comScore

Kanpur: विकास दुबे से मिलीभगत का आरोप में चौबेपुर के SHO विनय तिवारी सस्पेंड, पुलिस ने गिराया आरोपी का घर, जब्त होगी पूरी संपत्ति  

Kanpur: विकास दुबे से मिलीभगत का आरोप में चौबेपुर के SHO विनय तिवारी सस्पेंड, पुलिस ने गिराया आरोपी का घर, जब्त होगी पूरी संपत्ति  

हाईलाइट

  • विनय तिवारी पर एफआईआर दर्ज करने की तैयारी
  • प्रशासन ने जेसीबी से गिराया आरोपी विकास दुबे का घर
  • बैंक अकाउंट सीज, नेपाल बॉर्डर पर भी अलर्ट

डिजिटल डेस्क, कानपुर। कानपुर गोलीकांड में आठ पुलिसकर्मियों की शहादत के बाद मुख्य आरोपी गैंगस्टर विकास दुबे की तलाश जारी है। वहीं पुलिस ने चौ​बेपुर के थाना अध्यक्ष विनय तिवारी को सस्पेंड कर दिया है। बताया जा रहा है कि पुलिस के ही कुछ अफसरों ने गैंगस्टर विकास दुबे को पुलिस रेड की सूचना दे दी थी। इन अफसरों में फिलहाल विनय तिवारी का ना सामने आया है। कानपुर के आईजी मोहित अग्रवाल ने ये कार्रवाई की है। वहीं पुलिस आरोपी के घर को गिरा दिया है और अब उसकी प्रॉपर्टी को जब्त करने की तैयारी की जा रही है। 

बता दें कि बता दें कि उत्तरप्रदेश के कानपुर में गुरुवार रात करीब एक बजे हिस्ट्री शीटर विकास दुबे को पकड़ने गई पुलिस टीम पर बदमाशों ने अंधाधुंध गोलियां बरसा दी थीं। इसमें सर्कल ऑफिसर (DSP) और 3 सब इंस्पेक्टर समेत 8 पुलिसकर्मियों की मौत हो गई थी। वहीं घटना में करीब 12 पुलिसकर्मी और 7 स्थानीय लोग भी घायल हो गए थे। इसके बाद पुलिस ने जवाबी कार्रवाई में शुक्रवार को आरोपी विकास दुबे के मामा प्रेम प्रकाश पांडेय और उसके एक साथी अतुल दुबे को मार गिराया था। 

विनय तिवारी पर एफआईआर दर्ज करने की तैयारी
इस मामले में पुलिस को जांच के दौरान चौबेपुर के थानाध्यक्ष और कुछ दूसरे सिपाहियों के नाम सामने आए थे। विनय तिवारी चौबेपुर के थानाध्यक्ष हैं। इस जानकारी के आधार पर कार्रवाई करते हुए पुलिस ने विनय तिवारी को सस्पेंड कर दिया है। पुलिस को शक है कि विनय तिवारी ने ही गैंगस्टर विकास दुबे को उसके घर में रेड की सूचना दी है। सूत्रों के मुताबिक विनय तिवारी से एसटीएफ ने पिछले शाम को पूछताछ की थी। जांच में पता चला है कि विनय तिवारी ने कुछ दिनों पहले विकास चौबे के खिलाफ शिकायत दर्ज करने से इनकार कर दिया था। पुलिस अब विनय तिवारी के खिलाफ एफआईआर दर्ज करने की तैयारी कर रही है।

प्रशासन ने जेसीबी से गिराया आरोपी विकास दुबे का घर
वहीं कानपुर प्रशासन ने विकास दुबे के बिठुर स्थित आवास को गिरा दिया है। प्रशासन ने घर गिराने के लिए विकास दुबे की उसी जेसीबी का इस्तेमाल किया, जिसकी मदद से पुलिस टीम को घेरा गया था। वहीं प्रशासन, विकास दुबे की सारी पॉपर्टी जब्त करने की तैयारी कर ली है। प्रशासन उसकी सभी संपत्तियों की जांच करेगा। 

बैंक अकाउंट सीज, नेपाल बॉर्डर पर भी अलर्ट
पुलिस ने आरोपी के सभी बैंक अकाउंट्स भी सीज कर दिए हैं। विकास दुबे की तलाश में पुलिस की 20 टीमें अलग-अलग इलाकों में दबिश दे रही हैं। इन सभी इलाकों में विकास के परिवार वाले रहते हैं। नेपाल बॉर्डर पर भी अलर्ट जारी कर दिया गया है। विकास दुबे के फोटो चस्पा कर दिए गए हैं।

शहीद सिपाही की हथेली पर लिखा मिला वाहन नंबर, हो रही जांच
पुलिस टीम को जांच में नए-नए सुराग मिल रहे हैं। विकास दुबे की कॉल डिटेल खंगालने पर उसमें कुछ पुलिसवालों के भी नंबर मिले हैं, वहीं अब पुलिस को एक गाड़ी का नंबर भी मिला है। इस वाहन नंबर के सहारे जांच टीम जानकारी जुटाने की कोशिश कर रही है। बताया जा रहा है कि मुठभेड़ में शहीद हुए एक सिपाही ने दम तोड़ने से पहले अपनी हथेली पर यह वाहन नंबर लिखा था। उम्मीद जताई जा रही है कि शहीद सिपाही ने हथेली पर वाहन नंबर इसलिए लिखा होगा, ताकि बाद में जांच के दौरान पुलिस को कुछ पता चल सके।

अब तक 12 लोग हिरासत में
बता दें कि गैंगस्टर विकास दुबे की तलाश में शुक्रवार रात पुलिस की करीब 20 टीमें प्रदेश के अलग-अलग जिलों में दबिश देता रही। ये वो जगहें थी, जहां पर विकास दुबे के रिश्तेदार और परिचित रहते हैं। पुलिस ने इस मामले में 12 और लोगों को हिरासत में लिया है। पुलिस इनसे पूछताछ कर रही है। पुलिस ने इन लोगों को मोबाइल कॉल डिटेल के आधार पर उठाया है।

विकास की कॉल डिटेल में मिले पुलिसकर्मियों के नंबर
सूत्रों से जानकारी मिली है कि पिछले 24 घंटे में इन लोगों से विकास दुबे की बातचीत हुई थी। हैरानी की बात ये है कि विकास दुबे के फोन की कॉल डिटेल में कुछ पुलिसवालों के नंबर भी सामने आए हैं। ये बेहद हैरान करने वाला तथ्य है।

दारोगा ने दी विकास दुबे को रेड की सूचना
जानकारी के मुताबिक पुलिस की जांच में सामने आया है कि चौबेपुर थाने के ही एक दारोगा ने विकास दुबे को पुलिस के आने की जानकारी पहले ही दे दी थी। इस वक्त पुलिस के शक के घेरे में एक दारोगा, एक सिपाही और एक होमगार्ड है। तीनों की कॉल डिटेल के आधार पर पुलिस उनसे पूछताछ कर रही है।

मां ने कहा- एनकाउंटर में मार दो
विकास के साथ मुठभेड़ में 8 पुलिस जवानों की शहादत के बा उसकी मां ने भी अपने बेटे को भी मारने को कहा कि विकास की मां ने कहा कि उनके बेटे ने बहुत बुरा किया और अगर वो सरेंडर करता है तो ठीक है, नहीं तो पुलिस उसको भी एनकाउंटर में मार दे।

कमेंट करें
hckGS