दैनिक भास्कर हिंदी: मप्र के बड़े हिस्से में टिड्डी दल का फसलों पर हमला

May 26th, 2020

हाईलाइट

  • मप्र के बड़े हिस्से में टिड्डी दल का फसलों पर हमला

भोपाल, 26 मई (आईएएनएस)। मध्यप्रदेश के बड़े हिस्से में किसानों के लिए टिड्डी दलों का फसलों पर हमला मुसीबत बन गया है। किसान कीड़ों के झुंडों को भगाने के लिए ध्वनियंत्रों का सहारा ले रहे हैं और कीटनाशक का छिड़काव भी कर रहे हैं। फिर भी टिड्डी दल के हमले से फसलों को नुकसान हो रहा है।

राज्य के निमांड इलाके में लगभग चार दिन पहले राजस्थान की ओर से टिड्डी दल दाखिल हुए थे और ये दल कई किलोमीटर लंबे हैं। ये खेतों में उतरकर फसलों को नुकसान पहुंचा रहे हैं। टिड्डियों को खदेड़ने में किसान कोई कसर नहीं छोड़ रहे हैं। रातभर जाग रहे किसान ध्वनियंत्रों का उपयोग कर टिड्डी दल को आगे की ओर खदेड़ रहे हैं।

आधिकारिक जानकारी के अनुसार, उज्जैन संभाग के नीमच जिले के विकासखंड जावद के ग्राम प्रेमपुरा में 15 ट्रैक्टर-चालित स्प्रेपंप एवं तीन फायर ब्रिगेड एवं केंद्रीय टिड्डी नियंत्रण दल के चार स्प्रेयर युक्त वाहनों से कीटनाशकों का प्रयोग कर लगभग 8 से 10 किलोमीटर लंबे टिड्डी दल के 40 प्रतिशत तक टिड्डियों को नष्ट किया गया है। आगर-मालवा आदि क्षेत्रों में भी टिड्डी दल पहुंच चुका है।

इसके अलावा छतरपुर, टीकमगढ़, खरगौन, खंडवा, मंदसौर, रायसेन एवं सीहोर जिलों में टिड्डी दल सक्रिय हैं। रात में इनके ठहरने का ठिकाना पता चलने के बाद स्थानीय प्रशासन एवं केंद्रीय टिड्डी दल नियंत्रण दल के सहयोग से कृषि विभाग के अधिकारियों को प्रभावी कार्यवाही करने के लिए निर्देशित किया गया है। वहीं यह दल दतिया और श्योपुर भी पहुंच गया है।

प्रदेश में टिड्डी दल के पहुंचने के संबंध में सागर, उज्जैन, ग्वालियर, इंदौर, मुरैना, भोपाल एवं नर्मदापुरम संभाग के सभी जिलों को हाईअलर्ट किया गया है।

किसान कल्याण तथा कृषि विकास संचालक संजीव सिंह के अनुसार उज्जैन संभाग के नीमच जिले के मनासा विकासखंड के ग्राम कड़ीबुजुर्ग और आगर-मालवा जिले के बड़ोद विकासखंड के ग्राम डाबला में 10 ट्रैक्टर-चालित स्प्रेपंप एवं फायर ब्रिगेड की दो दमकल गाड़ियों से कीटनाशक का छिड़काव कर लगभग 70 से 80 प्रतिशत टिड्डी दलों को नष्ट किया गया। इसी तरह राज्य के अन्य हिस्सों में भी टिड्डी दलों पर नियंत्रण पाने के लिए प्रयास जारी है। कीटनाशक का छिड़काव किया जा रहा है।