दैनिक भास्कर हिंदी: अक्षय के साथ इंटरव्यू में पीएम ने खोले कई राज, 'ममता दी और गुलाम नबी से है गहरी दोस्ती'

April 24th, 2019

हाईलाइट

  • अक्षय कुमार के साथ इंटरव्यू में पीएम मोदी ने खोले कई राज।
  • परिवार के अलावा विपक्षी नेताओं के साथ संबंधों को लेकर चर्चा।
  • पीएम ने कहा- ममता और गुलाम नबी से है गहरी दोस्ती।

डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली। लोकसभा चुनाव के बीच एक इंटरव्यू में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अपने निजी जीवन से जुड़े कई राज खोले हैं। बॉलीवुड एक्टर अक्षय कुमार के साथ इंटरव्यू में राजनीति से अलग हटकर पीएम मोदी के निजी जीवन को लेकर चर्चा हुई। इंटरव्यू में पीएम ने अपने परिवार से लेकर विपक्षी नेताओं के साथ निजी संबंधों के बारे में बताया। पीएम ने बताया कि राजनीति से अलग ममता बनर्जी और गुलाम नबी आजाद से उनकी गहरी दोस्ती है।

पीएम मोदी ने राजनीतिक लोगों से अपने रिश्तों के बारे में जानकारी देते हुए बताया, ममता दीदी साल में आज भी मेरे लिए एक-दो कुर्ते भेजती हैं। बांग्लादेश की प्रधानमंत्री शेख हसीना जी साल में 3-4 बार खास तौर पर ढाका से मिठाई भेजती हैं। ममता दीदी को पता चला तो वो भी साल में एक-दो बार मिठाई जरूर भेज देती हैं।

राजनेताओं से दोस्ती का जिक्र करते हुए पीएम ने एक पुराना किस्सा सुनाया। उन्होंने कहा, जब मैं सीएम भी नहीं था, किसी काम से मैं संसद में गया था। गुलाम नबी आजाद और मैं गप्पे मार रहे थे। मीडिया वालों ने पूछा आप आरएसएस वाले हो, गुलाम नबी से आपकी दोस्ती कैसे है। इस पर गुलाम नबी ने बहुत अच्छा जवाब दिया कि बाहर जो आप देखते हैं ऐसा नहीं है। एक परिवार के रूप में जैसे सभी दलों के नेता जुड़े हुए हैं, उसकी आप कल्पना भी नहीं कर सकते।

आप परिवार के साथ क्यों नहीं रहते? अक्षय कुमार के इस सवाल का जवाब देते हुए पीएम ने कहा, मन करता है तो कभी मां को बुला लिया, उनके साथ कुछ दिन बिताए। फिर मां कहती है कि मेरे पीछे समय क्यों बर्बाद करते हो, मैं यहां क्या करूं, गांव में लोग आते हैं, बाते करते हैं। मैं भी समय नहीं दे पाता हूं। एक-दो बार साथ में खाना खा लेता था।

अक्षय ने पूछा आपका घर इतना बड़ा है। आपका मन करता है आपके मां-भाई आपके साथ घर पर रहें? पीएम ने जवाब में कहा, अगर मैं पीएम बनकर घर से निकलता तो शायद मन करता लेकिन मैं बहुत छोटी आयु में घर से निकला था, उसके बाद जिंदगी डिटैच हो गई। मेरी ट्रेनिंग उस तरह से हुई है। एक अवस्था में छोड़ा तो मुश्किल होती है। जिस वक्त घर छोड़ा था उस वक्त तकलीफ हुई होगी लेकिन अब जिंदगी वैसी बन गई।

पीएम बनने को लेकर मोदी ने कहा, कभी भी ऐसा ख्याल नहीं आया कि मैं प्रधानमंत्री बनूंगा। उन्होंने कहा, जो पीएम बन जाते हैं उन सभी के दिमाग में भी ऐसा नहीं रहा होगा। हां, अगर किसी का परिवार ऐसा होता है तो बात अलग है। पीएम मोदी ने बताया, प्रधानमंत्री तो दूर की बात है अगर उन्हें छोटी सी नौकरी भी मिल जाती तो उनकी मां खुश हो जातीं। नरेंद्र मोदी ने कहा, जीवन चलता गया और पीएम बन गया।

खबरें और भी हैं...