दैनिक भास्कर हिंदी: कांग्रेस को सिखों से मतलब नहीं था, इसीलिए आज करतारपुर पाकिस्तान में है : मोदी

December 4th, 2018

हाईलाइट

  • करतारपुर को लेकर पीएम मोदी ने सादा कांग्रेस पर निशाना
  • मोदी बोले- तत्कालीन कांग्रेस सरकार की गलतियों के चलते पाकिस्तान का हिस्सा बन गया करतारपुर
  • हाल ही में करतारपुर में गुरुद्वारा दरबार साहिब जाने के लिए भारत-पाक के बीच करतारपुर कॉरिडोर प्रोजेक्ट शुरू हुआ है

डिजिटल डेस्क, जयपुर। करतारपुर कॉरिडोर के सहारे पीएम मोदी ने कांग्रेस पर निशाना साधा है। पीएम ने कहा है कि  कांग्रेस ने कभी सिख समुदाय की भावनाओं का खयाल नहीं रखा, इसीलिए करतारपुर, पाकिस्तान के हिस्से में चला गया। उन्होंने कहा कि कांग्रेस यदि गुरू नानक जी के महत्व को समझती तो आज करतारपुर, पाकिस्तान में नहीं बल्कि हिंदुस्तान में होता।

पीएम ने कहा, 'स्वतंत्रता के बाद से कांग्रेस की गलतियों की सजा हम आज तक भुगत रहे हैं। कांग्रेस की दूरदर्शिता में कमी और संवेदशीलता के अभाव के कारण गुरु नानक देव जी से जुड़ा महत्वपूर्ण स्थल करतारपुर साहिब पाकिस्तान में चला गया। उस दौर में कांग्रेस नेताओं को गुरू नानक देव के महत्व के बारे में कोई ज्ञान नहीं था और न ही सिख समुदाय के लिए उनके मन में कोई संवेदनशीलता थी। इसीलिए उन्होंने करतारपुर दरबार साहिब को भारत में लाने का प्रयास नहीं किया।'

राजस्थान के हनुमानगढ़ में एक चुनावी रैली को संबोधित करते हुए पीएम ने कहा, 'कांग्रेस सत्ता की भूखी है और उसे राजगद्दी के लिए अलावा कुछ नहीं दिखता। ये गुरु परंपरा का आशीर्वाद ही है जिससे हमारी सरकार ने ये कॉरिडोर बनाने का निर्णय लिया। आज अगर करतापुर कॉरिडोर का शिलान्यास हुआ है तो उसकी वजह आपका वोट है।'

गौरतलब है कि भारत और पाकिस्तान दोनों देशों में करतारपुर कॉरिडोर का शिलान्यास हो चुका है। इस कॉरिडोर का निर्माण भारत-पाकिस्तान मिलकर कर रहे हैं, ताकि भारत के सिख श्रद्धालु पाकिस्तान में रावी नदी के तट पर स्थित गुरुद्वारा दरबार साहिब में मत्था टेक सकें।