दैनिक भास्कर हिंदी: आंध्रप्रदेश अपराध स्थल से चांस फिंगरप्रिंट विकसित करने में सबसे आगे

September 11th, 2020

हाईलाइट

  • आंध्रप्रदेश अपराध स्थल से चांस फिंगरप्रिंट विकसित करने में सबसे आगे

अमरावती, 11 सितम्बर (आईएएनएस)। अपराध स्थल से जब चांस फिंगरप्रिंट्स विकसित करने की बात आती है तो, आंध्रप्रदेश पुलिस विभाग इसमें सबसे आगे है। साथ ही यह विभाग चांस फिंगरप्रिंट्स मामलों की पहचान करने में भी पहले स्थान पर है। नेशनल क्राइम रिकॉड्स ब्यूरो (एनसीआरबी) से यह जानकारी दी।

एक अधिकारी ने कहा, वर्ष 2019-2020 के लिए आंध्रप्रदेश पुलिस अपराध स्थल से चांस फिंगरप्रिंट्स को विकसित करने में प्रथम स्थान पर है। साथ ही चांस प्रिंट केसों की पहचान करने के मामलों में भी पुलिस बल ने सर्वोच्च स्थान हासिल किया है।

इस वर्ष, दक्षिणी राज्य ने 9,418 चांस फिंगर प्रिंट्स को विकसित किया, जो कि देश में अन्य राज्यों में सबसे ज्यादा है।

एनसीआरबी के अनुसार, फिंगरप्रिंट विशेषज्ञों की मुख्य जवाबदेही अपराध स्थल पर अपराधियों द्वारा छोड़े गए चांस प्रिट्स को विकसित करना है। ऐसा इसलिए किया जाता है ताकि मौजूदा अपराधियों के फिंगरप्रिंट्स के डाटा बैंक से इसका मिलान करवाया जा सके।

आरएचए/एएनएम