दैनिक भास्कर हिंदी: राहुल ने प्रवासियों से रेल किराया वसूलने पर केंद्र की आलोचना की

May 4th, 2020

हाईलाइट

  • राहुल ने प्रवासियों से रेल किराया वसूलने पर केंद्र की आलोचना की

नई दिल्ली, 4 मई (आईएएनएस)। कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने भारतीय रेलवे द्वारा प्रवासियों से टिकट के पैसे वसूलने और कोरोनावायरस के प्रसार को रोकने पीएमकेयर फंड में 151 करोड़ रुपये का चंदा देने की खबरों पर सोमवार को केंद्र सरकार की आलोचना की। उन्होंने सरकार से गुत्थी को सुलझाने के लिए कहा।

राहुल की यह टिप्पणी कांग्रेस की अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी द्वारा यह घोषणा करने के बाद आई है कि पार्टी कोविड-19 के प्रसार का मुकाबला करने के लिए देशव्यापी लॉकडाउन के बीच देश भर में फंसे प्रवासियों के रेल टिकट का खर्च वहन करेगी।

राहुल गांधी ने एक ट्वीट में कहा, एक तरफ रेलवे दूसरे राज्यों में फंसे मजदूरों से टिकट के पैसे वसूल रही है, वहीं दूसरी तरफ रेल मंत्रालय पीएम केयर फंड में 151 करोड़ रुपये का चंदा दे रहा है। जरा यह गुत्थी सुलझाइए।

प्रवासियों से रेल टिकटों का भुगतान करने के लिए कहे जाने की खबरों के बीच राहुल ने यह टिप्पणी की है।

रेलवे ने देश के विभिन्न राज्यों में फंसे छात्रों, मजदूरों, तीर्थयात्रियों और पर्यटकों को उनके मूल स्थानों पर पहुंचाने के लिए श्रमिक स्पेशल ट्रेनें चलाने का निर्णय लिया है।

1,200 यात्रियों के साथ पहली श्रमिक स्पेशल ट्रेन तेलंगाना से झारखंड के लिए एक मई को रवाना हुई थी, जो यात्री, मेल और एक्सप्रेस ट्रेनों की सेवाएं निलंबित होने के लगभग 40 दिन बाद रवाना हुई थी।

तब से रेलवे ने राज्य सरकारों के अनुरोध पर 25 से अधिक ट्रेनों का परिचालन किया है।

रेलवे ने पहले कहा कि वह राज्य सरकारों से श्रमिक स्पेशल ट्रेन के टिकट के पैसे ले रहा है।

रेलवे ने यह भी स्पष्ट किया कि श्रमिक स्पेशल ट्रेनें राज्य सरकारों द्वारा पहचाने गए और पंजीकृत नामांकित लोगों के लिए हैं और रेलवे किसी भी व्यक्ति को कोई टिकट जारी नहीं करेगा या किसी भी समूह के अनुरोध को नहीं मानेगा।

वहीं, सोनिया गांधी ने घोषणा की है कि कांग्रेस देश के कई हिस्सों में फंसे मजदूरों और प्रवासियों के ट्रेन टिकट का खर्च वहन करेगी।