दैनिक भास्कर हिंदी: 'मोदी जी हमें सौंप दें सरकार, 6 महीने में पूरे कर देंगे सारे वादे'

October 5th, 2017

डिजिटल डेस्क,अमेठी। कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी बुधवार को करीब 6 महीने बाद अपने गढ़ अमेठी के तीन दिवसीय दौरे पर पहुंचे। यहां उन्होंने केंद्र सरकार और पीएम मोदी को आड़े हाथ लेते हुए कहा कि सरकार देश के लोगों की मूलभूत सुविधाओं को पूरा नहीं कर पाई है। मोदी जी अपनी कही एक भी बात को लागू नहीं कर पाए हैं। राहुल ने आगे कहा कि अगर देश के पीएम से सरकार नहीं चल पा रही तो कांग्रेस को दे दें, हम सरकार चला लेंगे और 6 महीनें में सारे वादे भी पूरे कर देंगे।

 

 

किसान और रोजगार का मसला सुलझाएं मोदी
राहुल ने कहा इस सरकार ने आज तक वादाखिलाफी के अलावा किया क्या है। देश की जनता को बस पागल बनाया है। दौरे के पहले ही दिन कांग्रेस उपाध्यक्ष जगदीशपुर के कठौरा गांव में चौपाल लगाई। जहां राहुल ने कहा, 'दो मुद्दे हैं हिंदुस्तान में, किसान और रोजगार का मसला। इनका समाधान सरकार को करना चाहिए। मोदी जी अगर इन समस्याओं का समाधान नहीं कर सकते तो कह दें कि वह नहीं कर सकते। कहें कांग्रेस पार्टी आ जाए और वो मेरा काम कर दे तो हम वो काम 6 महीने के अंदर करके दिखा देंगे।'

 

 

सब तो ‘मेड इन चाइना’ है
युवा देश की जान होते हैं। उनसे देश चलता है लेकिन पीएम देश के युवाओं को रोजगार देने में असमर्थ है। राहुल ने कहा कि मोदी ने खुद अमेठी में कहा कि दो करोड़ युवाओं को हर साल रोजगार देंगे। हिन्दुस्तान में हर रोज 30 हजार युवा रोजगार ढूंढने निकलते हैं लेकिन इनमें से केवल 450 लोगों को ही रोजगार मिलता है। भाजपा और राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के लोग पहले इसका जवाब दें। उन्होंने कहा कि हमारा मुकाबला चीन के साथ है। चीन और भारत की आबादी में ज्यादा फर्क नहीं है और दोनों ही बड़े देश हैं। चीन में हर रोज 50 हजार नए युवाओं को रोजगार मिलता हैं, लेकिन हिन्दुस्तान में रोज केवल 450 युवा रोजगार पाते हैं। उन्होंने कहा कि चीन से मुकाबले की आवश्यकता है। लेकिन कैसे करेंगे मुकाबला मोबाइल फोन हो, वस्त्र हों या चप्पल, सब पर तो ‘मेड इन चाइना’ लिखा होता है।

राहुल गांधी ने कहा, जब तक हम मेड इन इंडिया, मेड इन अमेठी और मेड इन उत्तर प्रदेश नहीं करेंगे, तब तक ये देश आगे नहीं जा सकता और मोदी जी को देश का समय जाया करना बंद करना चाहिए और युवाओं को रोजगार देना शुरू करना चाहिए।

जीएसटी को समझा नहीं है गलत जीएसटी लागू कर दिया 
राहुल ने नोटबंदी के फैसले के बाद देश की गिरती जीडीपी को लेकर सवाल उठाए। इसके साथ ही राहुल ने जीएसटी पर सवाल उठाते हुए कहा, 'मोदी सरकार ने 5 अलग-अलग टैक्स लगाए। 28 प्रतिशत तक टैक्स लगा दिया। हर प्रदेश में अलग-अलग टैक्स लगा दिया। छोटे दुकानदारों को काफी मुश्किल हो रही है। किसी का 18 किसी का 2 किसी का 28 प्रतिशत टैक्स। इन्होंने जीएसटी को समझा नहीं है, गलत जीएसटी लागू कर दिया है। अब छोटा व्यापारी व्यापार करे या महीने में 3 फॉर्म भरे। हर छोटा दुकानदार तंग आ गया है। लोग रो रहे हैं।' 


राहुल ने कहा, 'जीएसटी का लक्ष्य जैसा मोदी सरकार कहा कि एक देश एक टैक्स। कांग्रेस पार्टी ने कहा था कि एक टैक्स होना चाहिए और 18 प्रतिशत से ज्यादा नहीं होना चाहिए। बीजेपी ने 28 प्रतिशत टैक्स लगा दिया। छोटे दुकानदारों से थोड़ी बातचीत करनी चाहिए थी। कहा था जनता का फायदा होगा, युवाओं का फायदा होगा, लेकिन ऐसा कुछ भी नहीं हुआ।'

मनरेगा अब अच्छी योजना हो गई 
राहुल ने मनरेगा को लेकर भी मोदी सरकार को तल्ख तेवर में कहा कि पीएम मोदी ने कहा कि नरेगा बिल्कुल बेकार चीज है। कुछ महीने बाद बात समझ में आई और वही पीएम कहते हैं कि इस योजना में फायदा है।

आपको बता दें इससे पहले राहुल गांधी के अमेठी दौरे पर विवाद खड़ा हो गया था। राहुल 4 से 6 अक्टूबर तक अमेठी के दौरे पर हैं। जिला प्रशासन ने पहले उनके दौरे को हरी झंडी नहीं दी थी, हालांकि बाद में प्रशासन ने दौरे को मंजूरी दे दी।