comScore

© Copyright 2019-20 : Bhaskarhindi.com. All Rights Reserved.

Haryana: प्रदर्शनकारी किसानों ने महापंचायत में की तोड़फोड़, पुलिस ने आंसू गैस के गोले दागे, सीएम खट्टर को रद्द करना पड़ा कार्यक्रम


हाईलाइट

  • CM मनोहरलाल खट्टर ने रद्द की किसान बैठक
  • प्रदर्शकारी किसानों पर आंसू गैस के गोले दागे
  • किसानों ने कार्यक्रम के लिए लगाया गया टेंट उखाड़ा

डिजिटल डेस्क, चंडीगढ़। हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर ने करनाल में अपने किसान महापंचायत कार्यक्रम को रद्द कर दिया। केंद्र के तीन कृषि कानूनों का विरोध करते हुए किसानों ने इस कार्यक्रम के लिए लगाया गया टेंट उखाड़ दिया था और मंच को क्षतिग्रस्त कर दिया। इस वजह से कार्यक्रम को रद्द करना पड़ा। प्रदर्शनकारियों को रोकने के लिए पुलिस को हल्का लाठीचार्ज भी करना पड़ा। सैकड़ों किसानों को कैमला गांव में एक हेलीपैड तक पहुंचने से रोकने के लिए आंसू गैस और वाटर कैनन का इस्तेमाल किया गया

मनोहर लाल खट्टर के कार्यक्रम के लिए 1,500 से अधिक पुलिसकर्मियों को तैनात किया गया था। कार्यक्रम स्थल तक पहुंचने वाले रास्ते में सात चौकियों भी बनाई गई थी। हालांकि इन सब के बावजूद आंदोलनकारी किसान छह चौकियों को तोड़ने और हेलीपैड के पास पहुंचने में कामयाब रहे। इस वजह से अधिकारियों को खट्टर के हेलीकॉप्टर के लिए लैंडिंग स्पॉट को दूसरी जगह पर शिफ्ट करने के लिए मजबूर होना पड़ा। इसके बाद करीब प्रदर्शनकारी किसान महापंचयत के आयोजन स्थल की तरफ बढ़े जहां पर लगभग 2000 किसान मौजूद थे। इन किसानों में से ज्यादातर बीजेपी समर्थक थे। प्रदर्शनकारियों ने यहां कुर्सियां तोड़ दी, बैनर फाड़ दिए और तोड़फोड़ की।

बता दें कि भाजपा और जेजेपी के नेताओं को पिछले कई दिनों से विरोध का सामना करना पड़ रहा है। कुछ दिन पहले अंबाला में भी खट्टर का ऐसा ही विरोध हुआ था। इससे पहले गृहमंत्री अनिल विज, डिप्टी सीएम दुष्यंत चौटाला, कृषि मंत्री जे पी दलाल, शिक्षा मंत्री कंवर पाल और बीजेपी के विभिन्न सांसदों को अपने-अपने निर्वाचन क्षेत्रों में अपने निवासों के बाहर और सार्वजनिक कार्यक्रमों में प्रदर्शनकारी किसानों के विरोध का सामना करना पड़ा। किसानों ने शनिवार को बरवाला में बीजेपी के कार्यक्रम को बाधित किया, जिससे भारी अव्यवस्था हुई।

कमेंट करें
gqCbv