दैनिक भास्कर हिंदी: जाति की राजनीति : मायावती, तेजस्वी और चिदंबरम ने लगाए पीएम पर जात पर सियासत के आरोप

April 28th, 2019

हाईलाइट

  • मायावती ने प्रेस कांफ्रेंस कर साधा पीएम मोदी पर निशाना।
  • बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री तेजस्वी ने कहा कि मोदी जन्म से अगली जाति के हैं, लेकिन कागजी तौर पर पिछड़े हैं।
  • कांग्रेस के वरिष्ठ नेता पी पी चिदंबरम ने कहा कि मोदी आज खुद को जाति की राजनीति से ऊपर बता रहे हैं, जबकि 2014 का चुनाव उन्होंने इसी के बल पर लड़ा था।

डिजिटल डेस्क, लखनऊ। लोकसभा चुनाव के बीच जात-पात का खेल जारी है। बहुजन समाज पार्टी सुप्रीमो मायावती ने पीएम नरेंद्र मोदी पर आरोप लगाते हुए कहा है कि मोदी जन्म से पिछड़ी जाति के नहीं थे, उन्होंने केवल अपने सियासी फायदे और पिछड़े वर्ग के लोगों का हक मारने के लिए खुद को पिछड़ा बताया। मायावती ने प्रेस कांफ्रेंस कर मोदी के बयान पर भी पलटवार करते हुए कहा कि मोदी ने कन्नौज में कहा था कि उन्हें पिछड़ा होने के कारण विरोधियों ने नीच कहा, लेकिन ऐसा नहीं है हमने कभी भी उन्हें नीच नहीं कहा। बता दें कि पीएम मोदी ने कन्नौज में एक जनसभा के दौरान सपा-बसपा को जात-पात की राजनीति के मुद्दे पर जमकर घेरा था।

मायावती ने किया आरोपों से इंकार, कहा - कभी नहीं कहा नीच

एक प्रेस कांफ्रेंस के दौरान बसपा प्रमुख मायावती ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर अपनी जाति छुपाने का आरोप लगाया। मायावती ने कहा कि मोदी पहले अगड़ी जाति से आते थे, लेकिन बाद में पिछड़ी जाति में शामिल हो गए। मायावती ने मोदी के आरोपों का भी खंडन करते हुए कहा कि पीएम मोदी ने हम पर जो आरोप लगाया है, वह शरारतपूर्ण है और तथ्यों से एकदम अलग। हमने हमेशा उनको ऊंची जाति का ही माना है और कभी उनको नीच नहीं कहा। 

'मोदी हैं दलित विरोधी'
प्रेस कांफ्रेंस में मायावती ने पीएम मोदी पर दलित विरोधी होने का भी आरोप लगाया। मायावती ने कहा कि भारतीय जनता पार्टी कभी भी दलितों की मददगार साबित नहीं हुई, उन्होंने हमेशा दलित वर्ग के लोगों नीच समझा है।

मायावती ने कहा कि आगामी चुनावों में भाजपा और कांग्रेस को दलित कार्ड का भी कोई लाभ नहीं मिलेगा। उन्होंने कहा कि शायद मेरी प्रेस वार्ता के बाद मोदी खुद ही जात पात की राजनीति बंद कर दें।

भाजपा ने नहीं किया एक चौथाई भी काम

मायावती ने कहा कि भाजपा ने उत्तर प्रदेश में अभी तक एक चौथाई काम भी पूरा नहीं किया है। इस कारण से अभी तक हुए तीन चरणों में बीजेपी पीछे ही रह जाएगी। साथ ही मायावती ने दावा किया कि भारतीय जनता पार्टी का हाल बेहाल होने वाला है, यहां भाजपा बुरी तरह से हारेगी। बसपा सुप्रीमो ने गठबंधन पर बात करते हुए कहा कि अब तक हुए तीन चरणों में हमें जनता का अच्छा समर्थन मिला है।

तेजस्वी याजव ने भी लगाया आरोप

बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री तेजस्वी यादव ने भी प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर जाति के मुद्दे पर निशाना साधा। तेजस्वी ने कहा कि मोदी जन्म से अगड़ी जाति के हैं, लेकिन कागजी तौर पर पिछड़े हैं। पूर्व मुख्यमंत्री ट्वीट किया कि मैंने 20 अप्रैल को ही कह दिया था कि अपने आप को नक़ली OBC बताने के बाद मोदी जी अब अतिपिछड़ा बतायेंगे और कल उन्होंने बता भी दिया। अपने आप को दलित भी बता चुके है। कुछ भी कहे लेकिन सच्चाई यह है कि वो जन्मजात अगड़े हैं और कागज़ी पिछड़े है। वोट लेने के लिए वो क्या-क्या बोलते हैं?

 

लोगों को बेवकूफ बना रहे हैं पीएम मोदी : पी चिदंबरम
कांग्रेस के वरिष्ठ नेता पी चिदंबरम ने कहा कि मोदी आज खुद को जाति की राजनीति से ऊपर बता रहे हैं, जबकि 2014 का चुनाव उन्होंने इसी के बल पर लड़ा था। चिदंबरम ने ट्वीट किया कि मिस्टर नरेंद्र मोदी पहले व्यक्ति थे जो 2014 में जाति की राजनीति कर के प्रधानमंत्री बने थे। उन्होंने कहा था कि वे ओबीसी हैं, लेकिन अब कह रहे हैं कि अब वो जात पात की सियासत नहीं करते हैं।

 

खबरें और भी हैं...