दैनिक भास्कर हिंदी: मां ने सल्फास खाकर दुधमुंही बच्ची को पिलाया दूध, दोनों की मौत

April 12th, 2018

डिजिटल डेस्क छिंदवाड़ा/पांढुर्ना ।  मां की ममता के जैसा और कोई सुख नही। मां चाहे खुद तकलीफ में रहे, पर अपने बच्चों की तकलीफ नही देख सकती। मां तो खुद जहर का असर होने से तड़प रही थी, पर अपनी लाड़ली को भूख से व्याकुल देख वह खुद को संभालने के बजाय बच्ची को दूध पिलाने लगी। पर उसे क्या पता था कि जिस ममता से वह अपने बच्ची को दूध पिला रही है, वह दूध ही उसके लिए मौत का कारण बनेगा। पांढुर्ना के महावीर वार्ड में ऐसा ही दर्दनाक वाक्या सामने आया। जिसमें जहर का सेवन करने वाली विवाहिता सहित उसकी आठ महीने की बच्ची ने भी दम तोड़ दिया।
बताया जा रहा है कि महावीर वार्ड की रहने वाली भारती पति भूषण राउत ने पारिवारिक कलह के चलते बुधवार की सुबह सल्फास पाउडर का सेवन कर लिया था। सल्फास का असर होते ही भारती को उल्टियां होने लगी। इस बीच भूख से व्याकुल उसकी आठ महीने की बच्ची सेजल उर्फ छकुली रोने लगी। सेजल को रोता देख भारती ने उसे सीने से लगा लिया और दूध पिलाने लगी, उसे क्या पता था कि सल्फास का असर उसके शरीर के कतरे-कतरे में समा गया है। भारती भी इस बात से अनजान थी, पर अपने ममताभरे मन से सेजल को दूध पिलाने लगी। इस दौरान सेजल की हालत भी बिगड़ गई। बिगड़ती हालत देख दोनों को उपचार के लिए सरकारी अस्पताल लाया गया, जहां चिकित्सकों ने प्राथमिक उपचार के बाद दोनों को नागपुर रेफर कर दिया। चिकित्सकों ने बताया कि सल्फास का असर भारती के पूरे शरीर में फैल गया था, जिससे उसने बच्ची को जो दूध पिलाया, वह भी जहरीला बन गया।
पहले बच्ची, फिर मां ने तोड़ा दम:
स्थानीय सरकारी अस्पताल में दोनों का प्राथमिक उपचार करने वाले चिकित्सक डॉ.एन. गोन्नाड़े ने बताया कि सल्फास सबसे तेज जहर है और भारती के पूरे शरीर में उसका असर तेजी से फैल गया था। बच्ची की स्थिति भी नाजुक थी। दोनों को नागपुर रेफर कर दिया गया था। परिजनों ने बताया कि नागपुर जाते समय भारती अपनी बच्ची सेजल को ही निहारते रही। इस दौरान तड़पकर पहले सेजल ने दम तोड़ा, फिर भारती की भी सांसें थम गई। यह मंजर देख परिजनों की आंखें आंसू नही रोक पाई।
पारिवारिक कलह से परेशान थी भारती
परिजनों ने बताया कि भारती पारिवारिक कलह से परेशान थी। महावीर वार्ड में ही भारती का मायका और ससुराल भी है। घटना के दिन सुबह भारती ने काम पर जा रहे अपने परिजनों के लिए टिफिन तैयार किए। इसके पहले भी पति-पत्नी का विवाद हुआ था। सभी के जाने के बाद उसने सल्फास पाउडर का सेवन कर लिया। इस बीच बच्ची को भी दूध पिलाया। जिससे दोनों की हालत बिगड़ गई। दोनों को तड़पता देख पास में रहने वाली चाची ने स्थानीय लोगों की मदद से उन्हें अस्पताल पहुंचाया।