दैनिक भास्कर हिंदी: भारत पर हमला कर सकते हैं 400 फिदायीन आतंकी

May 25th, 2018

डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली। भारतीय एजेंसियों के हत्थे चढ़े लश्कर-ए-तैयबा के आतंकी जैबुल्लाह हमजा ने पूछताछ में कई सनसनीखेज खुलासे किए हैं। NIA की तरफ से स्पेशल कोर्ट में दायर की गई चार्जशीट में कहा गया है कि लश्कर-ए-तैयबा ने 400 फिदायीन हमलावरों को ट्रेनिंग दी है जो भारत में हमले के लिए तैयार हैं। बता दें कि कुछ दिन पहले सुरक्षा बलों ने फिदायीन आतंकी हमजा को पकड़ा था।

हाफिज सईद ने किया ब्रेन वॉश
जैबुल्लाह हमजा ने एजेंसियों को बताया कि लश्कर ने उसे ट्रेनिंग दी थी। ट्रेनिंग के बाद कत्लेआम करने के लिए उसे कश्मीर भेज दिया गया। चार लोगों के साथ मिलकर उसने लाइन ऑफ कंट्रोल पार की थी, जिनमें से दो लोग मारे गए। उसने बताया कि ट्रेनिंग के बाद आतंकी हाफिज सईद और ज़कीउर्रहमान लखवी ने उन लोगों से मुलाकात की और उनका ब्रेन वॉश कर दिया। हमजा ने कहा कि बॉर्डर क्रॉस करते वक्त एक भारतीय हेलीकॉप्टर की नजर उन पर पड़ गई। इसके बाद जैबुल्लाह और उसके साथियों की तरफ से फायरिंग की गई। इस दौरान उन्हें बचाने के लिए पाकिस्तानी पोस्ट की तरफ से भी फायरिंग हुई। 

वाई-एसएमएस सिस्टम मिला था
उसने बताया कि आपसी संपर्क के लिए उन लोगों को वाई-एसएमएस सिस्टम मिला था, जिसे सुरक्षा एजेंसियां ट्रैक नहीं कर सकती हैं। हमजा के मुताबिक उसे 2018 में बर्फानी प्रशिक्षण भी दिया गया था ताकि बर्फ में भी जीवित रहा जा सके। हमजा बोसान, मुल्तान का रहने वाला है उसके 8 भाई और 3 बहने हैं। उसके चचेरे भाई भी जिहाद करना चाहते हैं। 

यूएई से मिलता है लश्कर को फंड
हमजा ने ये भी बताया कि लश्कर-ए-तैयबा को यूएई से फंड मिलता है। हमजा के मुताबिक उन लोगों को लोलाब जाने के लिए कहा गया था, क्योंकि लश्कर के आतंकी वहां मारे गए थे और कहा गया था कि क्षेत्र में सक्रिय रहें और अगले आदेशों की प्रतीक्षा करें।