दैनिक भास्कर हिंदी: किसान आंदोलन: सुखबीर सिंह बादल ने भाजपा पर देश को तोड़ने का आरोप लगाया, कहा- देश में बीजेपी है असली टुकड़े-टुकड़े गैंग  

December 15th, 2020

हाईलाइट

  • कहा- पंजाब को सांप्रदायिक आग में धकेल रही है बीजेपी
  • किसान आंदोलन के दौरान देश को तोड़ने का आरोप लगाया
  • बादल परिवार की ओर से कृषि कानूनों का विरोध किया जा रहा

डिजिटल डेस्क, चंडीगढ़ किसान कृषि कानूनों को लेकर लगातार 20 दिन से आंदोलन कर रहे हैं। इस बीच मंगलवार को शिरोमणि अकाली दल प्रमुख सुखबीर सिंह बादल ने भारतीय जनता पार्टी पर किसान आंदोलन के दौरान देश को तोड़ने का आरोप लगाया। उन्होंने कहा है कि बीजेपी देश में असली टुकड़े-टुकड़े गैंग है। बादल ने कहा कि बीजेपी ने राष्ट्रीय एकता को टुकड़ों में तोड़ दिया है, बेशर्मी से मुसलमानों के खिलाफ हिंदुओं को उकसाया है और अब अपने सिख भाइयों के खिलाफ ऐसा कर रही है। भाजपा देशभक्ति वाले पंजाब को सांप्रदायिक आग में धकेल रही है।

सुखबीर सिंह बादल ने कहा कि बीजेपी ने राष्ट्रीय एकता को टुकड़ों में तोड़ दिया है, बेशर्मी से मुसलमानों के खिलाफ हिंदुओं को उकसाया है और अब अपने सिख भाइयों के खिलाफ ऐसा कर रही है। बीजेपी देशभक्ति वाले पंजाब को सांप्रदायिक आग में धकेल रही है। बादल ने ट्वीट कर कहा कि भाजपा असली टुकड़े-टुकड़े गैंग है। इस पार्टी ने ही राष्ट्रीय एकता को नुकसान पहुंचाया है। पहले तो इसने हिंदुओं को मुसलमानों से लड़ाने का काम किया और अब पंजाबी हिंदुओं को सिखों के खिलाफ और विशेषकर किसानों के खिलाफ भड़का रही है। उन्होंने कहा, वे देशभक्त पंजाब को सांप्रदायिक आग की लपटों में धकेल रहे हैं।

पूर्व उपमुख्यमंत्री, जिन्होंने पंजाब सरकार में भाजपा के साथ 10 साल का गठबंधन किया था, ने भाजपा की अगुवाई वाली सरकार को अपने अहंकार को अलग रख प्रदर्शनकारी किसानों की बात सुनने को कहा। उन्होंने कहा कि भी सत्तारूढ़ शासन के खिलाफ बोलता है, वे उन्हें टुकड़े टुकड़े गैंग कहते हैं। 

बता दें कि नए कृषि कानूनों के खिलाफ किसानों का आंदोलन दिल्ली की सीमाओं पर पिछले 20 दिनों से जारी है। केंद्र द्वारा लाए गए तीन कानूनों को वापस लेने की मांग को लेकर हजारों किसान दिल्ली की सीमा से लगते बॉर्डरों पर डटे हुए हैं, क्योंकि दिल्ली पुलिस उन्हें राष्ट्रीय राजधानी में प्रवेश करने की इजाजत नहीं दे रही है। इस बीच भाजपा नेताओं ने कहा कि टुकड़े-टुकड़े गैंग किसान प्रदर्शनों का फायदा उठा रहा है। इस पर शिरोमणि अकाली दल ने भाजपा पर निशाना साधते हुए उसे ही असली टुकड़े-टुकड़े गैंग करार दिया है।

हरसिमरत कौर ने दिया था इस्तीफा
बता दें कि बादल परिवार की ओर से कृषि कानूनों का विरोध किया जा रहा है। हरसिमरत कौर बादल ने केंद्रीय मंत्री के पद से इस्तीफा दे दिया था और केंद्र के नए कानूनों को किसानों के साथ बड़ा धोखा बताया था। सिर्फ इतना ही नहीं सुखबीर बादल ने अकाली दल के NDA से अलग होने का ऐलान करते हुए पंजाब के चुनावों में अकेला लड़ने की बात कही थी।

प्रकाश सिंह बादल ने अवॉर्ड लौटाया था 
इसी महीने पंजाब के पूर्व मुख्यमंत्री और अकाली दल के वरिष्ठ नेता प्रकाश सिंह बादल ने कृषि कानूनों के विरोध में अपना पद्म विभूषण सम्मान वापस कर दिया है। उनके अलावा अकाली दल के नेता रहे सुखदेव सिंह ढींढसा अभी अपना पद्म भूषण सम्मान लौटाने की बात कही थी। बता दें कि प्रकाश सिंह बादल एनडीए के उन नेताओं में रहे हैं, जिनके सार्वजनिक मंचों पर चरण छूकर नरेंद्र मोदी आशीर्वाद लेते रहे हैं। हालांकि, अब कृषि कानूनों पर बीजेपी और अकाली दल आमने-सामने आ गए हैं।

खबरें और भी हैं...