दैनिक भास्कर हिंदी: Lockdown: कोरोना वायरस के बीच 5 मई को 193 पाकिस्तानी नागरिकों को उनके घर भेजेगी केंद्र सरकार

May 3rd, 2020

हाईलाइट

  • भारत में फंसे पाकिस्तानी नागरिकों को घर भेजने की तैयारी
  • 5 मई को अटारी-वाघा बॉर्डर पर पहुंचने को कहा गया

डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली। राज्य पुलिस प्रमुखों को बाहरी राज्यों के मंत्रालय ने बताया है कि कोरोना वायरस लॉकडाउन के कारण भारत में फंसे 193 पाकिस्तानी नागिकों को उनके वतन भेजने की अनुमति दी गई है। पाक नागरिकों को मंगलवार 5 मई की सुबह अटारी-वाघा बॉर्डर पर पहुंचने के लिए कहा गया है। यहां उनकी वापसी की औपचारिकता और सीमा चौकी शुरू होगी। 

पाकिस्तान उच्चायोग ने भारत से देश के विभिन्न हिस्सों से अपने नागरिकों की आवाजाही को सुविधाजनक बनाने में मदद करने का अनुरोध किया था। कोरोना वायरस और लॉकडाउन के बीच देश से बाहर निकलने के लिए पाक नागरिकों का यह दूसरा समूह है। अप्रैल में पाकिस्तान लौटने वाला समूह छोटा था। इसमें दिल्ली, हरियाणा, उत्तरप्रदेश और पंजाब के लोग थे। 

 पाकिस्तान: कराची में जुमे की नमाज से रोकना पुलिस को पड़ा महंगा, लोगों ने दौड़ा-दौड़ा कर पीटा

5 मई को भेजे जाने वालों में 10 राज्यों के 25 जिलों के 193 लोग शामिल हैं। उनमें से अधिकांश शनिवार या रविवार को पंजाब के अटारी के लिए अपनी सड़क यात्रा शुरू करेंगे। वहीं कुछ लोग रविवार सुबह बंगाल के कोलकाता शहर से 1,700 किलोमीटर की सड़क यात्रा शुरू करेंगे। विदेश मंत्रालय के अतिरिक्त सचिव दम्मू रवि ने कहा कि सभी लौटने वाले पाक नागरिकों को भारत सरकार के अंतर्राष्ट्रीय
मानदंडों और मौजूदा प्रावधानों के अनुसार भेजा जाएगा।