comScore

एनसीईआरटी का 2020-21 के लिए का नया रोडमैप जारी

June 24th, 2020 18:00 IST
 एनसीईआरटी का 2020-21 के लिए का नया रोडमैप जारी

हाईलाइट

  • एनसीईआरटी का 2020-21 के लिए का नया रोडमैप जारी

नई दिल्ली, 24 जून (आईएएनएस)। कोरोना संकट काल के कारण बदलते परिवेश में मानव संसाधन विकास मंत्रालय ने एनसीईआरटी के लिए शैक्षणिक सत्र 2020-21 का रोडमैप जारी किया है। यह रोडमैप मानव संसाधन विकास मंत्रालय के स्कूली शिक्षा विभाग ने तैयार किया है।

आत्म निर्भर भारत के तहत मूलभूत साक्षरता और संख्यात्मकता मिशन की स्थापना और परिणाम आधारित समग्र शिक्षा के लिए एनसीईआरटी को इस इस रोडमैप को प्रभावी तरीके से लागू करना होगा और इसके लिए संसाधन विकसित करने होंगे।

इस अवसर पर मानव संसाधन विकास मंत्री मंत्री रमेश पोखरियाल निशंक ने कहा, हमें आने वाले समय में शिक्षा के प्रारूप और प्रणाली को बदलना होगा, ताकि हम शिक्षा को देश के हर कोने तक पहुंचा सकें। जारी किए जा रहे रोडमैप के जरिए एनसीईआरटी इस काम को पूरा करेगी। हमें पूरी उम्मीद है कि कोरोना संकट काल को जिस प्रकार से अभी तक हमने एक अवसर के रूप में बदला है उसी प्रकार आगे भी हम सब न्यू नार्मल को अपनाते हुए भारतीय शिक्षा प्रणाली को एक नया आयाम देंगे।

लनिर्ंग आउटकम के लिए विभाग ने एनसीईआरटी को जो सुझाव दिए हैं, उसके अंतर्गत कक्षा 1-5 तक के लिए अक्टूबर 2020 तक और कक्षा 6-12 तक के लिए लनिर्ंग आउटकम समझाते हुए इन्फोग्राफिक्स पोस्टर्स प्रस्तुतियां तैयार करनी है।

कक्षा 1-5 के अध्यापकों के लिए ऑनलाइन टीचर ट्रेनिंग कोर्स चरणबद्ध तरीके से दिसंबर 2020 तक पूरा किया जाना है और कक्षा 6-12 के अध्यापकों के लिए ट्रेनिंग कोर्स चरणबद्ध तरीके से जून 2021 तक पूरा किया जाना है।

कक्षा 1-5 तक के छात्रों के लिए चरणबद्ध तरीके से दिसंबर 2020 तक वैकल्पिक शैक्षिक सामग्री तैयार कर ली जाए, खासकर उन बच्चों के लिए जिनके पास किसी प्रकार की ऑनलाइन सुविधा नहीं है। इसी प्रकार कक्षा 6-12 के लिए ये सामग्री चरणबद्ध तरीके से जून 2021 तक तैयार करनी है।

प्रत्येक कक्षा के लिए प्रत्येक विषय के लनिर्ंग आउटकम के मूल्यांकन के लिए कुशलता के दो स्तरों पर कम से कम 10 प्रश्न कक्षा 1-5 तक के लिए नवंबर 2020 तक और बाकी कक्षाओं के लिए मार्च 2021 तक बनाने हैं।

कमेंट करें
wsRXW