comScore

बयान: CAA पर बोले माइक्रोसॉफ्ट CEO सत्या नडेला- 'देश में जो हो रहा है वह दुखद'


हाईलाइट

  • सत्य नडेला ने सीएए पर दिया बड़ा बयान
  • कहा- इंफोसिस का अगला सीईओ अप्रवासी बांग्लादेशी को देखना चाहूंगा

डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली। देशभर में नागरिकता संशोधन कानून 10 जनवरी से लागू हो गया है। इसके लेकर कई हिस्सों में विरोध प्रदर्शन हो रहा है। अब सीएए पर माइक्रोसॉफ्ट के सीईओ सत्य नडेला ने बयान दिया है। उन्होंने देश के मौजूदा हालात पर चिंता जाहिर की है। नडेला ने सोमवार को एक कार्यक्रम में कहा कि मुझे लगता है जो हो रहा हैं वो दुखद है। मैं एक ऐसे बांग्लादेशी अप्रवासी को देखना चाहूंगा जो भारत आता है और अगला इंफोसिस का सीईओ बनता है।

रामचंद्र गुहा ने किया स्वागत
इतिहासकार रामचंद्र गुहा ने सत्य नडेला के बयान का स्वागत किया है। उन्होंने ट्वीट कर लिखा कि मैं खुश हूं कि नडेला ने वो कहा जो महसूस करते है। मैं चाहता हूं कि हमारे अपने आईटी सेक्टर के लोगों में वह कहने का साहस हो जो वह सोचते हैं।

क्या है नागरिकता संशोधन कानून (CAA)?
नागरिकता कानून साल 1955 में आया था। इसके तहत किसी भी व्यक्ति को भारतीय नागरिकता लेने के लिए कम से कम 11 वर्ष भारत में रहना होगा। संशोधित विधेयक में पड़ोसी देशों अफगानिस्तान, बांग्लादेश और पाकिस्तान के अल्पसंख्यक शरणार्थियों (हिंदू, सिख, जैन, बौद्ध, पारसी और ईसाई) को नागरिकता मिलने का समय घटाकर 11 साल से 6 साल किया गया है। मुस्लिमों और अन्य देशों के नागरिकों के लिए यह अवधि 11 साल रहेगी। 

कमेंट करें
nS4sG