comScore

© Copyright 2019-20 : Bhaskarhindi.com. All Rights Reserved.

छत्तीसगढ़: कांग्रेस भवन में घुसी पुलिस, कार्यकर्ताओं को घसीटकर निकाला बाहर, डंडों से पीटा

September 19th, 2018 18:19 IST

हाईलाइट

  • लाठीचार्ज से बचकर यहां-वहां भागते नजर आए कांग्रेसी
  • पुलिस की कार्रवाई में दर्जनों कांग्रेसी घायल हो गए हैं
  • पुलिस के इस एक्शन की हर तरफ आलोचना हो रही है

डिजिटल डेस्क, रायपुर। छत्तीसगढ़ के बिलासपुर में पुलिस ने कांग्रेस कार्यालय से कार्यकर्ताओं को निकालकर घसीट-घसीटकर पीटा। लाठीचार्ज के दौरान कांग्रेस कार्यकर्ता यहां-वहां दौड़ते भागते नजर आए। पुलिस की कार्रवाई में दर्जनों कांग्रेसी घायल हो गए, जिसके बाद पुलिस के इस कदम की आलोचना हो रही है। घटना के विरोध में बुधवार को पूरे छत्तीसगढ़ में कांग्रेस पुतला दहन करने वाली है। मुख्यमंत्री रमन सिंह घटना की न्यायिक जांच के आदेश दिए हैं।

राहुल गांधी ने ट्वीट किया वीडियो

सीएम रमन ने दिए मजिस्ट्रियल जांच के आदेश
कांग्रेसियों पर हुए लाठीचार्ज को लेकर छत्तीसगढ़ की सियासत गर्मा गई है। बैकुंठपुर में प्रेस कॉन्फ्रेंस में सीएम रमन सिंह ने कहा है कि बिलासपुर में मंत्री के घर में कचरा फेंकना और कांग्रेस भवन में लाठीचार्ज दोनों ही घटनाएं गलत हैं और वो इसकी निंदा करते हैं। सीएम ने पूरे घटनाक्रम की मजिस्ट्रियल जांच के आदेश दे दिए गए है और कहा कि जांच के बाद ही आगे की कार्रवाई तय होगी। 


मंत्री के घर कचरा फेंकने से नाराज हुई पुलिस
कांग्रेस कार्यकर्ता मंगलवार को छत्तीसगढ़ के नगरीय प्रशासन मंत्री अमर अग्रवाल के घर का घेराव करने पहुंचे थे। प्रदर्शन कर रहे कांग्रसियों ने मंत्री के बंगले के अंदर कचरा फेंक दिया। इसके बाद पुलिस नाराज हो गई और कार्यकर्ताओं पर लाठीचार्ज कर दिया। पुलिस कार्यकर्ताओं को बंगले पर ही गिरफ्तार करना चाहती थी, लेकिन वो प्रदर्शन कर कार्यालय लौट आए। उनके पीछे-पीछे पुलिस भी कांग्रेस भवन पहुंच गई। कार्यकर्ताओं ने गिरफ्तारी देने से इनकार कर दिया। इसके बाद पुलिसकर्मी कांग्रेस कार्यालय में घुस गए और लाठीचार्ज कर दिया। पुलिस को जो भी दिखा उस पर लाठी बरसाना शुरू कर दिया। कई कार्यकर्ताओं को घसीटकर कार्यालय से बाहर निकाला। इसके बाद सभी को गिरफ्तार कर लिया गया। लाठीचार्ज में घायल दर्जनभर कार्यकर्ताओं को सिम्स अस्पताल में भर्ती कराया गया है।

इसलिए प्रदर्शन कर रहे थे कांग्रेसी
छग के नगरीय प्रशासन मंत्री अमर अग्रवाल ने कांग्रेस को 'कचरा' कहकर संबोधित किया था, जिसके विरोध में कांग्रेस कार्यकर्ता विरोध-प्रदर्शन करने पहुंचे थे। विरोध प्रदर्शन में तकरीबन 150 से ज्यादा कार्यकर्ता शामिल थे।

कमेंट करें
sRGal
कमेंट पढ़े
gurmeet singh September 23rd, 2018 10:20 IST

Almighty is watching

Suresh September 19th, 2018 14:33 IST

jai shree ram

Gopal Bhati gopal bhati77 September 19th, 2018 12:12 IST

Gopal Bhati gopal bhati77

NEXT STORY

Real Estate: खरीदना चाहते हैं अपने सपनों का घर तो रखे इन बातों का ध्यान, भास्कर प्रॉपर्टी करेगा मदद

Real Estate: खरीदना चाहते हैं अपने सपनों का घर तो रखे इन बातों का ध्यान, भास्कर प्रॉपर्टी करेगा मदद

डिजिटल डेस्क, जबलपुर। किसी के लिए भी प्रॉपर्टी खरीदना जीवन के महत्वपूर्ण कामों में से एक होता है। आप सारी जमा पूंजी और कर्ज लेकर अपने सपनों के घर को खरीदते हैं। इसलिए यह जरूरी है कि इसमें इतनी ही सावधानी बरती जाय जिससे कि आपकी मेहनत की कमाई को कोई चट ना कर सके। प्रॉपर्टी की कोई भी डील करने से पहले पूरा रिसर्च वर्क होना चाहिए। हर कागजात को सावधानी से चेक करने के बाद ही डील पर आगे बढ़ना चाहिए। हालांकि कई बार हमें मालूम नहीं होता कि सही और सटीक जानकारी कहा से मिलेगी। इसमें bhaskarproperty.com आपकी मदद कर सकता  है। 

जानिए भास्कर प्रॉपर्टी के बारे में:
भास्कर प्रॉपर्टी ऑनलाइन रियल एस्टेट स्पेस में तेजी से आगे बढ़ने वाली कंपनी हैं, जो आपके सपनों के घर की तलाश को आसान बनाती है। एक बेहतर अनुभव देने और आपको फर्जी लिस्टिंग और अंतहीन साइट विजिट से मुक्त कराने के मकसद से ही इस प्लेटफॉर्म को डेवलप किया गया है। हमारी बेहतरीन टीम की रिसर्च और मेहनत से हमने कई सारे प्रॉपर्टी से जुड़े रिकॉर्ड को इकट्ठा किया है। आपकी सुविधाओं को ध्यान में रखकर बनाए गए इस प्लेटफॉर्म से आपके समय की भी बचत होगी। यहां आपको सभी रेंज की प्रॉपर्टी लिस्टिंग मिलेगी, खास तौर पर जबलपुर की प्रॉपर्टीज से जुड़ी लिस्टिंग्स। ऐसे में अगर आप जबलपुर में प्रॉपर्टी खरीदने का प्लान बना रहे हैं और सही और सटीक जानकारी चाहते हैं तो भास्कर प्रॉपर्टी की वेबसाइट पर विजिट कर सकते हैं।

ध्यान रखें की प्रॉपर्टी RERA अप्रूव्ड हो 
कोई भी प्रॉपर्टी खरीदने से पहले इस बात का ध्यान रखे कि वो भारतीय रियल एस्टेट इंडस्ट्री के रेगुलेटर RERA से अप्रूव्ड हो। रियल एस्टेट रेगुलेशन एंड डेवेलपमेंट एक्ट, 2016 (RERA) को भारतीय संसद ने पास किया था। RERA का मकसद प्रॉपर्टी खरीदारों के हितों की रक्षा करना और रियल एस्टेट सेक्टर में निवेश को बढ़ावा देना है। राज्य सभा ने RERA को 10 मार्च और लोकसभा ने 15 मार्च, 2016 को किया था। 1 मई, 2016 को यह लागू हो गया। 92 में से 59 सेक्शंस 1 मई, 2016 और बाकी 1 मई, 2017 को अस्तित्व में आए। 6 महीने के भीतर केंद्र व राज्य सरकारों को अपने नियमों को केंद्रीय कानून के तहत नोटिफाई करना था।