comScore

राहुल ने केरल CM को लिखी चिट्ठी, मासूम की मौत पर मुआवजे की अपील

राहुल ने केरल CM को लिखी चिट्ठी, मासूम की मौत पर मुआवजे की अपील

हाईलाइट

  • राहुल ने सीएम पिनरई से की छत्रा के परिवार को मुआवजा देने की अपील
  • प्रदेश स्वास्थ्य मंत्री ने भी इलाज करने वाले डॉक्टर को निलंबित करने के आदेश दिए
  • सरकारी स्कूल में सांप के काटने से शहला ने गंवाई थी जान

डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली। वायनाड सांसद और कांग्रेस के पूर्व राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी ने सरकारी स्कूल की एक छात्रा की मौत होने के बाद केरल के मुख्यमंत्री पिनरई विजयन को चिट्ठी लिखी है। राहुल ने अपनी चिट्ठी में सीएम पिनरई से छात्रा के परिवार को मुआवजा देने की अपील की है। बता दें कि गुरुवार की सुबह केरल में वायनाड के एक सरकारी स्कूल में सांप के कांटने से शहला शरीन नाम की एक 10 वर्षीय छात्रा ने अपनी जान गंवा दी थी। इस मामले में एक शिक्षक को लापरवाही के कारण निलंबित कर दिया गया था।

जिम्मेदार लोगों पर सख्त कार्रवाई : सीएम पिनरई

राहुल की चिट्ठी मिलने के बाद सीएम पिनरई ने कहा है कि सांप के काटने के कारण छात्रा की मौत होने पर जिन लोगों से भारी चूक हुई है, उन सभी जवाबदारों पर कड़ी से कड़ी कार्रवाई की जाएगी।

स्वास्थ्य मंत्री ने दिए जांच के आदेश
प्रदेश की स्वास्थ्य मंत्री केके शैलजा ने भी मामले में जांच के आदेश दिए हैं। साथ ही उन्होंने बाथरी तालुक के अस्पताल में उपस्थित और मासूम के इलाज करने वाले डॉक्टर को निलंबित करने का भी आदेश दिया है।

क्या है मामला
वायनाड के सुल्तान बत्तेरि शहर के शासकीय सर्वजन व्यावसायिक स्कूल में सांप के काटने से 10 वर्षीय शहला की मौत हो गई थी।शहला कक्षा 5वीं में अध्ययनरत थी। उसके परिजनों और उसके सहपाठियों के मुताबिक स्कूल में एक शिक्षक ने उसे तुरंत अस्पताल ले जाने से मना कर दिया। 

सांप के कांटने के करीब 30 मिनट बाद उसके परिजनों द्वारा एक निजी अस्पताल ले जाया गया था, जहां से उसे कोझिकोड मेडिकल कॉलेज के लिए रेफर कर दिया गया। शहला की तबीयत इतनी बिगड़ चुकी थी कि उसने कोझिकोड मेडिकल कॉलेज पहुंचने से पहले ही रास्ते में अपना दम तोड़ दिया था।

जब इस घटना की जानकारी शिक्षा विभाग को मिली, तो प्रदेश के शिक्षा मंत्री प्रोफेसर सी रवींद्रनाथ ने जांच के आदेश दिए। जांच में शिक्षक की लापरवाही सामने आई, क्योंकि उसने शहला के बिगड़ते स्वास्थ्य को गंभीरता से नहीं लिया। इस लापरवाही के कारण साजिल को निलंबित कर दिया गया, जो स्कूल में शिक्षक था। साजिल पर आगे की कार्रवाई जारी है।

कमेंट करें
UZaRF