comScore

पाक हिंदू शरणार्थी को नहीं मिली 12वीं परीक्षा देने की इजाजत, शिक्षा मंत्री ने कहा- नियम बदल देंगे

पाक हिंदू शरणार्थी को नहीं मिली 12वीं परीक्षा देने की इजाजत, शिक्षा मंत्री ने कहा- नियम बदल देंगे

हाईलाइट

  • दमी कोहली ने 2018 में स्कूल में प्रवेश लिया था
  • दमी ने पाकिस्तान से 10वीं की परीक्षा पास की है
  • शिक्षामंत्री गोविंद सिंह डोटासरा ने दिया अनुमति दिलाने का भरोसा

डिजिटल डेस्क, जोधपुर। एक पाकिस्तानी हिंदू शरणार्थी लड़की को राजस्थान शिक्षा बोर्ड ने परीक्षा देने की परमिश्न नहीं दी है। युवती का नाम दमी कोहली है। दमी से 12वीं परीक्षा में शामिल होने से पहले योग्यता प्रमाण पत्र मांगा गया था। अब इसको लेकर विवाद बढ़ता जा रहा है। राजस्थान सरकार के शिक्षामंत्री गोविंद सिंह डोटासरा ने कहा है, अगर जरूरत पड़ी तो हम परीक्षा के नियमों में बदलाव करेंगे, ताकि दमी कोहली एग्जाम दे पाएं। 

2018 में लिया एडमिशन
दमी कोहली ने 2018 में स्कूल में प्रवेश लिया था। 1 साल में उन्होंने 11वीं की परीक्षा पास की। दमी के पास मार्कशीट भी है, लेकिन बोर्ड परीक्षा से पहले उन्हें एक नोटिस मिला है। जिसमें बताया गया है कि वह परीक्षा नहीं दे सकती। वहीं इस बारे में दमी का कहना है कि उसने स्कूल में सभी प्रमाण पत्र दिए हैं। उसे एग्जाम देने का पूरा अधिकार मिलना चाहिए। 

सिंध प्रांत से भारत आई
दमी कोहली कुछ साल पहले पाकिस्तान के सिंध प्रांत से भारत आई। दमी ने पाकिस्तान से 10वीं की परीक्षा पास की है। कोहली फिलहाल आंगनवाड़ा रिफ्यूजी कैंप में रह रही है। जो जोधपुर से 20 किमी दूर है। यहां उसने एक स्थानीय स्कूल में 11वीं में साइंस सब्जेक्ट में एडमिशन लिया है। 

कमेंट करें
qL3im