comScore

Coronavirus: कोरोना संकट पर पीएम मोदी ने 7 राज्यों के CM से बात की, हालात की जानकारी ली

Coronavirus: कोरोना संकट पर पीएम मोदी ने 7 राज्यों के CM से बात की, हालात की जानकारी ली

हाईलाइट

  • पीएम मोदी ने रविवार को 7 राज्यों के मुख्यमंत्रियों से टेलीफोन पर बात की
  • मुख्यमंत्रियों से कोरोनावायरस के तेजी से फैलते संक्रमण को लेकर बात की

डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने रविवार को बिहार, असम, आंध्र प्रदेश, तेलंगाना, तमिलनाडु, हिमाचल प्रदेश और उत्तराखंड के मुख्यमंत्रियों कोरोनावायरस की स्थिति को लेकर टेलीफोन पर बात की। हाल के दिनों में देश में कोरोना संक्रमण में तेजी से इजाफा हुआ है। संक्रमण के तेजी से बढ़ते मामलों को लेकर विपक्ष भी सवाल खड़ा कर रहा है। इंडियन मेडिकल असोसिएशन (IMA) का कहना है कि देश के कुछ इलाकों में कोरोना का कम्यूनिटी ट्रांसमिशन शुरू हो चुका है।

24 घंटों में कोरोनावायरस के 38,902 मामले
भारत में पिछले 24 घंटों में कोरोनावायरस के 38,902 मामले सामने आए हैं। इसी के साथ भारत में कोरोनावायस से संक्रमित मरीजों की संख्या 10 लाख 77 हजार 618 तक पहुंच गई है। आंध्र प्रदेश की 5,041 नए मामलों के साथ कोरोना संक्रमितों की संख्या 49,650 हो गई। वहीं मरने वालों की संख्या 642 पर पहुंच गई है। जबकि तमिलनाडु में 4,979 नए मामले और 78 मौतें दर्ज की गईं। इसी के साथ यहां कोरोना संक्रमितों की संख्या 1,70,693 और मरने वालों की संख्या 2,481 पर पहुंच गई।

कोरोना से सर्वाधिक प्रभावित राज्यों में महाराष्ट्र शीर्ष पर
कोरोना से सर्वाधिक प्रभावित राज्यों में महाराष्ट्र शीर्ष पर है। महाराष्ट्र में कोरोना संक्रमितों का कुल आंकड़ा 3,00,937 तक पहुंच गया है और 11,596 लोगों के अब तक जान चुकी है। इसके साथ ही करीब 60,000 मामलों के साथ कर्नाटक नया हॉटस्पॉट राज्य है। मुंबई से अब तक एक लाख से अधिक संक्रमित मरीजों की पुष्टि होने के बाद शनिवार को इसने तीन लाख का आंकड़ा पार कर लिया है। इसके बाद कुल 1,65,714 मामलों के साथ तमिलनाड़ु सूची में दूसरे स्थान पर है। यहां 2,403 मरीजों की मौत हो चुकी हैं। दूसरी ओर, राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में आंकड़े सुधारात्मक है। यहां वायरस से उबरने वाले लोगों की संख्या अन्य किसी भी राज्य से काफी अधिक है।

24 घंटे में 3,58,127 नमूनों की जांच की गई
बीते 24 घंटे में 3,58,127 नमूनों की जांच की गई है क्योंकि परीक्षण प्रयोगशाला नेटवर्क का विस्तार निरंतर जारी रहा। जिन राज्यों में 10,000 से अधिक मामले दर्ज किए गए हैं उनमें कर्नाटक (59,652), गुजरात (47,390), उत्तर प्रदेश (47,036), राजस्थान (28,500), मध्य प्रदेश (21,763), पश्चिम बंगाल (40,209), हरियाणा (25,547), आंध्र प्रदेश (44,609), तेलंगाना (43,780), आसाम (22,918), जम्मू व कश्मीर (13,198), केरल (11,659), ओडिशा (16,701) और बिहार (25,136) शामिल हैं।

कमेंट करें
BgEUK