comScore

नोएडा : साबित हुआ, विदेश से लौटे लोग ही फैला रहे कोरोना, परिवार के 3 लोग मुसीबत में

March 29th, 2020 09:23 IST
नोएडा : साबित हुआ, विदेश से लौटे लोग ही फैला रहे कोरोना, परिवार के 3 लोग मुसीबत में

हाईलाइट

  • नोएडा : साबित हुआ, विदेश से लौटे लोग ही फैला रहे कोरोना, परिवार के 3 लोग मुसीबत में

गौतमबुद्ध नगर, आईएएनएस। स्थानीय शहर नोएडा-ग्रेटर नोएडा में यह तय हो चुका है कि कोरोना जैसी महामारी शहर में विदेश से लौटे लोग लेकर आए हैं। इन्हीं लोगों से उनके परिवारों और परिचितों में यह रोग फैला। ऐसा ही एक मामला डेनमार्क से लौटने वाले एक शख्स के परिवार का सामने आया है।

इसके अलावा एक कंपनी में ऑडिट के लिए पहुंचे विदेश मूल के ऑडिटर की वजह से भी कई लोगों में कोरोना फैला। जिला प्रशासन और जिला एवं स्वास्थ्य विभाग ने मामले को छिपाने की आरोपी कंपनी के खिलाफ ही आपराधिक मामला दर्ज करने का आदेश दे दिया है।

शनिवार को आईएएनएस को यह जानकारी अधिकृत आदेश के जरिये गौतमबुद्धनगर जिले के मुख्य चिकित्सा अधिकारी ने दी। उनके मुताबिक, जिले में अब तक 23 कोरोना-पॉजिटिव के मामले सामने आ चुके हैं। इनमें से सबसे महत्वपूर्ण और लापरवाहीपूर्ण मामला सिद्धार्थ सक्सेना का है। सिद्धार्थ डेनमार्क गए थे। डेनमार्क से जब वे लौटे तो उनके घर में कुल 10 सदस्य मौजूद थे। उन सभी 10 का कोरोना टेस्ट कराया गया। इन सदस्यों में से सिद्धार्थ सक्सेना, उनकी मां और भतीजा की रिपोर्ट पॉजिटिव आई। तीनों में कोरोना वायरस फैलने का सोर्स साफ-साफ नजर आ चुका था और यह कि इन तीनों में एक-दूसरे से हुए संक्रमण के चलते बीमारी फैली है।

जिले के मुख्य चिकित्साधिकारी के मुताबिक, सीजफायर कंपनी में वहां के प्रबंध निदेशक बीती 1 मार्च 2020 को यूके से भारत लौटे थे। जबकि उनके स्टाफ अफसर यूके से 7 मार्च को लौटे। इतना ही नहीं, इनकी कंपनी का 14,15 व 16 मार्च 2020 को तीन दिन तक विदेश से बुलाया गया एक ऑडीटर कंपनी का ऑडिट करके वापस चला गया।

सीएमओ के मुताबिक, विदेश ऑडिटर को कंपनी में बुलाकर तीन दिन तक उससे ऑडिट करवाया गया। इसकी भी जानकारी कंपनी प्रबंधन द्वारा छिपाई गई। इस बारे में कंपनी ने स्वास्थ्य विभाग को भी नहीं दी। इस लापरवाही के चलते कंपनी से जुड़े लोगों और उनके परिवार के 13 लोग कोरोना से संक्रमित हो गए। लिहाजा, इसे जानबूझ कर की गई लापरवाही माने जाने के चलते आरोपी कंपनी प्रबंधन के खिलाफ तुरंत आपराधिक मामला दर्ज करने के आदेश दे दिए गए हैं।

आईएनएस के पास मौजूद जिला मुख्य चिकित्सा अधिकारी के अधिकृत बयान के मुताबिक, कोरोना पॉजिटिव का एक मामला ग्रेटर नोएडा स्थित सेक्टर जीटा-1 में भी मिला है। यहां स्थित एटीएस कालोनी में दक्षिण अफ्रीका से वाया तुर्की भारत लौटा शख्स कोरोना पॉजिटिव पाया गया है।

सीएमओ ने बताया कि इन तमाम मामलों के सामने आने से यह तथ्य पुष्ट होता है कि इलाके में कोरोना संक्रमण फैलाने के लिए वे ही लोग जिम्मेदार हैं, जो विदेश यात्रा से लौटे हैं। ऐसे में सोशल डिस्टेंसिंग और हैंड सेनिटेशन ही बचाव का एकमात्र विकल्प बचता है।

कमेंट करें
dvcCy