comScore

पानी-पानी मायानगरी : जनजीवन अस्तव्यस्त, सरकार ने मांगी एनडीआरएफ की छह टुकड़ी, तस्वीरों में हाल-ए-मुंबई

पानी-पानी मायानगरी : जनजीवन अस्तव्यस्त, सरकार ने मांगी एनडीआरएफ की छह टुकड़ी, तस्वीरों में हाल-ए-मुंबई

हाईलाइट

  • बारिश से पानी-पानी हुई मायानगरी मुंबई
  • बस, रेल, हवाई सेवाएं ठप
  • मुंबई के लिए अगले 24 घंटे मुश्किलों भरे- मौसम विभाग

डिजिटल डेस्क, मुंबई। राजधानी बारिश से हाल बेहाल है। सरकार ने मुंबई और आसपास के जिलों में अतिवृष्टि के कारण पैदा हुई स्थिति से निपटने के लिए राष्ट्रीय आपदा मोचन बल (एनडीआरएफ) के छह और टुकड़ियां उपलब्ध कराने की मांग की है। सरकार ने मुंबई, ठाणे और पालघर में हो रही अतिवृष्टि के मद्देनजर अधिक बल मांगा है। रविवार को मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस ने गोंदिया से भारी बारिश की स्थिति को लेकर ठाणे के पालकमंत्री एकनाथ शिंदे से फोन पर बातचीत की। मुख्यमंत्री ने शिंदे से ठाणे शहर समेत जिले में शुरू मदद कामों की जानकारी हासिल की। मुख्यमंत्री ने प्रदेश सरकार के मुख्य सचिव अजोय मेहता को भी अलग-अलग जगहों पर शुरू मदद कार्य में समन्वय बनाए रखने के निर्देश दिए। मुख्यमंत्री ने कहा कि आपातकालीन परिस्थिति पर मुंबई महानगर पालिका और उसके आपदा प्रबंधन प्रकोष्ठ के माध्यम से देखरेख किया जा रहा है। मुख्यमंत्री ने कहा कि मुंबई शहर समेत पूरे महानगर परिसर में अतिवृष्टि से उत्पन्न हुई परिस्थिति का सामना करने के लिए राज्य सरकार तैयार है। सरकार एनडीआरएफ, थलसेना, नौसेना और अन्य एजेंसियों के संपर्क में है। 

मुंबई में कक्षा 11 वीं प्रवेश के लिए अवधि बढ़ी  

डिजिटल डेस्क, मुंबई। मुंबई शहर, उपनगर समेत ठाणे जिले में शनिवार रात से हो रही भारी बरसात के कारण कक्षा 11 वीं की तीसरी मेरिट लिस्ट की प्रवेश प्रक्रिया की अवधि एक दिन बढ़ाकर 6 अगस्त कर दी गई है। रविवार को राज्य के स्कूली शिक्षा मंत्री आशीष शेलार ने यह घोषणा की। शेलार ने कहा कि कक्षा 11 वीं में तीसरी मेरिट लिस्ट के अनुसार प्रवेश प्रक्रिया 5 अगस्त के बजाय 6 अगस्त शाम 5 बजे तक शुरू रहेगी। 

भारी बरसात से मुंबई और आसपास के ज़िलों में जनजीवन अस्तव्यस्त 

मुंबई और आसपास के जिलों में पिछले दो दिनों से जारी मूसलाधार के चलते जनजीवन अस्तव्यस्त हो गया है। मुंबई के साथ पालघर और ठाणे ज़िलों के निचले इलाके जलमग्न हो गए। कई इलाकों से लोगों को निकालने के लिए सेना की भी मदद लेनी पड़ी। रविवार को मध्य और हार्बर उपनगरीय रेल सेवा लगभग ठप रही। बारिश का असर मेल और एक्सप्रेस ट्रेनों पर भी पड़ा नागपुर से चली दूरंतो मुंबई नही पहुंच सकी और ट्रेन इगतपुरी में ही रद्द करनी पड़ी। इसके अलावा महानगर में दो अलग-अलग हादसों में तीन लोगों की मौत हो गयी है। सांताक्रुज के पटेल नगर इलाके में बिजली का करंट लगने से माला नगम (50) और उनके बेटे संकेत नगम (22) की मौत हो गयी। प्राप्त जानकारी के मुताबिक अडानी पावर के मीटर बॉक्स से दोनों बिजली की चपेट में आए। इसके अलावा धारावी इलाके में राजा महबूब शेख (23) नाम का एक व्यक्ति पानी में बह गया। गोरेगांव के राजीव गांधी नगर में पहाड़ी का हिस्सा गिरने से चार लोग जख्मी हो गए।ज्यादातर निचले इलाकों में जलजमाव के चलते लोगों को काफी परेशानी हुई। सड़क यातायात पर भी इसका असर पड़ा।

सेना की मदद से फंसे लोगों को निकाला


ठाणे जिले के खडवली इलाके में 58 गांव वाले फंस गए। जिला प्रशासन लोगों तक नही पहुंच पा रहा था जिसके बाद सेना की मदद मांग गई। सेना ने स्क्वाड्रन लीडर सुभाष की अगुआई में एमआई 17 हेलिकॉप्टर की मदद से 16 बच्चों समेत सभी 58 लोगों को सुरक्षित ठाणे एयरफोर्स स्टेशन पहुँचाया। पालघर जिले के बरंडा गांव में भी फंसे 15 लोगों को सुरक्षित निकालने के लिए वायु सेना के हेलीकॉप्टर की मदद ली गई। इसके अलावा मीठी नदी का जलस्तर खतरे का निशान पार करने के बाद क्रान्तिनगर इलाके में रहने वाले 400 लोगों को सुरक्षित स्थानों तक पहुचाया गया है। विभिन्न जिलों के स्थानीय प्रशासन और पुलिस ने भी निचले इलाकों में फंसे सैकड़ो लोगो को सुरक्षित स्थानों तक पहुचाया है।

मुंबई नही पहुची नागपुर से निकली दूरंतो

शनिवार को नागपुर से निकली दुरंतो मुंबई नही पहूंच पाई। पटरियों पर जलजमाव और पहाड़ियों से मलबा गिरने के चलते इगतपुरी में रद्द कर दी गई। रविवार को नागपुर जाने वाली दूरंतो, अमरावती एक्सप्रेस भी दर्जनों रद्द गाड़ियों की सूची में शामिल थीं। जालना-दादर जनशताब्दी एक्सप्रेस को भी भासवली में रदद् कर दिया गया। 

जारी रहेगी बरसात

मौसम विभाग के मुताबिक मुंबई और आसपास के इलाकों में अगले 48 घंटों तक रुक रुक कर बरसात का सिलसिला जारी रहेगा। निचले इलाकों में रहने वाले लोगों को एहतियात बरतने की हिदायत दी गयी है।


 

कमेंट करें
aQW4U