दैनिक भास्कर हिंदी: निर्भया की बरसीः 8 साल बाद मिला था न्याय, मां ने कहा 'मैं चुप नहीं बैठूंगी'

December 16th, 2020

हाईलाइट

  • आज है निर्भया गैंगरेप की बरसी
  • निर्भया की मां लड़ेंगी दूसरी बच्चियों के इंसाफ की लड़ाई
  • सरकार को कानून सुधारने की जरुरत है- मां आशा देवी

डिजिटल डेस्क,दिल्ली। साल 2012 में हुए निर्भया गैंगरेप घटना की आज बरसी हैं। इस घटना ने पूरे देश का दिल दहला कर रख दिया था।जिसके बाद दोषियों को फांसी के फंदे तक पहुंचानें में निर्भया के माता-पिता को 8 साल की लंबी लड़ाई लड़नी पड़ी। मां आशा देवी ने निर्भया की बरसी पर कहा कि,मेरी बेटी को न्याय मिल गया है, लेकिन इसका मतलब यह नहीं है कि मैं चुप बैठूंगी। मैं सभी बलात्कार पीड़ितों को न्याय दिलाने के लिए लड़ती रहूंगी।

निर्भया की मां ने कहा, मेरी बेटी को इंसाफ मिल गया है और चार दोषियों को फांसी हुई। 2012 के बाद मैं 8 साल लड़ी। हम आगे भी दूसरी बच्चियों के इंसाफ के लिए लड़ते रहेंगे। जो हर साल हम प्रोग्राम करते थे इस साल कोरोना की वजह से नहीं कर पाएंगे लेकिन ऑनलाइन प्रोग्राम करेंगे।

आशा देवी ने आगे कहा कि, कोई भी वर्तमान में देश में बने रेप कानून से नही डरता है। कानून में जो भी कमी है सरकार को उस पर ध्यान देते हुए दूर करने की जरुरत है। हाथरस केस को ही देखने से पता लगता है कि, हमारा सिस्टम और सरकार जब जिम्मेदारी से काम करेगा तभी अपराध रुकेंगे।

 

 

खबरें और भी हैं...