रहे। इसके अलावा यह भी निर्देश दिए गए हैं कि प्राथमिकता के आधार पर पॉजिटिवि मामलों में वृद्धि दर्ज करने वाले क्षेत्रों में रेड जोन और माइक्रो कंटेनमेंट जोन घोषित किए जाएं।

(आईएएनएस)