दैनिक भास्कर हिंदी: जम्मू-कश्मीर में शांति के लिए वाजपेयी के फॉर्मूले को अपनाए केन्द्र सरकार : सीएम मुफ्ती

May 10th, 2018

डिजिटल डेस्क, श्रीनगर। जम्मू-कश्मीर सीएम महबूबा मुफ्ती ने केंद्र सरकार से रमजान और अमरनाथ यात्रा को देखते हुए सीमा पर एकपक्षीय सीजफायर करने की अपील की है। उन्होंने कहा है कि कश्मीर घाटी में बिगड़े हालात को सुधारने के लिए पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी द्वारा लगाए गए एकपक्षीय सीजफायर वाले फॉर्मूले को अपनाया जाना चाहिए। सीएम मुफ्ती ने यह बयान बुधवार को वर्तमान सुरक्षा व्यवस्था की समीक्षा के लिए बुलाए गई सर्वदलीय बैठक के बाद दिया है।

बैठक में सत्तारूढ़ पीडीपी और बीजेपी के साथ-साथ कांग्रेस समेत कई दलों ने हिस्सा लिया था। बैठक के बाद पत्रकारों से बात करते हुए महबूबा मुफ्ती ने कहा, 'सभी पार्टियों ने इस बात पर सहमति जताई है कि हम केन्द्र सरकार से अपील करेंगे कि जैसे साल 2000 में वाजपेयी जी ने एकपक्षीय युद्धविराम किया था, उसी तरह इस बार भी केन्द्र सरकार यही करे। आतंकियों के खिलाफ कार्रवाई से आम लोगों को भी खासी समस्याएं हो रही हैं। घाटी के माहौल को शांत करने के लिए हमें कोशिश करनी होगी ताकि रमजान और अमरनाथ यात्रा शांतिपुर्वक संपन्न हो सके।'

 


सीएम मुफ्ती ने यह भी कहा कि सभी ने सहमति जताई है कि अगर बीजेपी-पीडीपी गठबंधन का एजेंडा अगर फॉलो होता है तो जम्मू-कश्मीर में परिस्थितियां बदल जाएंगी। उन्होंने कहा, 'सभी दलों ने इस पर भी सहमति जताई है कि हम पीएम मोदी से मिलेंगे और अपनी चिंताओं से उन्हें अवगत कराएंगे।'
 


बता दें कि घाटी में तमिलनाडु के रहने वाले 22 वर्षीय पर्यटक थिरूमणि की मौत के बाद सीएम मुफ्ती ने यह बैठक बुलाई थी। पर्यटक थिरूमणि के वाहन को पत्थरबाजों ने निशाना बनाया था।