दैनिक भास्कर हिंदी: MP: हिना कावरे बनीं विधानसभा उपाध्यक्ष, हंगामे के बाद सदन अनिश्चितकाल के लिए स्थगित

January 10th, 2019

हाईलाइट

  • भाजपा ने लगाया पक्षपात का आरोप
  • अध्यक्ष की तरह ही उपाध्यक्ष का चुनाव
  • 10 मिनट के लिए रोकी गई कार्रवाई

डिजिटल डेस्क, भोपाल। मध्य प्रदेश विधानसभा अध्यक्ष एनपी प्रजापति ने गुरुवार को विधायक हिना कांवरे को विधानसभा उपाध्यक्ष घोषित कर दिया है। हिना के नाम की घोषणा होने के बाद विपक्ष ने काफी हंगामा किया। हंगामे के बाद विधानसभा को अनिश्चितकाल के लिए स्थगित कर दिया गया है।

विपक्षी पार्टी भाजपा का आरोप है कि हिना के चयन में पक्षपात किया गया है। इस दौरान विपक्ष के हंगामे के बीच ही 22 हजार करोड़ का अनुपूरक बजट भी पास कर दिया गया। उपाध्यक्ष की घोषणा भी ठीक उसी तरह की गई जिस तरह मंगलवार को प्रोटेम स्पीकर ने अध्यक्ष की घोषणा की थी। हिना कावरे के पक्ष में कांग्रेस की तरफ सेस 4 प्रस्ताव आए। भाजपा के जगदीश देवड़ा के लिए आया प्रस्ताव पांचवा था। 


पहले आए प्रस्ताव के आधार पर ही विधानसभा अध्यक्ष ने हिना कावरे को उपाध्यक्ष घोषित कर दिया। घोषणा के बाद विपक्षी पार्टी ने हंगामा शुरू कर दिया, जिसके बाद 10 मिनिट के लिए कार्रवाई रोकनी भी पड़ी। पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज चौहान ने कार्रवाई शुरू होते ही सवर्ण आरक्षण बिल के लिए सरकार को धन्यवाद देना शुरू कर दिया। कांग्रेस सांसदों ने इसका विरोध करते हुए हंगामा कर दिया। विधानसभा अध्यक्ष ने कहा कि बिना अनुमति के आप कुछ नहीं बोल सकते हैं।